Raj Express
www.rajexpress.co
सोन नदी से अवैध उत्खनन करना पड़ा महंगा
सोन नदी से अवैध उत्खनन करना पड़ा महंगा|Social Media
मध्य प्रदेश

शहडोलः सोन नदी से अवैध उत्खनन करना पड़ा महंगा

शहडोल, मध्यप्रदेशः प्रदेश में एनजीटी के आदेश आने के बाद शहडोल ऐसा जिला बन गया है, जहां कलेक्टर के द्वारा सख्ती से न्यायालय के आदेशों का पालन किया जा रहा है।

Shubham Tiwari

राज एक्सप्रेस। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी ललित दाहिमा ने अवैध रेत परिवहन में पकड़े गये हाईवा क्रमांक एमपी 18 एच 3878 को राजसात करते हुए, विजय कुमार यादव निवासी ग्राम बटुरा तहसील बुढ़ार को मध्यप्रदेश रेत (खनन, परिवहन, भण्डारण एवं व्यापार) नियम 2019 के नियम 20(1) के तहत खनिज के उत्खनित मात्रा की रॉयल्टी का 50 गुना 62 हजार 500 रूपये की शास्ति अधिरोपित की है एवं नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल मुख्य पीठ के कण्डिका 41 एवं 44 के साथ मध्यप्रदेश रेत नियम 2018 के उप नियम 23 (1) के तहत पर्यावरण क्षतिपूर्ती के रूप में 60 हजार रूपये का दण्ड अधिरोपित किया है।

जारी आदेश में राजसात किए गए वाहन की नीलामी अपील अवधि पश्चात् सम्पन्न कराये जाने के आदेश दिए गए हैं। खनिज अधिकारी द्वारा कलेक्टर न्यायालय में प्रतिवेदन प्रस्तुत कर उक्त प्रकरण में कार्यवाही करने हेतु प्रतिवेदित किया गया था। प्रतिवेदन के अनुसार ग्राम बटुरा तहसील बुढ़ार की सोन नदी क्षेत्र में अवैध उत्खनन के संबंध में 11 मई 2019 को सुबह 6.30 बजे राजस्व विभाग, पुलिस एवं खनिज अधिकारी एवं खनिज निरीक्षक द्वारा निरीक्षण किए जाने पर उक्त वाहन में जेसीबी के द्वारा रेत भरते हुए पाया गया था। जिसका प्रकरण तैयार कर आवश्यक कार्यवाही हेतु प्रस्तुत किया गया था।