Gwalior : कॉलेज पर नहीं हुई कार्रवाई, छात्र ने जेयू की छत से किया आत्महत्या का प्रयास
छात्र ने जेयू की छत से किया आत्महत्या का प्रयासRaj Express

Gwalior : कॉलेज पर नहीं हुई कार्रवाई, छात्र ने जेयू की छत से किया आत्महत्या का प्रयास

ग्वालियर, मध्यप्रदेश : बीएससी की फर्जी मार्कशीट तैयार करने वाले और कॉलेज प्रबंधन पर कार्रवाई को लेकर एनएसयूआई छात्र नेताओं ने जीवाजी विवि में चार घंटे तक हंगामा प्रदर्शन किया।

ग्वालियर, मध्यप्रदेश। बीएससी की फर्जी मार्कशीट तैयार करने वाले और कॉलेज प्रबंधन पर कार्रवाई को लेकर एनएसयूआई छात्र नेताओं ने जीवाजी विवि में चार घंटे तक हंगामा प्रदर्शन किया। छात्र जितेंद्र कुमार ने डॉकेट, प्रवेश फार्म और नामांकन नंबर नहीं देने और कॉलेज प्रबंधन के खिलाफ कार्रवाई नहीं किए जाने पर विवि की छत से कूदकर सुसाइड करने की कोशिश की। मगर सुरक्षा गार्डों और छात्र के दोस्तों ने उसे पकड़ लिया। विवि में हंगामा होने पर पुलिस पहुंच गई थी, लेकिन इससे पूर्व छात्रों और कुलाधिसचिव प्रो. उमेश होलानी के बीच झूमाझटकी हो गई थी। कर्मचारी नेता राकेश गुर्जर और कम्पोडर सिंह ने कुलाधिसचिव को सुरक्षित किया। कुलाधिसचिव ने छात्र को आश्वासन दिया है कि 10 नवंबर तक उसके प्रकरण का निराकरण कर दिया जाएगा।

एनएसयूआई प्रदेश सचिव सचिन भदौरिया व संगठन के अन्य सदस्यों के साथ शिवशंकर कॉलेज सुमावली का छात्र जितेंद्र कुमार सोमवार को कुलाधिसचिव प्रो. उमेश होलानी से मिलने के लिए गए थे मगर उनके काफी देर उनके और जिम्मेदार अधिकारियों के नहीं आने पर एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी शुरू कर दी। कुछ ही देर में प्रोक्टर प्रो. हरेन्द्र शर्मा, डीआर अरुण सिंह पहुंच गए थे मगर हंगामा नहीं रुका। कुछ देर बाद कुलाधिसचिव प्रो. होलानी पहुंचे और कहा कि कॉलेज पर कार्रवाई को लेकर प्रकरण स्थाई समिति की बैठक में रखा जाएगा और छात्र को नए सिरे से परीक्षा में बैठाया जाएगा। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि छात्र के पास बीएससी फर्स्ट ईयर की मार्कशीट है जो मार्कशीट है, अगर वह फर्जी है तो उस पर जिन-जिन अधिकारियों पर कार्रवाई की जाए साथ ही विवि ने छात्र के साथ फर्जीवाड़ा करने के वाले कॉलेज पर क्या कार्रवाई की, इसकी जानकारी दी जाए। कुलाधिसचिव के जवाब नहीं देने पर कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी शुरू कर दी। कुलाधिसचिव ने जाने का प्रयास किया तो प्रदर्शनकारियों ने उन्हें घेर लिया और झूमाझटकी करने लग गए। कर्मचारी नेता राकेश गुर्जर, कम्पोडर सिंह उन्हें सुरक्षित किया। इस दौरान सुरक्षा गार्डों और प्रदर्शनकारियों के बीच कुलाधिसचिव को सुरक्षित करने में हाथपाई हो गई थी।

बता दें कि छात्रों के समर्थन ने एनएसयूआई ने 5 अक्टूबर को भी प्रदर्शन किया था और कुलाधिसचिव ने कॉलेज पर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया था मगर हुआ कुछ नहीं।

हंगामा होने की जानकारी पर पहुंची पुलिस :

हंगामा प्रदर्शन के दौरान एक प्रदर्शनकारी ने छत से कूदने की कोशिश की। विवि में हंगामा होने की जानकारी होने पर थाना विवि पुलिस भी पहुंच गई। पुलिस के पहुुंचने के बाद जिम्मेदार अधिकारी वहां से गायब हो गए। पुलिस ने छात्रों से कहा कि विवि अधिकारियों ने 10 नवंबर तक कार्रवाई प्रकरण का निराकरण करने का आश्वासन दिया है तो मान जाएं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co