Raj Express
www.rajexpress.co
नामचीन बदमाश ने रची थी साजिश, क्राईम ब्रांच की गिरफ्त में आरोपी
नामचीन बदमाश ने रची थी साजिश, क्राईम ब्रांच की गिरफ्त में आरोपी|Social Media
मध्य प्रदेश

नामचीन बदमाश ने रची थी साजिश, क्राइम ब्रांच ने धर दबोचा

बस आपरेटर तथा एजेण्ट के मध्य चल रहे, विवाद में हत्या की सुपारी लेकर मारूति वैन से रवाना हुया गिरोह, वारदात से पूर्व ही क्राईम ब्रांच इंदौर की गिरफ्त में।

Sudha Choubey

Sudha Choubey

हाइलाइट्स :

  • कुल 06 आरोपी गिरफ्तार

  • पेट्रोल पंप को लूटने वाले थे आरोपी

  • थाना भंवरकुआ के नामचीन बदमाश ने रची थी साजिश।

  • आरोपियों के कब्जे से बरामद हुए हथियार।

  • महू के बस एजेंट को मारने की थी साजिश।

  • सभी आरोपीगण नशा करने के हैं आदी।

राज एक्सप्रेस। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्रीमती रूचिवर्धन मिश्र इंदौर (शहर) व्दारा जघन्य सनसनीखेज वारदातों को अंजाम देने वाली गिरोहों पर नजर रखने, बेहतर आसूचना संकलन के माध्यम से ऐसी गिरोहों को वारदात से पूर्व ही दबोच कर, घटनाओं पर अंकुश पाने के लिये निर्देशित किया गया है। उक्त निर्देशों के तारतम्य मे पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय) इंदौर श्री सूरज वर्मा के निर्देशन मे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (क्राईम ब्रांच) श्री अमरेन्द्र सिंह द्वारा, क्राईम ब्रांच की टीम का गठन कर उसको शहर के नामचीन गुण्डों तथा बदमाशों की निगरानी रखने तथा अपराधों को आसूचना संकलित कर रोकने के संबंध में समुचित दिशा निर्देश दिये गये थे।

गोपनीय सूत्रों से मिली सूचना :

क्राईम ब्रांच इंदौर की टीम को गोपनीय सूत्रों से सूचना मिली थी कि, कुछ लोग गंभीर नदी पुलिया एबी रोड के पास हथियारों से लैस होकर फ्लाईंग जंक्शन, पेट्रोल पंप पर किसी बड़ी जघन्य वारदात को अंजाम देने की योजना बना रहे हैं। सूचना पर त्वरित कार्यवाही करते हुये, क्राईम ब्रांच की टीम ने थाना किशनगंज पुलिस के साथ संयुक्त कार्यवाही करते हुये मौके पर पहुंचकर घेराबंदी की जहां मौजूद हथियारों से लैस सभी बदमाश पुलिस को देखते ही भागने का प्रयास करने लगे परन्तु पुलिस की घेराबंदी व धरपकड़ में सभी बदमाश दबोच लिये गये, जिन्होंनें अपने नाम (1) मनोज वर्मा पिता लालू वर्मा उम्र 20 साल निवासी मकान नम्बर 265 जीत नगर, भंवरकुआ इन्दौर (2) रोहित कोकसे पिता राजनाथ कोकसे उम्र 16 साल निवासी जीत नगर, भंवरकुआ इन्दौर (3) लखन पंचोली उर्फ नाना पिता कडवा पंचोली उम्र 20 साल निवासी राहुल गांधी नगर भंवरकुआ इन्दौर (4) शिवा वर्मा पिता बलीराम वर्मा उम्र 19 साल निवासी जीत नगर भंवरकुआ इन्दौर (5) सुनील पिता मांगीलाल भालेकर उम्र 22 साल निवासी भवरकुआँ इन्दौर (6) जितेन्द्र बदामे पिता सीताराम उम्र 20 साल निवासी जीत नगर भंवरकुआ इन्दौर का होना बताये। आरोपीगणों से की गई प्रांरभिक पूछताछ में ज्ञात हुआ कि, वे पेट्रोल पंप लूटने के बाद महू के बस एजेण्ट अशोक वर्मा की हत्या को अंजाम देने की नियत से एकत्रित हुये थे।

