लक्ष्य की 33 % भी नहीं हो रही सम्पत्तिकर की वसूली, नामंतरण में जुटे टीसी
नगर निगम मुख्यालय, ग्वालियर
Social Media

लक्ष्य की 33 % भी नहीं हो रही सम्पत्तिकर की वसूली, नामंतरण में जुटे टीसी

टीसी एवं एपीटिओ वरिष्ठ अधिकारियों को पिछले वर्ष की वसूली से तुलना कर बेवकूफ बना देते हैं। जब भी बैठक होती है कह दिया जाता है कि सर पिछले साल से तो आगे चल रहे हैं।

हाइलाइट्स :

  • 15 जुलाई तक 35 करोड़ थे वसूलने, 10 करोड़ की हुई वसूली

  • 2021 के लिए शासन ने 121 करोड़ की वसूली का रखा है लक्ष्य

  • कोरोना संक्रमण कम होने के बावजूद वसूली में ध्यान नहीं दे रहे टीसी एवं एपीटीओ

ग्वालियर, मध्यप्रदेश। शासन के खाली खजाने को भरने के लिए कर वसूली पर ध्यान दिया जाना है। मुख्य सचिव द्वारा आय जुटाने वाले सभी विभागों को अधिक से अधिक राजस्व जुटाने का लक्ष्य दिया है लेकिन अधिकारियों की लापरवाही के चलते 50 प्रतिशत लक्ष्य भी पूरा नहीं हो रहा। नगर निगम के सम्पत्तिकर विभाग में पदस्थ टीसी एवं एपीटिओ वसूली की जगह नामंतरण में अधिक दिलचस्पी दिखा रहे हैं। यही वजह है कि 15 जुलाई तक 35 करोड़ 13 लाख रुपय की वसूली का लक्ष्य निर्धारित किया गया था जिसमें से मात्र 10 करोड़ 91 लाख की वसूली हुई है। टीसियों में निगमायुक्त का खौफ नहीं है इसलिए अधिकतर लोग वसूली पर ध्यान नहीं दे रहे।

दरअसल इन दिनों सम्पत्तिकर की टीसी एवं एपीटिओ नामंतरण में अधिक दिलचस्पी ले रहे हैं। किसी को भी वसूली की फ्रिक नहीं है। निगमायुक्त सम्पत्तिकर वसूली को लेकर कार्यवाही नहीं कर रहे इसलिए टीसियों को कोई फर्क नहीं पड़ रहा। 66 टीसियों में से मात्र 8 ऐसे हैं जिन्होंने 50 प्रतिशत का लक्ष्य पूरा किया है। यह स्थिति बेहद गंभीर है। अगर टीसी वसूली नहीं करेंगे तो 50 प्रतिशत लक्ष्य की पूर्ति भी नहीं होगी। शर्म की बात यह है कि विभाग के अपर आयुक्त, उपायुक्त सहित एपीटिओ भी इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं। इससे सम्पत्तिकर वसूली लगातार पिछड़ रही है। वर्ष 2021-22 के लिए शासन द्वारा 121 करोड़ 5 लाख 72810 करोड़ का लक्ष्य रखा है। लेकिन चार महीने में मात्र 10 करोड़ 91 लाख 42583 रुपय सम्पत्तिकर वसूली किया जा सका है। यह शर्मनाक स्थिति है। ऐसा चलता रहा तो वसूली में पिछड़ना तय है।

पिछले वर्ष से तुलना करके बना रहे बेवकूफ :

टीसी एवं एपीटिओ वरिष्ठ अधिकारियों को पिछले वर्ष की वसूली से तुलना कर बेवकूफ बना देते हैं। जब भी बैठक होती है कह दिया जाता है कि सर पिछले साल से तो आगे चल रहे हैं। पिछले साल की बात करें तो कोरोना संक्रमण जुलाई माह में भी परेशान कर रहा था। इसलिए वसूली नहीं हुई थी। साथ ही पिछले साल का लक्ष्य इस बार के लक्ष्य से कम था इसलिए वसूली की तुलना पिछले साल से करना बेमानी है। इसी तरह से अगर टीसी पिछले साल की बातें करते रहेंगे तो इस साल 50 प्रतिशत लक्ष्य की पूर्ति भी नहीं होगी।

सबसे कम वसूली करने वाले टॉप 10 टीसी :

  • वार्ड 62, टीसी दौलतराम, दीपक अग्निहोत्री, महेन्द्र शर्मा, 15 जुलाई तक लक्ष्य 1 करोड़ 117013, वसूली 675986, वसूली का प्रतिशत 07

  • वार्ड 15, टीसी नरेन्द्र मोरे, वसूली का लक्ष्य 1686169, वसूली 155438, वसूली का प्रतिशत 09

  • वार्ड 10, टीसी चिम्मन कटारे, 15 जुलाई तक वसूली का लक्ष्य 1854786, वसूली 191917, वसूली का प्रतिशत 10

  • वार्ड 7, टीसी विष्णु शिवहरे, 15 जुलाई तक वसूली का लक्ष्य 4215422, वसूली 529282, वसूली का प्रतिशत 13

  • वार्ड17, टीसी दलवीर गुर्जर, 15 जुलाई तक वसूली का लक्ष्य, 2192019, वसूली 303202, वसूली का प्रतिशत 14

  • वार्ड 38, टीसी अशोक कुशवाह, नंद किशोर कदम, वसूली का लक्ष्य 4215422, वसूली 743118, वसूली का प्रतिशत 18

  • वार्ड 52, टीसी कुलदीप गुर्जर, संजय गोयल, वसूली का लक्ष्य 3372338, वसूली 595114, वसूली का प्रतिशत 18

  • वार्ड 6, टीसी साहिल मौहम्म्द, वसूली का लक्ष्य 1011701, वसूली 164399, वसूली का प्रतिशत 16

  • वार्ड 9, टीसी रामेन्द्र सिंह, राजेन्द्र कुशवाह, वसूली का लक्ष्य 1348935, वसूली, 214760, वसूली का प्रतिशत 16

इस तरह की जानी है वसूली :

  • 2021-22 में 2 लाख 58862 सम्पत्त्यिों से कर वसूली की जानी है।

  • 2020-21 में वसूला गया सम्पत्तिकर 73 करोड़ 3675202 रुपये।

  • 2021-22 के लिए सम्पत्तिकर वसूली का लक्ष्य 121 करोड़ 572810 रुपये।

  • 15 जुलाई 2021 तक के लिए वसूली का लक्ष्य था 35 करोड़ 1397568 रुपये।

  • 15 जुलाई तक हुई कुल वसूली 10 करोड़ 9142583 रुपये।

इनका कहना है :

हम हर सप्ताह सम्पत्तिकर वसूली की समीक्षा करेंगे। जो भी टीसी लक्ष्य की वसूली नहीं कर पायेगा उसके खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। वर्तमान में कोरोना संक्रमण कम हुआ है इसलिए टीसियों को हर हाल में लक्ष्य की प्राप्ति करनी ही है। साथ ही एपीटिओ, उपायुक्त एवं अपर आयुक्त को भी लक्ष्य पूर्ति कराने के लिए लगातार मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए हैं।

शिवम वर्मा, निगमायुक्त

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co