Bhopal : हादसों से दहशत में अफसर करवाएंगे जर्जर विद्युत व्यवस्था में सुधार
स्कूल में पंखा गिरने के बाद जागे अधिकारीRaj Express

Bhopal : हादसों से दहशत में अफसर करवाएंगे जर्जर विद्युत व्यवस्था में सुधार

भोपाल : विद्यालयों की जर्जर व्यवस्था में सुधार किया जाएगा। दो दिन पहले एक शासकीय स्कूल में पंखा गिरने से घायल हुए बच्चों की पीड़ा को गंभीरता से लिया गया है। इसके बाद अधिकारी हरकत में आए हैं।

भोपाल, मध्यप्रदेश। विद्यालयों की जर्जर व्यवस्था में सुधार किया जाएगा। दो दिन पहले एक शासकीय स्कूल में पंखा गिरने से घायल हुए बच्चों की पीड़ा को गंभीरता से लिया गया है। इसके बाद अधिकारी हरकत में आए हैं। निर्णय लिया गया है कि जितने भी विद्यालयों में जर्जर विद्युत व्यवस्था है। उसमें समय रहते तेजी से सुधार किया जाएगा।

जिला शिक्षा अधिकारी नितिन सक्सेना ने बताया है कि समस्त स्कूलों में जर्जर विद्युत व्यवस्था में सुधार किया जाएगा। इसके लिए संकुल प्राचार्य को आदेश प्रसारित किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया है कि कई स्कूलों में सालों से विद्युत व्यवस्था में सुधार नहीं किया गया है। पंखे के राड जहां कमजोर हैं, वहीं कई जगहों पर फिटिंग भी उखड़ी पड़ी हुई है। ऐसी व्यवस्था हर समय बच्चों के लिए भी खतरे का कारण बनी हुई है। नतीजतन विद्युत व्यवस्था में सुधार करना जरूरी है। जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया है कि मौजूदा सप्ताह में ही इस संबंध में आदेश जारी कर दिए जाएंगे। इसके साथ ही यह निर्देश भी दिए जा रहे हैं कि यदि किसी स्कूल में कक्ष जर्जर है या दीवार अथवा छत उखड़ी है तो उसकी भी समय से मरम्मत करवाई जाए। ताकि कोई अनहोनी घटित नहीं हो पाये।

सबसे अधिक पुराने स्कूलों में बना हुआ है खतरा :

इधर बताना होगा कि भोपाल में जितने भी पुराने स्कूल हैं वहां सभी जगह खतरा बना हुआ है। गिन्नौरी स्थित हमीदिया हायर सेकेंडरी स्कूल में भी चारों तरफ फिटिंग उखड़ी पड़ी हुई है। मॉडल शाहजहानाबाद में इसी प्रकार के हालात बने हुए हैं। मिडिल मॉडल शाहजहानाबाद में तो एक बार बारिश के कारण स्कूल में करंट तक आ गया था। क्योंकि भारी बारिश होने के कारण विद्युत फिटिंग उखड़ी थी। इस कारण पानी रिसाव के कारण करंट फैल गया था। सुल्तानिया स्कूल की ऊपरी मंजिल में भी जगह जगह तार निकले पड़े हैं। जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय के बगल में संचालित नवीन कन्या हायर सेकेंडरी स्कूल में भी जर्जर विद्युत व्यवस्था बनी है। न्यू मार्केट में स्थापित शासकीय कमला नेहरू हायर सेकेंडरी स्कूल में भी खतरा कम नहीं है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.