Gwalior : टिकट वितरण के बाद भाजपा-कांग्रेस में बगावत
बलवीर तोमर ने कांग्रेस का दामन थामाShahid - RE

Gwalior : टिकट वितरण के बाद भाजपा-कांग्रेस में बगावत

ग्वालियर, मध्यप्रदेश : भाजपा से पार्षद रहे बलवीर तोमर ने कांग्रेस का दामन थामा। इंदरगंज ब्लॉक के कार्यकारी अध्यक्ष ने कांग्रेस दफ्तर मे किया हंगामा दिया इस्तीफा।

ग्वालियर, मध्यप्रदेश। नगर निगम में पार्षदो का टिकट वितरण शुक्रवार की देर रात किया गया उसके बाद से ही दोनों दलो में बगावती स्वर मुखर होने शुरू हो गए है। वैसे तो अधिकांश दावेदारो को पहले ही पता चल गया था कि उनका टिकट कट होने वाला है, इसलिए उसमें से अधिकांश ने पहले से टिकट की वैकल्पिक व्यवस्था कर रखी थी। वार्ड 19 से भाजपा से पार्षद रहे बलवीर तोमर का टिकट कट होने के बाद उन्होंने शनिवार को अपने सैकड़ो समर्थको के साथ कांग्रेस का दामन थाम लिया, जबकि कांग्रेस के इंदरगंज ब्लॉक के कार्यकारी अध्यक्ष संजय बघेल ने कांग्रेस दफ्तर पर हंगामा करते हुए पार्टी से इस्तीफा दे दिया।

भाजपा से पार्षद रहे बलवीर तोमर ने वार्ड 19 से अपनी पत्नी के लिए टिकट मांगा था, लेकिन भाजपा ने उस वार्ड से उमा भदौरिया को टिकट दिया, इसके बाद से ही बलवीर तोमर खासे नाराज थे और उन्होंने अपनी पत्नी कमलेश तोमर को कांग्रेस से टिकट दिलवा दिया। शनिवार को बलवीर तोमर ने शहर कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. देवेन्द्र शर्मा एवं विधायक डॉ. सतीश सिकरवार के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यालय पर कांग्रेस की सदस्यता सैकड़ो समर्थको के साथ ली। इस दौरान वार्ड 19 से भाजपा के पूर्व पार्षद बलवीर सिंह तोमर की पत्नी श्रीमती कमलेश तोमर एवं छोटू तोमर के नेतृत्व में 700 पूर्व सैनिको एवं भाजपा कार्यकर्ताओ ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर कांग्रेस की महापोर प्रत्याशी श्रीमती शोभा सतीश सिकरवार को जिताने का संकल्प लिया।

शहर कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. देवेन्द्र शर्मा एवं विधायक डॉ. सतीश सिकरवार ने बलवीर सिंह तोमर, श्रीमती कमलेश तोमर, छोटू तोमर सहित 700 से अधिक भाजपा नेताओ को कांग्रेस सदस्यता फॉर्म भरवाकर तिरंगा दुपट्टा पहनाया। इस अवसर पर कार्यकारी अध्यक्ष महराज सिंह पटेल, मीडिया प्रभारी राजकुमार शर्मा, उपाध्यक्ष उदल सिंह, हमीद खां उस्मानी, रशिद पहलवान, सचिव संजीव दीक्षित, भरत शर्मा, गिर्राज चंदोरिया ने कांग्रेस में सम्मलित होने वाले भाजपा नेताओ को माला पहनाकर स्वागत किया।

उधर कांग्रेस दफ्तर पर हंगामा, लगाया टिकट बेचने का आरोप :

वार्ड 66 से कांग्रेस से पार्षदी का टिकट संजय बघेल मांग रहे थे। वह इंदरगंज ब्लॉक के कार्यकारी अध्यक्ष है। शुक्रवार को देर रात जब कांग्रेस की सूची जारी हुई तो उसमें संजय बघेल का नाम गायब था। इसके बाद शनिवार को दोपहर के समय संजय बघेल अपने समर्थको के साथ कांग्रेस कार्यालय पहुंचे और कांग्रेस अध्यक्ष के कक्ष में जाकर जमकर हंगामा किया। जब अध्यक्ष ने कहा कि टिकट एक को ही मिलता है ऐसे में नाराज होने से कोई काम नहीं चलता। इस बात को सुनने के बाद संजय बघेल के समर्थको ने कांग्रेस मुर्दाबाद के नारे लगाना शुरू कर दिए और संजय ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया। संजय बघेल का कहना है कि कांग्रेस ने बघेल समाज का अपमान किया है और एक भी टिकट नहीं दिया। बघेल में शहर कांग्रेस अध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा व ग्रामीण कांग्रेस अध्यक्ष अशोक सिंह पर पैसे लेकर टिकट बांटने का आरोप लगाते हुए क हा कि बघेल समाज के किसी व्यक्ति को टिकट न देने से कांग्रेस को भारी नुकसान होगा। शहर कांग्रेस अध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा का कहना है कि कांग्रेस ने सभी समाज को ध्यान में रख कर टिकट दिए है और वार्ड 66 से हरेन्द्र गुर्जर को टिकट दिया है। हरेन्द्र सेवादल के अध्यक्ष है ऐसे में संगठन के व्यक्ति को महत्व नहीं देंगे तो किसको देते। टिकट बेंचने के आरोप पर कांग्रेस अध्यक्ष का कहना था कि जिसको टिकट नहीं मिलता वह ऐसे ही आरोप लगाता है इसमें कुछ नया नहीं है।

कांग्रेस दफ्तर पर हंगामा
कांग्रेस दफ्तर पर हंगामाShahid - RE

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co