जेल में बीती कंप्यूटर बाबा की दिवाली, अब दायर हुई बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका

इंदौर, मध्यप्रदेश : कंप्यूटर बाबा की परेशानी कम होने का नाम नहीं ले रही, अब बाबा को 17 नवंबर तक न्यायिक हिरासत में रखने के आदेश।
जेल में बीती कंप्यूटर बाबा की दिवाली, अब दायर हुई बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका
कंप्यूटर बाबाSocial Media

इंदौर, मध्यप्रदेश। इंदौर में कंप्यूटर बाबा की परेशानी कम होने का नाम ही नहीं ले रही हैं बाबा पर एक के बाद एक केस दर्ज होते जा रहे हैं। बता दें कि 8 नवंबर को जिला प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई करते हुए कम्प्यूटर बाबा द्वारा किया गया अतिक्रमण हटाया था, वहीं 9 नवंबर सुपर काॅरिडोर और अंबिकापुरी में निर्माण ध्वस्त किया था, इस मामले में विरोध करने पर प्रशासन ने बाबा सहित उनके सात समर्थकों को गिरफ्तार कर सेंट्रल जेल भेज दिया था।

कंप्यूटर बाबा को लेकर दायर हुई बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका :

बता दें कि जेल मेंं बन्द कंप्यूटर बाबा के खिलाफ अब तक तीन केस दर्ज हो चुके हैं। कंप्यूटर बाबा की दीपावली भी जेल में ही बीती। सेंट्रल जेल में करवट बदलते हुए बाबा की रातें कट रही हैं। शनिवार को उन्हें जिला कोर्ट में पेश किया गया था। जहां से उन्हें 17 नवंबर तक न्यायिक हिरासत में रखने के आदेश हुए हैं। इस बीच बाबा को लेकर हाई कोर्ट में बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दायर हो गई है।

मिली जानकारी के मुताबिक रविवार को छुट्टी के दिन जस्टिस एससी शर्मा और जस्टिस विवेक रूसिया की विशेष युगल पीठ के समक्ष की सुनवाई होगी और कंप्यूटर बाबा को लेकर हाई कोर्ट में बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दायर हो गई है। कोर्ट से प्रोडक्शन वारंट जारी होने के बाद पुलिस बाबा को जिला कोर्ट लेकर पहुंची जहां से उन्हें 17 नवंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

SDM कोर्ट ने निरस्त की थी जमानत

बताते चलें कि नामदेव दास त्यागी (कम्प्यूटर बाबा) की जमानत याचिका एसडीएम राजेश राठौर की कोर्ट ने निरस्त कर दी थी, जमानत निरस्त होने से नामदेव दास त्यागी (कम्प्यूटर बाबा जेल में रहे, ऐसे में नामदेव दास त्यागी (कम्प्यूटर बाबा) की दिवाली भी जेल में ही मनी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co