Raj Express
www.rajexpress.co
हमीदिया अस्पताल भोपाल
हमीदिया अस्पताल भोपाल|Social Media
मध्य प्रदेश

जनजागरुकरता के लिए शुरू हुआ अभियान ‘हाथ न मिलाएं, नमस्ते करें’

भोपाल, मध्यप्रदेश: प्रदेश में डेंगू के कहर के बाद अब स्वाइन फ्लू के खतरे को देखते हुए अस्पताल प्रबंधन ने शुरू की अनूठी पहल। कैंपेन के माध्यम से मरीजों और उनके परिजनों को किया जाएगा प्रेरित।

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश की राजधानी में डेंगू के कहर के बाद अब ठंड के मौसम में स्वाइन फ्लू संक्रमण के खतरे के रोकथाम के लिए हमीदिया अस्पताल प्रबंधन ने ‘हाथ न मिलाएं, नमस्ते करें’ कैंपेन की शुरूआत की हैं। जिसमें अस्पताल प्रबंधन द्वारा अभियान के तहत मरीजों और उनके परिजनों को हाथ मिलाने के बजाय हाथ जोड़कर अभिवादन करने के लिए जागरुक किया जा रहा है। साथ ही संक्रमण से बचने के एहतियाती कदम के रुप में फायदे बताए जाएंगे।

आयुष्मान मित्र और सामाजिक कार्यकर्ताओं को दी जिम्मेदारी:

इस पहल के तहत अस्पताल प्रबंधन ने 10 आयुष्मान मित्र और 10 सामाजिक कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारी दी है, इसके अलावा अस्पताल के नर्सिंग स्टाफ और पैरामेडिकल स्टाफ को प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिसके अस्पताल में कार्यशाला आयो़जित स्वाइन फ्लू के संक्रमण से बचने के जरूरी जानकारियों सहित कैंपेन के तहत हाथ ना मिलाने , हाथ जोड़ने के फायदों के बारे में बताया जाएगा । जिससे वे अस्पताल में आने वाले हर व्यक्ति को इसके बारे में जानकारी दे सकें।

अस्पताल अधीक्षक डॉ. ए. के. श्रीवास्तव का कहना है, कि :

आगामी दिसंबर और जनवरी ठंड के मौसम में स्वाइन फ्लू के मरीजों की तादाद निरंतर बढ़ती जाती है, जिससे सर्दी-खांसी के संक्रमण के खतरो में हाथ मिलाने से संक्रमण फैलने की संभावना बढ़ती है। इसी को देखते हुए इस कैंपेन की शुरू किया गया है। जिसे मरीजों को संक्रमण से बचाते हुए ही मरीजों के परिजनो के समझाइश देने के लिए चलाया जा रहा हैं।

दिल्ली एम्स से प्रेरणा लेकर की कैंपेन की शुरुआत :

बता दें कि, इस कैंपेन की शुरुआत दिल्ली के एम्स अस्पताल में चल रहे वर्ल्ड एंटीबायोटिक अवेयरनेस वीक के तहत शुरू हुए नमस्ते कैंपेन से प्रेरित होकर की गई है। इस कैंपेन से दिल्ली के एम्स अस्पताल प्रबंधन को काफी फायदा मिला है। हमीदिया अस्पताल में 3000 मरीज रोज पहुंचते हैं, जिनके साथ 6000 से ज्यादा अटेंडेंट यहां आते हैं। वहीं पिछले वर्षो के मुकाबले स्वाइन फ्लू के मरीजों की संख्या बढ़ रही हैं। जिसे देखते हुए ये कैंपेन शुरू किया गया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।