अब तिरुपति के लिए होगी ग्वालियर से सीधी ट्रेन
सिंधिया ने रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव से मुलाकात कीSocial Media

अब तिरुपति के लिए होगी ग्वालियर से सीधी ट्रेन

ग्वालियर, मध्यप्रदेश : रेल मंत्री वैष्णव ने मंत्री सिंधिया को आश्वस्त किया है कि उनके द्वारा रखी गई सभी मांगों का प्राथमिकता से समाधान किया जाएगा।

हाइलाइट्स :

  • ग्वालियर में जल्द होगा हजरत निजामुद्दीन तिरुपति का ठहराव

  • सिंधिया ने रेलमंत्री से मुलाकात की, रेलमंत्री ने दी सहमति

ग्वालियर, मध्यप्रदेश। तिरुपति बालाजी जाने वाले भक्तों के लिए एक अच्छी खबर यह है कि जल्द ही हजरत निजामुद्दीन से चलकर तिरुपति जाने वाली ट्रेन को ग्वालियर में स्टोपेज होने जा रहा है, जिससे वे आसानी से न सिर्फ तिरूपति पहुंच सकेंगे, बल्कि उस मार्ग पर पड़ने वाले अन्य स्टेशनों पर भी यात्रा कर सकेंगे। केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इसे लेकर रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव से मुलाकात की। अधिकांश मांगो की मंजूरी रेल मंत्री वैष्णव ने तत्काल प्रदान की। सिंधिया गुरुवार को रेलमंत्री अश्वनी वैष्णव से मुलाकात करके ग्वालियर-चंबल अंचल की रेल से संबंधित लंबित विविध मुददों पर विस्तृत चर्चा की और उनके त्वरित समाधान का अनुरोध किया। रेल मंत्री वैष्णव ने मंत्री सिंधिया को आश्वस्त किया है कि उनके द्वारा रखी गई सभी मांगों का प्राथमिकता से समाधान किया जाएगा।

ये मांगे रखी रेल मंत्री को :

  1. 250 करोड़ की लागत से इंडियन रेलवे स्टेशन डेवलपमेंट कारपोरेशन ने ग्वालियर रेलवे स्टेशन के विकास व विस्तार के लिए 23 जून को प्रस्ताव प्रस्तुत किया जा चुका है, इसकी स्वीकृति प्रदान की कर कार्य प्रारंभ किया जाए। रेल मंत्री ने टेंडर आमंत्रित कराने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए।

  2. दिल्ली एवं ग्वालियर के मध्य वंदे भारत ट्रेन का संचालन किया जाए। रेलमंत्री जी ने सहमति प्रदान कर दी है यह ट्रेन अन्य वन्दे भारत ट्रेनों के साथ 2022 के मध्य शुरू हो जाएगी

  3. ग्वालियर चंबल अंचल के विकास के लिए अति महत्वपूर्ण ग्वालियर-श्योपुर रेलखंड जिसका गेज परिवर्तन किया जा रहा है, के लिए पर्याप्त बजट की स्वीकृति प्रदान की जाए, ताकि कार्य तेजी से संचालित होकर शीध्र पूर्ण हो सके। रेलमंत्री ने बजट में बढ़ोतरी के साथ साथ इसको शीघ्र कराने के निर्देश अधिकारियों को दिए।

  4. ग्वालियर-गुना मक्सी रेलखंड जिसकी लंबाई400 किमी है, जिसके ट्रेक के दोहरीकरण के सर्वे का प्रस्ताव 2012-13 में स्वीकृत हुआ एवं जिसकी रिपोर्ट 2017 में रेल विभाग को मिल चुकी है एवं दोहरीकरण की स्वीकृति के लिए लंबित है, इस प्रस्ताव को मंजूरी दी जाए। उक्त कार्य के लिए कुल 2,822 करोड़ के बजट की जरूरत है।

  5. ग्वालियर रेलवे स्टेशन पर उक्त चार ट्रेनों का ठहराव अत्यंत जरूरी है, जिसकी स्वीकृति प्रदान किया जाना जरूरी है। लोकमान्य तिलक ट्रमिनल-हरिद्वार सुपर फास्ट, हजरत निजामुददीन यशवंतपुर सुपर फास्ट एक्सप्रेस, हजरत निजामुददीन तिरूपति एक्सप्रेस एवं हजरत निजामुद्दीन-सिंगरौली एक्सप्रेस सुपरफास्ट ग्वालियर स्टेशन पर पूर्व से ही क्षमता से अधिक ट्रेन रूक रहीं हैं, फिर भी सिंधिया के अनुरोध पर रेलमंत्री ने हजरत निजामुद्दीन-तिरूपति एक्सप्रेस रोकने के निर्देश दिए, जिससे ग्वालियर के लोगों को तिरुपति बालाजी जाने के लिए सीधी ट्रेन सुविधा मिल सके।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co