कैलाश विजयवर्गीय समेत सैकड़ों कार्यकर्ता बैठे धरने पर
कैलाश विजयवर्गीय समेत सैकड़ों कार्यकर्ता बैठे धरने पर|Social Media
मध्य प्रदेश

कैलाश विजयवर्गीय समेत सैकड़ोंकार्यकर्ता बैठे धरने पर

इंदौर: भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय सहित सैकड़ों कार्यकर्ता कमिश्नर के घर के सामने धरने पर बैठ गए। विजयवर्गीय ने एडीएम को धमकी दी शहर में संघ के पदाधिकारी हैं, वरना इंदौर में आग लगा देता

Aditya Shrivastava

राज एक्सप्रेस। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय आज इंदौर कमिश्नर आकाश त्रिपाठी के घर के सामने धरने पर बैठ गए। धरने पर बैठे विजयवर्गीय ने एडीएम से कहा- हमसे मिलने के लिए अधिकारियों के पास समय नहीं है, इतने बड़े हो गए क्या? हम लिखित में पत्र दे रहे हैं कि हम मिलना चाहते हैं। उन्हें समझना चाहिए कि वे जनता के नौकर हैं। ये बर्दाश्त नहीं करेंगे अब। वो तो हमारे संघ के पदाधिकारी शहर में हैं, नहीं तो आज आग लगा देता इंदौर में।

शहर की समस्याओं पर चर्चा के लिए पत्र लिखकर बुलाने के बाद भी अधिकारियों के नहीं आने को उन्होंने शासन-प्रशासन का अहंकार बताया और कहा कि, यहाँ भाजपा और उसके कार्यकर्ताओं का अपमान है। वक्त आने पर इसका जवाब देंगे। इस धरने में विजयवर्गीय के साथ भाजपा के पधादिकारी समेत सैकड़ोंकार्यकर्ता मौजूद रहे।

दरअसल, शहर की समस्याओं पर बात करने के लिए भाजपा नगर अध्यक्ष के माध्यम से एक पत्र चार अधिकारियों को लिखा गया था। पत्र के माध्यम से बताया गया था कि, शुक्रवार को भाजपा महासचिव और अन्य भाजपा नेता उनसे रेसीडेंसी पर मीटिंग करना चाहते हैं, लेकिन कोई अधिकारी बैठक में शामिल नहीं हुआ। इसी बात को लेकर विजयवर्गीय ने अधिकारियों को जमकर खरी-खोटी सुनाई और कमिश्नर आकाश त्रिपाठी के घर के सामने धरने पर बैठ गए। इस धरने में उनके साथ सांसद शंकर लालवानी, विधायक महेंद्र हार्डिया, विधायक रमेश मेंदोला, विधायक आकाश विजयवर्गीय, पूर्व विधायक जीतू जिराती, नगर अध्यक्ष सहित सैकड़ों नेता कार्यकर्ता धरने पर बैठे।

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि हमने इंदौर की समस्या के बारे में बात करने के लिए अधिकारियों चर्चा करना चाह रहे थे। इस संबंध में हमारे जिला अध्यक्ष ने विधिवत चार अधिकारियों कमिश्नर आकाश त्रिपाठी, कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव, पुलिस प्रमुख रुचिवर्धन मिश्र और निगम कमिश्नर आकाश को पत्र लिखा था।

कैलाश विजयवर्गीय समेत सैकड़ों कार्यकर्ता
कैलाश विजयवर्गीय समेत सैकड़ों कार्यकर्ता Social Media

उन्होंने कहा कि हम अधिकारियों से मिलने रेसिडेंसी कोठी पहुंचे, लेकिन वहां कोई नहीं मिला। भाजपा कोई छोटी-मोटी पार्टी नहीं है। राष्ट्रीय पार्टी है, जिसकी केंद्र में सरकार है। नगर अध्यक्ष यदि अधिकारियों को पत्र लिखता है और अधिकारी उसका जवाब भी नहीं देता तो यह हमारे लिए गंभीर बात है। हम इसे शासन और प्रशासन का अहंकार मानते हैं। अहंकार रावण का भी खत्म हुआ है और इसलिए इस अहंकार का जवाब हम वक्त आने पर देंगे। हम इसे भाजपा और उसके कार्यकर्ताओं का अपमान मान रहे हैं। यदि भाजपा कार्यकर्ताओं का कोई अपमान करे चाहे फिर वह कितना ही बड़ा नेता हो अधिकारी हो उसे जमीन दिखाना हमें आता है, वक्त आने पर हम उन्हें दिखा देंगे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co