दिन में लाईट जल रही है और रात में बंद रहती हैं, आप क्या देख रहे हो
दिन में लाईट जल रही है और रात में बंद रहती हैं, आप क्या देख रहे होSocial Media

Gwalior : दिन में लाईट जल रही है और रात में बंद रहती हैं, आप क्या देख रहे हो

ग्वालियर, मध्यप्रदेश : सीएम हेल्प लाईन की समीक्षा बैठक में निगमायुक्त ने लगाई फटकार। विद्युत विभाग के उपयंत्री एवं एएचओ की वेतन वृद्धि रोकने के निर्देश।

ग्वालियर, मध्यप्रदेश। नगर निगम मुख्यालय में सोमवार को सीएम हेल्प लाईन की समीक्षा के लिए बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में निगमायुक्त किशोर कन्याल लापरवाह अधिकारियों पर जमकर बरसे। उन्होंने सीएम हेल्प लाईन में विद्युत एवं पीएचई की सर्वाधिक शिकायतों पर नाराजगी जताई। निगमायुक्त ने विद्युत विभाग के प्रभारी देवी सिंह राठौर से कहा कि रात में लाईटें बंद रहती है और दिन में जलती है। आखिर आप क्या देख रहे हो। पीएचई अधिकारी गंदे पानी की समस्या को दूर नहीं कर पा रहे हैं। यह स्थिति बर्दाश्त योग्य नहीं है। निगमायुक्त ने विद्युत विभाग उपयंत्री महेन्द्र कुशवाह एवं सहायक स्वास्थ्य अधिकारी धर्मेन्द्र परमार की एक-एक वेतन वृद्धि रोकने के निर्देश दिए।

सोमवार को आयोजित हुई समीक्षा बैठक में निगमायुक्त किशोर कन्याल ने लापरवाह अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। उन्होंने सड़क निर्माण में लापरवाही करने पर सीसीओ सुरेश अहिरवार की क्लास ली। निगमायुक्त ने पूछा कि सड़क में अगर गड्ढे हैं तो उसका लेबल सही करके रिपेयरिंग की जानी चाहिए। आप ने बस मटेरियल डाल दिया और काम खत्म। रोड़ लेबल प्रोफाईल के बारे में आपने कुछ पढ़ा है। इसके जबाव में सीसीओ ने कहा कि वह सड़क पहले ही खराब बनी थी इसलिए बहुत ज्यादा सही नहीं हो सकी। इस पर निगमायुक्त ने फटकार लगाते हुए कहा कि सड़क खोदकर लेबल बराबर करके भी पेंच रिपेयरिंग की जा सकती है। तुम इंजीनियर हो इतना भी नहीं जानते, क्यों एमआईटीएस का नाम खराब कर रहे हो। निगमायुक्त ने कहा कि पिछले महीने में 2652 सीएम हेल्प लाईन शिकायतें लंबित हैं इन्हें समय सीमा में दूर करें।

इंटेलीजेंट हो तो फील्ड में कुछ करके दिखाओ :

बैठक के दौरान निगमायुक्त ने ग्वालियर विधानसभा के सभी जेडओ को खड़ा कर दिया। उन्होंने कहा कि आप लोग अपने क्षेत्र में ठीक से काम नहीं कर रहे। अगर आप इंटेलीजेंट हैं तो फील्ड में बेहतर काम करके दिखाओ। तब मैं सोचूंगा कि आपको क्या बेहतर पद दिया जाए। सिर्फ सिफारिश कराने से काम नहीं चलेगा। इसके बाद उन्होंने मदाखलत नोडल अधिकारी केशव चौहान से कहा कि आप तो फील्ड में निकल ही नहीं रहे है। घर से ही ऑफिस का पूरा काम चला रहे हो। ऐसे नहीं चलेगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co