बच्चों के हाथों में भारत का भविष्य सुरक्षित है : शिवराज सिंह

भोपाल, मध्यप्रदेश : मुख्यमंत्री ने कहा है कि बच्चों के हाथों में भारत का भविष्य सुरक्षित है। बच्चों में प्रतिभा, योग्यता और क्षमता की कोई कमी नहीं है। बच्चों के समक्ष आगे बढ़ने के अनेक रास्ते हैं।
बच्चों के हाथों में भारत का भविष्य सुरक्षित है : शिवराज सिंह
बच्चों के हाथों में भारत का भविष्य सुरक्षित है : शिवराज सिंहSocial Media

भोपाल, मध्यप्रदेश। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि बच्चों के हाथों में भारत का भविष्य सुरक्षित है। बच्चों में प्रतिभा, योग्यता और क्षमता की कोई कमी नहीं है। बच्चों के समक्ष आगे बढ़ने के अनेक रास्ते हैं।

श्री चौहान आजादी का अमृत महोत्सव अंतर्गत स्कूल शिक्षा विभाग दो दिवसीय 'अनुगूँज' कार्यक्रम के समापन सत्र को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मनुष्य जैसा सोचता है वैसा ही बन जाता है। बच्चे अपनी प्रतिभा को निखार कर आगे बढ़ने का प्रयास करें। आप में से ही कोई इंजीनियर, डॉक्टर, मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री बनेंगे।

श्री चौहान ने कहा कि नई शिक्षा नीति में ज्ञान, कौशल और नागरिकता सभी का समावेश है। हम प्रदेश में नई शिक्षा नीति लागू कर प्रदेश को देश का अग्रणी राज्य बना रहे हैं। उन्होंने बच्चों से कहा कि आप सभी मुस्कुराते रहें, प्रसन्न रहे और लगातार प्रगति के पथ पर आगे बढ़ते रहे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आजादी हमें ऐसे ही नहीं मिली, हजारों क्रांतिकारियों ने देश की आजादी के लिए सर्वस्व न्यौछावर कर दिया। उनके त्याग, तपस्या और बलिदान से ही आजादी मिली है।

श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आत्म-निर्भर भारत बनाने का संकल्प लिया है। उनके नेतृत्व में हम तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। भारत को आप और हम मिलकर आत्म-निर्भर बना सकते हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना के केस दुनियाभर में बढ़ रहे हैं, इससे सावधान रहें।

श्री चौहान ने कहा कि दुनिया में कोई काम ऐसा नहीं है जो आप नहीं कर सकते। मेहनत और परिश्रम करें। आप चित्रकार, लेखक, खिलाड़ी तथा अलग-अलग क्षेत्रों में जा सकते हैं। ऊँची उड़ान भरें, पढ़ाई के साथ-साथ थोड़ा समय योग-प्राणायाम के लिए भी निकालें। समय को व्यर्थ न जाने दें। लक्ष्य निर्धारित कर देश और प्रदेश को आगे बढ़ायें।

श्री चौहान ने कार्यक्रम स्थल पर लगाई प्रदर्शनी का अवलोकन कर बच्चों द्वारा बनाए गए चित्रों और कलाकृतियों की सराहना की। उन्होंने सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियाँ देखीं और बच्चों का उत्साहवर्धन किया।

कार्यक्रम में स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री इंदर सिंह परमार, प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा श्रीमती रश्मि अरूण शमी सहित अन्य संबंधित अधिकारी, मेंटर्स, शिक्षक, छात्र-छात्राएँ और अभिभावक आदि उपस्थित थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.