प्रभारी मंत्री ने नर्स से पूछा क्या आप मेरे को जानती हो? नर्स ने कहा नहीं

ग्वालियर, मध्यप्रदेश : जिले के प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट ने सोमवार को कोविड केयर व वैक्सीनेशन सेंटरों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने अस्पतालों में उपलब्ध संसाधनों की जानकारी ली।
प्रभारी मंत्री ने नर्स से पूछा क्या आप मेरे को जानती हो? नर्स ने कहा नहीं
प्रभारी मंत्री ने नर्स से पूछा क्या आप मेरे को जानती हो?Shahid - RE

ग्वालियर, मध्यप्रदेश। जिले के प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट ने सोमवार को कोविड केयर व वैक्सीनेशन सेंटरों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने अस्पतालों में उपलब्ध संसाधनों की जानकारी ली। वैक्सीनेशन सेंटर पर पहुंचकर प्रभारी मत्री ने नर्स से पूछा क्या आप मेरे को जानती हो? नर्स ने कहा नहीं। मौके पर मौजूद अस्पताल अधीक्षक डॉ.आरकेएस धाकड़ ने नर्स से कहा ये हमारे जिले के प्रभारी मंत्री हैं। जब नर्स ने नमस्ते किया। वैक्सीनेशन सेंटर से मंत्री सिलावट हजार बिस्तर अस्पताल का सी-ब्लॉक देखने पहुंचे।

हजार बिस्तर अस्पताल के सी-ब्लॉक का निरीक्षण करते हुए जिले के प्रभारी मंत्री सिलावट ने प्रभारी अधिष्ठात डॉ.डीके शाक्य और अस्पताल अधीक्षक डॉ.आरकेएस धाकड़ से पूछा आपके पास कितने वेंटीलेटर हैं? इस पर उन्होंने जवाब दिया कि 200। उन्होंने कहा कि इन्हें चालने वाले भी होना चाहिए। यदि वेंटीलेटर चलाने वाला नहीं है तो इनका क्या फायदा। सी ब्लॉक में उपलब्ध पलंगों की संख्या पूछी तो उन्हें बताया कि वर्तमान में 250 पलंग उपलब्ध हैं और करीब 250 पलंग के आर्डर भी कर दिए गए हैं, जो एक सप्ताह में आ जाएंगे। इसको लेकर प्रभारी मंत्री ने स्पष्ट निर्देश दिए कि जल्द से जल्द पलंग मंगाए जाएं। इसी तरह जब उन्होंने सी ब्लॉक में उपलब्ध स्टाफ की जानकारी मांगी तो पता चला कि अस्पताल को अभी तक स्टाफ नहीं मिला है। इसको लेकर प्रभारी मंत्री ने कहा कि आपके पास भले ही पर्याप्त संसाधन हो, लेकिन जब तक उन्हें चलाने के लिए स्टाफ नहीं होगा तो क्या फायदा। उन्होंने जल्द से जल्द आउट सोर्स से स्टाफ भर्ती करने के निर्देश भी संबंधित को दिए। उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि सी ब्लॉक पूरी तरह तैयार रखा जाए। इस ब्लॉक में जो भी छोटी-मोटी कमियां रह गई हैं, उसे तत्परता से पूर्ण करें, ताकि आवश्यकता पड़ने पर यहां कोरोना संक्रमितों को भर्ती किया जा सके।

निरीक्षण के दौरान यह थे उपस्थित :

निरीक्षण के दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष कमल माखीजानी, संभागायुक्त आशीष सक्सेना, कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, पुलिस अधीक्षक अमित सांघी, एडीएम इच्छित गढ़पाले, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मनीष शर्मा उपस्थित थे।

मरीजों को बेड शीट के साथ कंबल भी उपलब्ध कराएं :

इससे पहले मंत्री श्री सिलावट ने सुपर स्पेशलिटी अस्पताल का निरीक्षण किया और उपलब्ध संसाधनों व भर्ती मरीजों की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने निर्देश दिए कि मरीजों को पलंग पर बेड शीट के साथ ही कंबल भी उपलब्ध कराएं जाएं।

सिलेण्डर भी रखें तैयार :

सुपर स्पेशलिटी अस्पताल के निरीक्षण के दौरार जब ऑक्सीजन सप्लाई कक्ष में पहुंचे तो उन्हें एक भी सिलेण्डर नहीं मिला। इस पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि भले ही आपके पास टैंक लगा हुआ है। लेकिन भरे लिए सिलेण्डर भी तैयार रखें, जिससे अगर जरूरत पड़ी तो मरीजों को तत्काल ऑक्सीजन दी जा सके।

कलेक्टर ने कहा पैसा दिला दो :

निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने प्रभारी मंत्री सिलावट को बताया कि स्टाफ की भर्ती के लिए निर्देश जारी कर दिए गए हैं। लेकिन उन्हें वेतन देने के लिए वजट नहीं है। इसलिए बजट भी उपलब्ध कराया जाए। जिसको लेकर मंत्री ने प्रस्ताव बना कर देने की बात कही।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co