यूरिया के अवैध भंडारण को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा : मंत्री कमल पटेल
यूरिया के अवैध भंडारण को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा : मंत्री कमल पटेलSocial Media

यूरिया के अवैध भंडारण को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा : मंत्री कमल पटेल

मध्य प्रदेश के किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री कमल पटेल ने कहा कि हमने अधिकारियों को उर्वरक के अवैध भंडारण करने वालों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही करने के साफ निर्देश दिए हैं।

मध्य प्रदेश के किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री कमल पटेल ने खरीफ की फसलों को दृष्टिगत रखते हुए यूरिया आपूर्ति की समीक्षा की। उन्होंने वरिष्ठ कृषि अधिकारियों को निर्देशित किया कि कपास और मक्का उत्पादक जिलों में यूरिया की पर्याप्त मात्रा में आपूर्ति सुनिश्चित करें। मंत्री पटेल ने गरोठ रैक प्वाइंट को भारत सरकार से शीघ्र चालू कराने के लिये फॉलोअप के निर्देश दिये।

मध्य प्रदेश को शीघ्र मिलेगा एक लाख मीट्रिक टन यूरिया

कृषि मंत्री कमल पटेल ने केन्द्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री सदानंद गौड़ा से दूरभाष पर एक लाख मीट्रिक टन अतिरिक्त यूरिया उपलब्ध कराने के लिये चर्चा की। केन्द्रीय मंत्री ने आश्वस्त किया कि एक सप्ताह में यूरिया की खेप मध्यप्रदेश को उपलब्ध करा दी जायेगी। मंत्री पटेल ने बताया कि पूर्व में हुई चर्चा अनुसार एक लाख 50 हजार मीट्रिक टन अतिरिक्त यूरिया मध्यप्रदेश को उपलब्ध कराया जाना था। अब तक 43 हजार मीट्रिक टन अतिरिक्त यूरिया प्राप्त हुआ है। शेष यूरिया की मात्रा शीघ्र ही उपलब्ध कराई जाये।

कृषि मंत्री कमल पटेल ने खरीफ की फसलों को दृष्टिगत रखते हुए प्रदेश में यूरिया की उपलब्धता और आपूर्ति की समीक्षा करते हुए छिन्दवाड़ा, खरगोन, खण्डवा, बड़वानी एवं अन्य जिलों में यूरिया की आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि आगामी सप्ताह से धान उत्पादक जिलों में भी यूरिया की माँग बढ़ेगी। उन क्षेत्रों में यूरिया की आवश्यकता को दृष्टिगत रखते हुए अग्रिम भण्डारण कराये जाने के निर्देश कृषि मंत्री ने दिये।

अवैध भंडारण पर हो रही है सख्त कार्यवाही

मंत्री कमल पटेल ने यूरिया का अवैध भण्डारण करने वालों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिये। अतिरिक्त कृषि उत्पादन आयुक्त के.के. सिंह ने बताया कि यूरिया का अवैध भण्डारण करने पर अब तक 7 एफआईआर दर्ज की गई हैं। इनमें से 3 एफआईआर छिन्दवाड़ा जिले में और एक-एक एफआईआर सिवनी, बड़वानी, छतरपुर और नरसिंहपुर में दर्ज की गई हैं। इसके अतिरिक्त सिवनी में 3 प्रकरणों में उर्वरक भण्डारण अधिग्रहित कर एफआईआर की कार्यवाही प्रक्रियाधीन है। छिन्दवाड़ा में बगैर बिल के उर्वरक बेचने, बैतूल में अवैध भण्डारण और खरगोन में रिकार्ड संधारण में गड़बड़ी पर लायसेंस निलंबित किये गये हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co