Gwalior : नरेंद्र सिंह ने फैंकी जिलाध्यक्ष की सिंगल नाम की सूची
नरेंद्र सिंह ने फैंकी जिलाध्यक्ष की सिंगल नाम की सूचीRaj Express

Gwalior : नरेंद्र सिंह ने फैंकी जिलाध्यक्ष की सिंगल नाम की सूची

ग्वालियर, मध्यप्रदेश : टिकट तय करने भाजपा की कोर कमेटी की बैठक में नहीं बनी सहमति। करीब दो घंटे चली बैठक में कोर कमेटी के सदस्यों ने अपने अपने विचार रखे।

ग्वालियर, मध्यप्रदेश। नगरीय निकाय चुनाव में भाजपा के दिग्गज नेताओं में सहमति नहीं बनने से अभी तक न तो महापौर पद के उम्मीदवार की घोषणा हो सकी है और न पार्षद पद के उम्मीदवारों की सूची घोषित हो सकी है। सहमति बनाने मंगलवार को होटल तानसेन में संभागीय कोर कमेटी की बैठक में उस समय सन्नाटा खिंच गया जब केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने जिलाध्यक्ष की सिंगल नामों की सूची फैंक दी। करीब दो घंटे चली बैठक में कोर कमेटी के सदस्यों ने अपने अपने विचार रखे।

भाजपा जिलाध्यक्ष 60 वार्डों की सिंगल नाम की सूची लेकर संभागीय बैठक मेें पहुंचे। जब उन्होंने सिंगल नाम की सूची केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को सौंपी तो वे हैरान रह गए और बोले कि आपने तो ऐसे सिंगल नाम की सूची तैयार कर ली है जैसे यही अंतिम सूची है। पैनल में क्या कभी एक नाम होता है। उसके बाद सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने बताया कि कैसे पैनल तैयार किया जाता है।

कोर कमेटी की बैठक में शामिल होने के लिए केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर एवं ज्योतिरादित्य सिंधिया एक ही विमान से ग्वालियर आए। दोपहर साढ़े तीन बजे विमानतल से दोनों ही नेता बैठक में शामिल होने होटल तानसेन पहुंचे। बैठक में जयभान सिंह पवैया ने अपनी बात रखते हुए कहा कि सामान्य वार्ड से सामान्य जिताऊ उम्मीदवार को ही टिकट मिलना चाहिए। जिताऊ उम्मीदवार नहीं होने की स्थिति मेें सामान्य सीट से अन्य वर्ग को टिकट दिया जा सकता है। विवेक नारायण शेजवलकर ने कहा कि अपने समर्थकों के साथ हमें पार्टी का भी ध्यान रखना होगा और सिर्फ और सिर्फ जिताऊ उम्मीदवार को ही टिकट देना होगा।

हाथ जोड़कर चेहरा दिखाया :

उधर कोर कमेटी में शिरकत करने पहुंचे नेताओं से मिलने के लिए पुरूष उम्मीदवारों के साथ महिला उम्मीदवार भी अपना चेहरा दिखाने पहुंची और कोर कमेटी के सदस्यों को अभिवादन कर कहा कि हमारा ध्यान रखना। उम्मीदवारों की यह स्थिति एयरपोर्ट से लेकर, बैठक स्थल तक नजर आई।

बैठक से निकलकर किसने क्या कहा

भाजपा कार्यकर्ता आधारित पार्टी है। सबकी राय के आधार पर निर्णय कर रहे हैं। पार्षदों की लिए भी बैठकें चल रही हैं। बुधवार तक सारी सूची घोषित कर दी जाएंगी।

नरेंद्र सिंह तोमर, केंद्रीय कृषि मंत्री

जनता का निर्णय महत्वपूर्ण हैं, 6 जुलाई और 13 जुलाई को जनता निर्णय लेगी। भाजपा सभी से चर्चा करके विचार विमर्श कर अच्छा निर्णय करती है। जो भी प्रत्याशी होगा सभी मिलकर उसके लिए काम करेंगे।

ज्योतिरादित्य सिंधिया, केंद्रीय मंत्री

पहले टिकट की घोषणा होने से जनता में पहले नम्बर पर नहीं आ जाते हैं। हमारी पार्टी में महिला नेत्रियां बड़ी तादाद में सक्रिय हैं। दावेदारों के नाम सामने आए हैं। विचार हो रहा है। पार्टी में किसी तरह की खींचतान नहीं हैं।

जयभान सिंह पवैया, पूर्व मंत्री

जनमत को दृष्टिगत रखते हुए पार्टी के वरिष्ठजनों की राय से भाजपा निर्णय करती है। केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर एवं ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीच मतभेद की खबरें मनगढ़ंत हैं।

प्रद्युम्न सिंह तोमर, उर्जा मंत्री

संभागीय बैठक में महापौर के नाम की कोई चर्चा नहीं हुई है। संभागीय कमेटी में नगर निगम के पार्षदों के नामों पर चर्चा हुई।

लालसिंह आर्य, राष्ट्रीय अध्यक्ष अनूुसूचित जाति मोर्चा

सही आंकलन करके ही घोषणा होनी चाहिए। भाजपा हमेशा उसी आधार पर काम करती है। मुझे जो दायित्व मिला था, उसके लिए मैं बैठक में आई।

यशोधरा राजे सिंधिया

भाजपा में असहमति जैसी कोई स्थिति नहीं हैं। ग्वालियर में कोई पेंच नहीं है। पांच साल के लिए जनसेवक चुनना है। भाजपा में सामुहिक निर्णय होता है, जबकि अन्य दल व्यक्ति आधारित दल है।

नरोत्तम मिश्रा, गृहमंत्री मध्यप्रदेश

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co