महेश्वर में स्वास्थ्य व राजस्व विभाग की टीम पर पथराव, 5 गिरफ्तार
महेश्वर में स्वास्थ्य व राजस्व विभाग की टीम पर पथराव, 5 गिरफ्तार|File Copy
मध्य प्रदेश

आइसोलेशन सेंटर बना महेश्वर वासियो और प्रशासन के बीच हुए पथराव की जड़

खरगोन, मध्य प्रदेश: खरगोन जिले के महेश्वर में कोविड केयर सेंटर के समीप रहने वालों ने आपत्ति उठाते हुए स्वास्थ्य व राजस्व विभाग की टीम पर हमला कर दिया।

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के खरगोन जिले के महेश्वर में आज रात्रि कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद उन्हे कोविड केयर सेंटर भेजने के दौरान समीप रहने वालों ने आपत्ति उठाते हुए स्वास्थ्य व राजस्व विभाग की टीम पर हमला बोल दिया। घटना को लेकर पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

आखिर क्यों किया रहवासियों ने हमला ?

पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार पांडे ने बताया कि इंदौर की एक बिल्डिंग के 31 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे। उसमें से 6 लोग बिना सूचना के खरगोन जिले के महेश्वर आ गए थे। महेश्वर में उनके दो अन्य रिश्तेदार रहते थे। उक्त 6 लोग 10 वर्ष पूर्व इंदौर चले गए थे, वहां स्वर्ण आभूषणों का व्यापार करते थे। पुलिस ने उनके विरुद्ध अवैध रूप से बिना सूचना दिए महेश्वर आने को लेकर प्रकरण दर्ज किया था। महेश्वर आने के उपरांत उक्त छह लोगों से उनके अन्य दो रिश्तेदारों को भी संक्रमण हो गया।

आज रात्रि उन्हें महेश्वर से डेढ़ किलोमीटर दूर पुरातत्व विभाग की एक इमारत जिसे कोविड-19 केयर सेंटर घोषित किया गया है, ले जाया जा रहा था। कोविड-19 सेंटर का जायजा लेने पहुंचे तहसीलदार और स्वास्थ्य विभाग के अमले पर वहां के करीब 50 से अधिक निवासियों ने पथराव कर दिया। उनका कहना था कि यहां कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों को लाने से उन्हें खतरा हो सकता है।

तहसीलदार ने दी थानेदार को सूचना :

तहसीलदार महेश्वर द्वारा महेश्वर के थानेदार को सूचना दिए जाने पर पुलिस बल मौके पर पहुंचा और उसने स्थिति को नियंत्रण में किया। इस मामले में 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

महेश्वर के थानेदार हाकम सिंह पवार ने बताया कि "कोरोना पॉजिटिव पाए गए एक व्यक्ति को खरगोन स्थित जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है और अन्य 7 लोगों को आज रात्रि महेश्वर के कोविड-19 सेंटर में शिफ्ट किया जाना था। अब उन्हें वृंदावन कॉलोनी स्थित उनके निवास पर ही होम आइसोलेशन में रखा गया है।"

डिस्क्लेमर: यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। सिर्फ शीर्षक में बदलाव किया गया है। अतः इस आर्टिकल अथवा समाचार में प्रकाशित हुए तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर ।

Raj Express
www.rajexpress.co