Gwalior : एम्बुलेंस चालक ने जेएएच सुपरवाईजर को धुना, एफआईआर दर्ज
एम्बुलेंस चालक ने जेएएच सुपरवाईजर को धुना, एफआईआर दर्जसांकेतिक चित्र

Gwalior : एम्बुलेंस चालक ने जेएएच सुपरवाईजर को धुना, एफआईआर दर्ज

ग्वालियर, मध्यप्रदेश : एम्बुलेंस चालकों के हौंसले कितने बुलंद हैं, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि गाड़ी हटाने की कहने पर उन्होंने एक सुरक्षा सुपरवाईजर को धुन दिया।

ग्वालियर, मध्यप्रदेश। एम्बुलेंस चालकों के हौंसले कितने बुलंद हैं, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि गाड़ी हटाने की कहने पर उन्होंने एक सुरक्षा सुपरवाईजर को धुन दिया। घटना की जानकारी सुपरवाईजर ने अपने वरिष्ठ अधिकारियों को दी। जानकारी लगते ही सिक्योरिटी चीफ मौके पर पहुंचे और कम्पू थाना में एफआईआर दर्ज कराई है।

जयारोग्य और कमलाराजा अस्पताल में सुरक्षा का काम देखने वाले सिक्योरिटी चीफ परवेज खान ने बताया कि हमारे सुरक्षा सुपरवाईजर अजीत सिंह तोमर की ड्यूटी शुक्रवार को केआरएच पर लगी थी। शाम को एम्बुलेंस क्रमाक एमपी 07 डीए 0536 अटेण्डर वाले गेट पर आकर खड़ी हो गई। इस पर अजीत ने इसे वहां से हटाने के लिए कहा। हटाने की बात कहने पर एम्बुलेंस चालक कपिल परिहार व उसके अन्य दो साथी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने अजीत के साथ मारपीट कर दी। इसकी एफआईआर अजीत सिंह तोमर ने कम्पू थाने में दर्ज कराई है।

अधीक्षक का यह है आदेश :

जयारोग्य अस्पताल अधीक्षक डॉ.आरकेएस धाकड़ के सुरक्षा कर्मियों को स्पष्ट निर्देश हैं कि अस्पताल में रजिस्टर्ड एम्बुलेंस के अलावा कोई भी अवैध एम्बुलेंस खड़ी नहीं होगी। अधीक्षक के आदेश का पालन करते हुए सुपरवाईजर ने उस एम्बुलेंस चालक से एम्बलेंस हटाने के लिए कहा था।

पहले भी हो चुकी है कार्रवाई :

5 अगस्त 2021 को अधीक्षक के निर्देश पर अस्पताल प्रबंधन ने परिसर का निरीक्षण किया था। उस दौरान भी एम्बुलेंस क्रमांक एमपी 07 डीए 0536 अपने निर्धारित स्थान पर खड़ी ना होकर परिसर में खड़ी मिली थी। जब भी इस एम्बुलेंस के खिलाफ कार्रवाई की गई थी। लेकिन इस एम्बुलेंस चालक के हौंसले इतने बुलंद होते जा रहे हैं कि शुक्रवार को उसने सुपरवाईजर के साथ ही मारपीट कर दी।

इससे शर्मनाक क्या होगा?

शासन ने जिन्हें डॉक्टरों और अस्पताल की सुरक्षा के लिए तैनात किया है। अब वहीं पीटने लगे है। इससे शर्मनाक क्या होगा। इससे तो अब अस्पताल और डॉक्टरों की सुरक्षा पर भी सवाल खड़े होने लगे हैं कि जो सुरक्षा सुपरवाईजर अपनी सुरक्षा नहीं कर पा रहे। वह दूसरों की क्या रक्षा करेंगे। हालांकि सुरक्षाकर्मियों के साथ भी कई बार मारपीट की घटना हो चुकी हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co