Raj Express
www.rajexpress.co
शिक्षक विहीन हाई स्कूल के बच्चों का भविष्य अंधकार में
शिक्षक विहीन हाई स्कूल के बच्चों का भविष्य अंधकार में|Pankaj Yadav
मध्य प्रदेश

छतरपुर: शिक्षक विहीन हाई स्कूल के बच्चों का भविष्य अंधकार में

कटिया, छतरपुर : भवानीपुर का हाईस्कूल शिक्षक विहीन है, स्कूल में अतिथि शिक्षकों के भरोसे विद्यालय को चलाया जा रहा है शिक्षकों की कमी से जूझ रहे स्कूल के बच्चों का भविष्य संकट में है।

Priyanka Yadav

Pankaj Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। मध्य प्रदेश राज्य के छतरपुर जिले में लौंडी तहसील में एक गाँव है कटिया! कटिया में स्थित बछौन संकुल अंतर्गत भवानीपुर का हाईस्कूल शिक्षकविहीन है। इस स्कूल में अतिथि शिक्षकों के भरोसे विद्यालय को चलाया जा रहा है। शिक्षकों की कमी से जूझ रहे स्कूल के बच्चों का भविष्य संकट में है। विभाग ने एक स्थायी शिक्षक को तैनात नहीं किया है, जिसने यहां की शिक्षा व्यवस्था को बुरी तरह से बर्बाद कर दिया है। इस स्कूल में बच्चों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

शिक्षकों की कमी से बच्चों का भविष्य अंधकार में

बछौन संकुल अंतर्गत भवानीपुर के हाईस्कूल में शिक्षा ग्रहण करने के लिए बच्चों को काफी परेशानी उठानी पड़ रही है। शिक्षकों की कमी से प्रभावित हो रही छात्रों की पढ़ाई को लेकर अभिभावक काफी चिंतित हैं। इस दौरान बच्चे अपनी पढ़ाई कैसे करेंगे? शिक्षक विहीन के कारण बच्चों के पठन-पाठन पर काफी असर पड़ रहा है। क्योंकि शिक्षकों की कमी के चलते बच्चों को स्कूलों में बच्चो को नियमित रूप से शिक्षा नहीं मिल पा रही है।

शिक्षा का स्तर हुआ न्यून, विद्यालय में शौचालय भी नहीं

संकुल अंतर्गत भवानीपुर के हाईस्कूल में अतिथि शिक्षक सिर्फ नाम के हैं। इस स्कूल में पढ़ाई का स्तर इतना गिर गया है कि, दसवीं के छात्रों को पानी का सूत्र तक नहीं पता है। भवानीपुर के हाईस्कूल विद्यालय में शौचालय तक की सुविधा नहीं है। स्कूल की छात्रा ने बताया कि विद्यालय में शौचालय न होने से उन्हें शौचालय खेतों की ओर जाना पड़ता है, जिसके चलते बच्चों को स्कूल में बहुत परेशानी होती है। बरसात में जहां जहरीले जीव-जंतुओं का खतरा है तो वहीं इस क्रिया के लिए खेतों में जाना मजबूरी है।

सचिव रामपाल अग्रिहोत्री ने कहा-

भवानीपुर के सचिव रामपाल अग्रिहोत्री का कहना है कि, विद्यालय में शौचालय निर्माण के लिए उनके पास राशि नहीं है इसलिए निर्माण कार्य बाधित है।