किसान के परिजन से मिलने पहुंचे कांग्रेस नेताओं का विरोध
किसान के परिजन से मिलने पहुंचे कांग्रेस नेताओं का विरोध|Deepika Pal-RE
मध्य प्रदेश

किसान के परिजन से मिलने पहुंचे कांग्रेस नेताओं का विरोध, लोगों ने लगाए आरोप

हरदा, मध्यप्रदेश: अतरसमा गांव में खुदकुशी करने वाले किसान लक्ष्मीनारायण के परिजन से मिलने पहुंचे कांग्रेसी नेताओं को लोगों के विरोध का सामना करना पड़ा।

Deepika Pal

Deepika Pal

हरदा, मध्यप्रदेश। प्रदेश में महामारी का संकट इस साल के कुछ महीनों में अब तक बना हुआ ही है वहीं दूसरी तरफ संकट काल के बीच कई अप्रत्याशित घटनाएं सामने आती जा रही हैं, इस बीच ही हरदा के अतरसमा गांव में खुदकुशी करने वाले किसान लक्ष्मीनारायण के परिजन से मिलने पहुंचे कांग्रेसी नेताओं को लोगों के विरोध का सामना करना पड़ा। लोगों ने उन पर गंभीर आरोप लगाते हुए विरोध किया है।

किसान की खुदकुशी पर परिजनों से मिलने पहुंचे थे सभी कांग्रेस नेता

इस संबंध में बताते चलें कि, हरदा के अतरसमा गांव में किसान की खुदकुशी और उसे बीमा की राशि नहीं मिलने की सारी सच्चाई जानने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की टीम के पूर्व पीसीसी अध्यक्ष अरुण यादव, पूर्व मंत्री जीतू पटवारी, विधायक कुणाल चौधरी और पूर्व विधायक आरके दोगने समेत अन्य कांग्रेसी नेता पहुंचे थे जहां किसान के ससुर से मिले और उनसे चर्चा की। किसान पर कर्ज और उन्हें मिले बीमा के बारे में जानकारी ली। इसी बीच लोगों में गुस्सा भड़का और झूमाझटकी तक की नौबत आ गई थी। ऐसे में लोगों को उग्र होता देख सुरक्षा कर्मियों की सुरक्षा में किसी तरह नेता बाहर निकले।

कांग्रेस नेताओं ने शिवराज सरकार पर लगाए आरोप

इस संबंध में बताते चलें कि, कांग्रेस नेताओं में अरुण यादव ने आरोप लगाते हुए कहा कि खुद को किसान हितैषी बताने वाले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और कृषि मंत्री दो-चार रुपए बीमा दिला कर अन्नदाता का अपमान कर रहे हैं। हम यहां पर इसी की हकीकत जानने आए थे। हम सच सामने लाकर रहेंगे। लोगों को असलियत बताना जरूरी है। साथ ही पूर्व मंत्री पटवारी ने कहा कि, सीएम और कृषि मंत्री भाषणों में ही किसानों के प्रति चिंता जताते हैं, यदि उन्हें किसानों की इतनी ही चिंता है तो सरकार खुद 3 नए अध्यादेशों का विरोध क्यों नहीं करती।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co