ग्वालियर : जेएएच की नर्स ने उठाए अस्पताल की व्यवस्थाओं पर सवाल
जेएएच की नर्स ने उठाए अस्पताल की व्यवस्थाओं पर सवालSocial Media

ग्वालियर : जेएएच की नर्स ने उठाए अस्पताल की व्यवस्थाओं पर सवाल

ग्वालियर, मध्य प्रदेश : अस्पताल में कार्य करने वाली नर्स ने अस्पताल की व्यवस्थाओं पर सवाल खड़े किए हैं। इतना ही नहीं नर्स ने इसका वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल किया है। जो जमकर वायरल हो रहा है।

ग्वालियर, मध्य प्रदेश। जयारोग्य अस्पताल की व्यवस्थाओं पर अभी तक मंत्री, विधायक और आम नागरिक ही सवाल उठाते रहे हैं। लेकिन इस बार अस्पताल में कार्य करने वाली नर्स ने ही अस्पताल की व्यवस्थाओं पर सवाल खड़े किए हैं। इतना ही नहीं नर्स ने इसका वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल किया है। जो जमकर वायरल हो रहा है।

माधव डिस्पेंसरी गायनिक ओपीडी की इंचार्ज नर्स नेहा कॉल ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल किया है। वीडियो में वह ओपीडी पर्चा की एंट्री करते हुए नजर आ रही हैं। साथ ही वह वीडियो में बोल रही हैं कि ओपीडी में पर्चा चढ़ाने वाला कोई नहीं है। इसलिए मुझे पर्चे चढ़ाने पड़ रहे हैं। जब वीडियो के संबंध में नर्स नेहा कॉल से फोन पर संपर्क किया तो उन्होंने बताया कि "पहले गायनिक के पर्चे पूनम कुलश्रेष्ठ चढ़ाती थीं। कुछ माह पहले वह सेवानिवृत हो चुकी हैं। उसके बाद आउटसोर्स के कर्मचारियों को यह कार्य दिया गया। लेकिन वह ठीक से अपनी जिम्मेदारी नहीं निभाते। इससे विभागाध्यक्ष मैडम मेरे से बोलती हैं।" उन्होंने आगे बताया कि "पर्चा चढ़ाने के लिए कोई कर्मचारी नहीं है। इसकी जानकारी उन्होंने लिखित में गायनिक विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ.वृंदा जोशी को दी है। लेकिन उसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। डॉ.वृंदा जोशी मैडम ने तत्कालीन माधव डिस्पेंसरी प्रभारी डॉ. प्रवेश भदौरिया को आउटसोर्स कर्मचारी उपलब्ध कराने की बात कही थी। लेकिन उस पर अमल नहीं हुआ।"

यहां बता दें कि जानकारी के अनुसार ऐसा पहली बार हुआ है कि मंत्री, विधायक और आम नागरिक को छोड़कर नर्स ने अस्पताल की व्यवस्थाओं पर सवाल खड़े किए हों। हालांकि यह बात सही है की अभी तक प्रबंधन के खिलाफ पीठ-पीछे सब सवाल खड़े करते थे। लेकिन यह पहला मामला है जब नर्स खुलकर सामने आई है।

इनका कहना है :

ओपीडी में नर्स का क्या काम है? वह अपना काम छोड़कर पर्चे क्यों चढ़ा रही थी। इसके बारे में नर्स और मेट्रिन से जवाब तलब किया जाएगा। नर्स का पर्चा चढ़ाने से कोई लेन-देन नहीं है। उसे वहां बैठना ही नहीं चाहिए। यदि उसे कोई शिकायत थी तो मेरे पास आकर करती उसे सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल नहीं करना चाहिए। इसमें दोषी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

डॉ.आरकेएस धाकड़, अधीक्षक जेएएच

हां, मेरी ड्यूटी गायनिक ओपीडी के पर्चे चढ़ाने पर लगी है। 18 दिसम्बर को मेरी सासू मां की तबीयत खराब हो गई थी। इसलिए मैं दो दिन की सीएल अपने अधिकारी बनवारी वर्मा को देकर गया था। उनकी अनुमति मिलने के बाद ही मैं छुट्टी पर गया था। वीडियो के संबंध में मुझे कोई जानकारी नहीं है।

अनूप सिंह राजावत, कंपाउंडर

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co