सिवनी : कैसे जायेंगे पार्षद वार्डवासियों से वोट मांगने

सिवनी, मध्य प्रदेश : नगर के 24 वार्डो में रहने वाले लोग जो कि छोटी छोटी समस्याओं से जूझ रहे हैं। हर वार्ड में समस्याओं का लगा है अंबार।
सिवनी : कैसे जायेंगे पार्षद वार्डवासियों से वोट मांगने
सिवनी : कैसे जायेगे पार्षद वार्डवासियों से वोट मांगनेPankaj Baraiya - RE

सिवनी, मध्य प्रदेश। नगर पालिका चुनाव का आगामी दिनों में बिगुल बज सकता है जिसको लेकर भाजपा एवं कांग्रेस पार्टी में हलचल मची हुयी है दोनों ही पार्टी के सत्ता में आसीन पार्षदों से लोगों में असंतोष खुलकर सामने आ रहा है, और इस बार किस मुंह से नेता इन वार्डो में वोट मांगगे यह चिंता का विषय बना हुआ है।

वार्डवासियों की समस्या :

नगर के 24 वार्डो में रहने वाले लोग जो कि छोटी छोटी समस्याओं से जूझ रहे हैं। अगर उन्होंने किसी वार्ड में प्लाट लेकर मकान बनवाया है तो अवैध कालोनी के नाम पर या डायवट्रेड ना होने के कारण उन्हें सुविधा सें वंचित किया जाता है। इसी तरह राशन कार्ड बनवाने नाम जुड़वाने करवाने, वोटर आईडी बनवाने आधार कार्ड पेंशन संबल योजना, आवास योजना आदि का लाभ ना मिलना ऐसे में बीते वर्षो में पार्षदों का सहयोग नगण्य रहा।

लॉक डाउन में नहीं ली सुध :

अनेक परिवार ऐसे थे जो लॉक डाउन के चलते अपने घर का चूल्हा तक नहीं जला पा रहे थे क्योंकि उनके हाथों से रोजगार छिन गया था ऐसे में उनके सामने भरण पोषण की समस्या निर्मित हुई मगर किसी ने सुध नहीं ली। जबकि शासन ने काफी सामग्री ऐसे परिवारों के लिए भेजी थी।

अतिक्रमण अभियान से परेशान :

नगर में बरसाती मेढ़क की तरह कभी भी अतिक्रमण अभियान प्रारंभ कर दिया जाता है और इसका ना तो कोई उद्देश्य होता और ना ही कोई विकास जुड़ा होता ऐेसे में लोगों के तोड़े गये मकान प्रतिष्ठान का अतिरिक्त भार जेब पर पड़ता है लेकिन किसी ने भी शहर वासियों के दर्द को नहीं समझा। विपक्ष ने सिर्फ राजनैतिक रोटी सेंकने को अपना सब कुछ माना जिससे लोग आज भी आक्रोशित हैं।

आवागमन साधन बंद में रोजगार प्रभावित :

ग्रामीण अचंलों से आने वाले लोगों से शहर वासियों का धंधा चलता था लेकिन विगत 8 माह से लॉकडाउन ने लोगों से आय के स्त्रोत छीन लिये गांव से लोग शहर इसलिए नहीं आ रहे थे क्योंकि यहां से आने जाने के साधन नहीं थे।

बिजली सड़क नाली की समस्या :

भले ही प्रदेश सरकार ने सभी कालोनियों को वैध घोषित कर दिया है लेकिन नगर पालिका आज भी इन कालोनियों को अवैध मानती है और जिसके कारण अनेक वार्डो में बिजली सड़क नाली के कार्य नहीं हो पाए हैं।

इनका कहना है :

हमारे वार्ड में जब जब लोग समस्या लेकर आये हैं हमारा प्रयास रहा है कि हमने उनकी समस्या निराकरण को लेकर पहल की, लेकिन विभागीय स्तर पर समस्या का समाधान ना होने पर लोग दोष हम पर मढ़ते हैं।

सुरेन्द्र करोसिया, पार्षद टैगोर वार्ड, सिवनी

हमारे वार्ड को नगर पालिका उपाध्यक्ष के रूप में पार्षद मिला था और लोगों को उम्मीद थी कि इस वार्ड के लोगों की समस्या का समाधान शीघ्र होगा लेकिन पार्षद के निधन के कारण वार्डवासी अपनी समस्याओं को लेकर परेशान हैं। ना तो लोगों को आवास योजना का लाभ मिल रहा और ना ही संबल योजना का इसके अतिरिक्त अनेक समस्याएं हैं।

अंशुल यादव, सजल जैन, प्रंसग जैन, इलू यादव, महावीर वार्ड सिवनी

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co