कांग्रेस नेताओं की अभद्र टिप्पणी से मुझे फर्क नहीं पड़ता : शिवराज

श्री चौहान ने छतरपुर जिले के बड़ामलहरा एवं रायसेन जिले के सांची में भी जनसभाओं को संबोधित किया। इस दौरान केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री सुश्री उमा भारती भी मौजूद रहीं।
कांग्रेस नेताओं की अभद्र टिप्पणी से मुझे फर्क नहीं पड़ता : शिवराज
कांग्रेस नेताओं की अभद्र टिप्पणी से मुझे फर्क नहीं पड़ता : शिवराजSocial Media

भोपाल, मध्य प्रदेश। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस नेताओं द्वारा की जा रही अभद्र टिप्पणी को लेकर उनपर निशाना साधते हुए कहा कि उनकी इस तरह की अभद्र टिप्पणी से उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता, क्योंकि वे जनता सेवक हैं और उनकी सेवा में दिन रात लगे रहेंगे। श्री चौहान ने अनूपपुर विधानसभा के फुनगा में भाजपा प्रत्याशी बिसाहूलाल सिंह के समर्थन में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए यह बातें कहीं। श्री चौहान ने छतरपुर जिले के बड़ामलहरा एवं रायसेन जिले के सांची में भी जनसभाओं को संबोधित किया। इस दौरान केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री सुश्री उमा भारती भी मौजूद रहीं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के लोग उन्हें रोज नए-नए नाम दे रहे हैं, अभद्र भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं, लेकिन मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। उन्होंने कहा कि वे तो अपने प्रदेश की जनता का सेवक हैं और उनकी सेवा में दिन-रात लगे रहेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास चुनाव में कोई मुद्दे तो है नहीं, उनके पास तो यही मुद्दे हैं। कांग्रेस के पास कोई एजेंडा नहीं है। वे तो सिर्फ हमें कोसते रहेंगे। पहले सरकार में आए जब भी कोस रहे थे कि भाजपा सरकार ने खजाना खाली कर दिया। उन्होंने कहा कि इनके पास विकास कार्य कराने की इच्छाशक्ति नहीं थी। हमने भी सरकार में आते ही विकास कार्यों को शुरू किया और विकास कार्यों के लिए हमारे पास धन की कोई कमी नहीं है और न ही आने देंगे। चाहे कुछ हो जाए, विकास कार्य इसी गति से चलते रहेंगे। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर हमला बोला और कहा कि उन्हे प्रदेश की गरीब जनता के दुख दर्द से कोई मतलब नहीं है। श्री चौहान ने कहा कि हम जनता के लिए काम करते हैं, हम कुर्सी पर बोझ नहीं हैं और जिस काम से जनता की जिंदगी बदली है वही हमारी प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि हम जनता को झुककर प्रणाम करते हैं तो वे कहते हैं कि शिवराज सिंह ने तो जनता के सामने घूटने ही टेक दिए हैं। यही उनकी सोच है। वे विकास के नहीं विनाश के पक्षधर हैं, इसलिए उन्होंने मध्यप्रदेश को विनाश की तरफ धकेला है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co