जबलपुर : भ्रष्टाचार मामले को हुसैनिया पदाधिकारियों ने माना

एनएसयूआई के महासचिव ने बताया कि छात्रों के संघर्ष के नतीजे में दबाव बना और सोसायटी में गबन की बात साबित हुई। अभी सिर्फ फीस का भ्रष्टाचार सामने आया। एनएसयूआई ने की सख्त कदम उठाने की मांग।
जबलपुर : भ्रष्टाचार मामले को हुसैनिया पदाधिकारियों ने माना
भ्रष्टाचार मामले को हुसैनिया पदाधिकारियों ने मानाSyed Dabeer Hussain - RE

जबलपुर, मध्य प्रदेश। मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र के हुसैनिया कन्या स्कूल में छात्राओं की फीस में लगभग 68 लाख के गबन की बात हुसैनिया एजुकेशन सोसाइटी ने रविवार को हुई बैठक में मान ली गई। बहोराबाग स्थित हुसैनिया स्कूल में हुई हुसैनिया एजुकेशनल सोसायटी की बैठक में अध्यक्ष और सचिव ने आर्थिक अनियमितता करने और स्कूल का पैसा प्रापर्टी में लगाने की बात स्वीकार की है।

वहीं समिति ने सर्वसम्मति से इस कृत्य की निंदा की और दोनों पदाधिकारियों को 6 माह के अंदर जमीन बेचकर पूरा पैसा बैंक के खाते में जमा करने का समय दिया। गौरतलब है कि भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन ने इस मामले में जिला शिक्षा अधिकारी और फर्म एवं सोसायटी अतिरिक्त रजिस्ट्रार को ज्ञापन सौंपा था। एनएसयूआई के महासचिव अदनान अंसारी ने बताया कि छात्रों के संघर्ष के नतीजे में दबाव बना और सोसायटी में गबन की बात साबित हुई। अभी सिर्फ फीस का भ्रष्टाचार सामने आया। संगठन की यह मांग हैं कि स्कूल का 2005 से आज तक का ऑडिट प्रशासन की निगरानी में समिति बनाकर किया जाए। संगठन के शाहनवाज अंसारी, मोहम्मद अली, अपूर्व केसरवानी आदि ने दोषियों पर सख्त कार्यवाही करते हुए उच्च स्तरीय जांच की मांग की है।

आर्थिक अनियमितता उजागर होने के बाद भी जारी रहेगा संघर्ष :

हुसैनिया एजुकेशनल सोसायटी में भ्रष्टाचार मामले में आंदोलन कर रहे ताज उस्मानी और इमरान खान ने बताया कि जब तक आर्थिक अनियमितताओं का पूरा पैसा हुसैनिया स्कूल में वापस नहीं आता और दोषियों पर कानूनी कार्यवाही नहीं होती तब तक यह संघर्ष जारी रहेगा। आंदोलनकारियों की मांग वर्ष 2005 से 2020 तक संस्था का ऑडिट कराए जाने की है, इसी के साथ दूसरे स्कूलों से भी स्कूल के हिसाब किताब को सार्वजनिक करने की मांग की गई है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co