कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या लापरवाही का नतीजा, की जाएंगी कार्यवाही
कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या लापरवाही का नतीजाSocial Media

कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या लापरवाही का नतीजा, की जाएंगी कार्यवाही

ग्वालियर, मध्य प्रदेश : प्रदेश के साथ शहर में भी कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। पिछले पांच दिन से लगातार एक सैकड़ा मरीज पॉजीटिव आ रहे हैं।

ग्वालियर, मध्य प्रदेश। प्रदेश के साथ शहर में भी कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। पिछले पांच दिन से लगातार एक सैकड़ा मरीज पॉजीटिव आ रहे हैं। इसे देखते हुए कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने स्वास्थ्य अधिकारियों को व्यवस्थाएं बेहतर करते हुए कोरोना के खात्मे के लिए अभियान चलाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि पिछले महीने लोगों के सहयोग से कोरोना के मरीज कम हुए थे लेकिन फिर से संख्या बढऩा लापरवाही को दर्शा रहा है। इस पर काबू पाने के लिए फिर अभियान चलाकर मास्क न लगाने वाले एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने वाले लोगों पर कार्यवाही की जायगी।

कोरोना के मरीजों की संख्या उपचनुाव के दौरान बहुत कम हो गई थी। प्रतिदिन 20 से 25 मरीज पॉजीटिव आ रहे थे। लेकिन चुनाव खत्म होते ही फिर से पॉजीटिव मरीजों की संख्या प्रतिदिन एक सैकड़ा के लगभग हो गई है। यह खतरनाक संकेत है। जिस तरह पूरी दुनियां में कोरोना का सेकेण्ड फेज घातक साबित हो रहा है उसे देखते हुए लापरवाही करने की छूट नहीं दी जा सकती। जिस तरह लोग बिना मास्क पहने एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किए बिना बाजारों में भीड़ लगाए दिख रहे हैं उस पर रोक लगाना आवश्यक है। बीते कुछ दिनों पहले स्वास्थ्य व आम जनता के सामूहिक प्रयास से ही कोरोना संक्रमण का असर जरुर कुछ कम हुआ था जिससे शहरवासियों ने भी राहत की सांस ली थी। लेकिन फिर से पॉजीटिव मरीज बढ़ने पर कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने स्वास्थ्य महकमे को व्यवस्थाएं बेहतर करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बीते एक सप्ताह से प्रदेश के साथ ही देश के कुछ बड़े शहरों में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़े हैं। अत: हमें सावधान रहना चाहिए कि कोरोना की दूसरी लहर अंचल में नहीं आए। इसके लिए हमें पहले से ही स्वास्थ्य सेवाओं को दुरुस्त रखना होगा।

ग्रामीण एरिए में शुरू होगी पूल सैम्पलिंग :

कोरोना संक्रमित मरीज अब शहर के साथ ही गांव में भी अधिक संख्या में संक्रमित मिल रहे हैं। ऐसे में संक्रमण का फैलाव आगे नहीं हो सके इसके लिए जिला प्रशासन के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग ने गुरूवार से पूल सैंपंलिंग एक बार फिर शुरु कर दी गई है। पूल सैंपलिंग के लिए आधा दर्जन टीमें बनाई गई हैं जो जिले के गांवों में बीते दिनों मिले कोरोना संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए लोगों की कांटेक्ट ट्रैसिंग कर अन्य ग्रामीणों का भी स्वास्थ्य परीक्षण करने पर संदिग्ध मिलने वालों के जांच सैंपल लेंगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co