तलाशी के दौरान मिले हथियार :

तलाशी के दौरान आरोपियों के कब्जे से 02 देशी कट्टे (मय कारतूस), 02 धारदार छुरा (बड़े चाकू) , 02 टॉमी, आदि हथियार बरामद हुये हैं। इस प्रकार डकैती की वारदात को अंजाम देने के लिये योजनाबद्ध तरीके से एकत्रित हुये सभी 06 आरेापियों को आसूचना संकलन के माध्यम से घटना से पूर्व ही पकड़ने में पुलिस को सफलता मिली है जिनके विरूद्ध थाना किशनगंज में अपराध क्रमाँक 564/19 धारा 399, 402 भादवि एवं 25, 27 आर्म्स एक्ट के तहत पंजीबद्ध किया गया है।

तलाशी के दौरान मिले हथियार
तलाशी के दौरान मिले हथियार
Social Media

पूछताछ में हुआ खुलासा :

पूछताछ में खुलासा हुआ कि, भंवरकुआ के रहने वाले निब्बू पहलवान तथा महू के बस एजेण्ट अशोक वर्मा के मध्य लम्बे समय से बसों के परिचालन को लेकर, परमिट के समय तथा अन्य कारणों से विवाद चल रहा था। चूँकि निब्बू पहलवान का भाई बस ऑपरेटर है तथा अशोक वर्मा बस एजेण्ट अतः उन दोनों के मध्य चल रही दुश्मनी में अशोक वर्मा को खत्म करने की निब्बू पहलवान ने मन में ठान ली तथा उसकी हत्या करने के लिये अपने परिचित मनोज वर्मा को सुपारी दी जिसके विरूद्ध थाना भंवरकुआ में 04 अपराध पूर्व से पंजीबद्ध है। निब्बू पहलवान पर दर्जन भर से अधिक प्रकरण दर्ज हैं, जिस पर हत्या का प्रकरण दर्ज होने से वह विगत दिनों में जेल में निरूद्ध किया गया था जोकि, वर्तमान में जेल से जमानत पर बाहर आया है। अतः वह स्वयं इस घटना को अंजाम नहीं देना चाहता था, इसलिये उसने गिरोह के जरिये घटना को अंजाम दिलाने की साजिश रची।

आरोपी मनोज वर्मा :

आरोपी मनोज वर्मा, निब्बू पहलवान के भाई की बसों पर पूर्व में कन्डेक्टर था, इसलिये जान पहचान होने से तथा सुपारी की मोटी रकम मिलने से उसने इस घटना को अंजाम देने के लिये हामी भर दी तथा अपनी गिरोह तैयार कर वारदात को अंजाम देने के लिये मारूति वैन वाहन क्रमांक MP 09 BD 1270 में सवार होकर निकले थे, जोकि सूचना मिलने पर पुलिस टीम द्वारा पेट्रोल पंप को लूटने से पूर्व ही पकड़ लिये गये तथा हत्या की वारदात को भी पुलिस टीम ने गिरोह को दबोच कर घटित होेने से बचा लिया। सभी आरोपीगण नशे की हालत में निकले थे, ताकि बेेझिझक, घटना को अंजाम दे सकें।

आरोपी रोहित :

आरोपी रोहित कक्षा 8वी तक पढ़ा है तथा हम्माली करता है, जिसके विरुध्द थाना भंवरकुआ मे झगड़े व मारपीट के 02 अपराध पंजीबध्द हैं। आरोपी लखन पंचोली, रोहित व शिवा हम्माली का काम करते हैं, जोकि शराब तथा अल्प्राजोलम का नशा करने के आदी हैं। नशे की हालत में वह पेट्रोल पंप की लूट तथा सुपारी के माध्यम से मिलने वाले पैसे की चाह में गिरोह के साथ वारदात करने के लिये निकले थे। आरोपियों से मारूति ओमनी वैन को भी जप्त किया गया है। आपराधिक षणयंत्र रचने के लिये निब्बू पहलवान की तलाश की जा रही है, जिसे प्रकरण में आरोपी बनाया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर ।