ग्वालियर में डेंगू का डंक जारी
ग्वालियर में डेंगू का डंक जारीSyed Dabeer Hussain - RE

Gwalior : जीआरएमसी की मशीन हुई खराब, देर रात्रि लिये सेम्पल, आज आएगी रिपोर्ट

ग्वालियर, मध्यप्रदेश : शुक्रवार को जिला अस्पताल द्वारा जारी की गई रिपोर्ट में शहर के 4 मरीज डेंगू पाजीटिव पाए गए हैं। वहीं जीआर मेडिकल कॉलेज की मशीन खराब होने से वहां शुक्रवार को जांच नहीं हो सकी।

ग्वालियर, मध्यप्रदेश। जिले भर में डेंगू का प्रकोप बढ़ ही जा रहा है, लेकिन इसके बाद भी जिम्मेदार नींद से नहीं जाग रहे हैं। डेंगू के शिकार मरीज के घर पर पहुंचकर मलेरिया विभाग की टीमों द्वारा दवा छिडकाव की रस्मअदायगी की जा रही है, इसी का नतीजा है कि गत वर्ष कहर बरपाने के बाद इस बार भी थोक में मरीज निकल रहे हैं। शुक्रवार को जिला अस्पताल द्वारा जारी की गई रिपोर्ट में शहर के 4 मरीज डेंगू पाजीटिव पाए गए हैं। वहीं जीआर मेडिकल कॉलेज की मशीन खराब होने से वहां शुक्रवार को जांच नहीं हो पाई।

स्वास्थ्य विभाग की सुस्ती मच्छरों को पनपने में सहयोग दे रही है। यही कारण है कि डेंगू के केस दिन प्रतिदिन बढ़ते ही जा रहे हैं। हालात यह है कि मौसमी बीमारियों के साथ-साथ डेंगू मलेरिया भी तेजी से बढ़ता जा रहा है। हालात यह हैं कि मेडिसिन विभाग की ओपीडी जेएएच से लेकर जिला अस्पताल तक मरीजों से ठसा ठस चल रही है। हालात यह हैं कि शायद ही ऐसा कोई घर होगा जहां पर मौसमी बीमारियों से पीड़ित मरीज न लेटा हो। हालात यह हैं कि जेएएच की ओपीडी से लेकर जिला अस्पताल, सिविल अस्पताल व क्लनिक पर मरीजों की भीड़ पहुंच रही है। बाल एवं शिशुरोग विशेषज्ञ डॉ. विनीत चतुर्वेदी का कहना है कि बच्चों से लेकर बड़ों तक को सर्दी, खांसी , जुकाम, बुखार की शिकायत हो रही है। जिसके कारण मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बच्चों में उल्टी, दस्त की शिकायत बड़ी है। इसी तरह से जेएएच के त्वचारोग विभाग के डॉ.अनुभव गर्ग का कहना है कि फंगल इन्फेक्शन के मरीजों की संख्या बढ़ी है। उधर न्यूरोलोजी विभाग में भी मौसम का असर दिखाई दे रहा है और न्यूरोलोजी की परेशानी लेकर मरीज पहुंच रहे हैं।

यह होती है परेशानी :

डेंगू संक्रमित आने पर मलेरिया विभाग द्वारा संक्रमित मरीज के घर के आस-पास कम से कम 50 घरों में लार्वा सर्वे किया जाता है। जिससे डेंगू पर रोक लगाने के लिए फॉगिंग, दवाओं का छिड़काव और जागरुकता अभियान चलाने जैसी गतिविधियां की जा सकें। लेकिन मरीज का पता व मोबाइल नम्बर गलत होने पर मलेरिया विभाग सर्वे भी ठीक से नहीं कर पा रहा है।

इन्हें निकला डेंगू :

जिला अस्पताल में शुक्रवार को 22 डेंगू संदिग्ध मरीजों की जांच की गई है। इसमें 4 मरीजों को डेंगू होने की पुष्टि हुई है। संक्रमित निकले चारों मरीज शहर के निवासी हैं। संक्रमित मरीजों में गदरोली ग्वालियर निवासी योगेश, सीताराम कॉलोनी निवासी जीतेश, आयुष और व्यासू त्योगी को डेंगू होने की पुष्टि हुई है।

डेंगू के आंकड़े :

  • वर्ष 2018 में मलेरिया संक्रमित 421 केस और डेंगू संक्रमित 1202 केस

  • वर्ष 2019 में मलेरिया संक्रमित 169 केस और डेंगू संक्रमित 370 केस

  • वर्ष 2020 में मलेरिया संक्रमित 49 केस और डेंगू संक्रमित 16 केस

  • वर्ष 2021 में मलेरिया संक्रमित 24 केस और डेंगू संक्रमित 2764 केस

  • वर्ष 2022 में मलेरिया संक्रमित (अब तक) 10 केस और डेंगू संक्रमित (अब तक) 344 केस

इनका कहना है :

जिला अस्पताल की रिपोर्ट में 4 मरीजों को डेंगू होने की पुष्टि हुई है। जीआरएमसी की मशीन में कुछ खराबी आ गई है। इस वजह से वहां जांच नहीं हो सकी हैं। जीआरएमसी प्रबंधन के मुताबिक शुक्रवार की देर रात्रि सेम्पल लगाए जायेंगे, जिनकी जांच रिपोर्ट शनिवार को आएगी।

डॉ. विनोद दोनेरिया, जिला मलेरिया अधिकारी

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co