कोरोना के नि:शुल्क इलाज के लिये 50 अस्पतालों को जोड़ा गया आयुष्मान योजना से
कोरोना के नि:शुल्क इलाज के लिये 50 अस्पतालों को जोड़ा गया आयुष्मान योजना सेSocial Media

कोरोना के नि:शुल्क इलाज के लिये 50 अस्पतालों को जोड़ा गया आयुष्मान योजना से

इंदौर, मध्यप्रदेश : इंदौर में आर्थिक रूप से कमजोर मरीजों का कोरोना का पूर्णत: नि:शुल्क उपचार कराने के उद्देश्य से पचास निजी और सरकारी अस्पतालों को आयुष्मान योजना से जोड़ा गया है।

इंदौर, मध्यप्रदेश। इंदौर में आर्थिक रूप से कमजोर मरीजों का कोरोना का पूर्णत: नि:शुल्क उपचार कराने के उद्देश्य से पचास निजी और सरकारी अस्पतालों को आयुष्मान योजना से जोड़ा गया है।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार अपर कलेक्टर अभय बेड़ेकर ने आज यहां अस्पतालों संचालकों के साथ बैठक की। इस दौरान बताया गया कि जिले में मरीजों को कोरोना संबंधी इलाज सहजता के साथ उपलब्ध कराने के लिये हरसंभव प्रयास किये जा रहे हैं। जिले में कोरोना के इलाज के लिये 50 सरकारी और निजी अस्पतालों में प्रथम चरण में कुल 3235 बेड्स आरक्षित रखे गये हैं। इनमें से 50 से अधिक बेड्स की क्षमता वाले 37 अशासकीय अस्पतालों में कुल 1760 बेड्स आरक्षित किये गये हैं। शेष 1475 बेड्स 13 शासकीय अस्पतालों में कोरोना के इलाज के लिये रहेंगे।

आयुष्मान योजना के तहत सभी 13 शासकीय अस्पतालों में 1475 बेड्स तथा अशासकीय अस्पतालों में 528 बेड्स कोरोना के नि:शुल्क इलाज के लिये उपलब्ध रहेंगे। इस तरह जिले में आयुष्मान योजना के तहत कुल 50 शासकीय तथा अशासकीय अस्पतालों में नि:शुल्क इलाज के लिये दो हजार से अधिक बेड्स आरक्षित रहेंगे।

श्री बेड़ेकर ने बताया कि प्रथम चरण में 50 अस्पतालों को चिन्हित किया गया है। दूसरे चरण में 26 और अशासकीय अस्पतालों को आयुष्मान योजना से जोड़ा जाएगा। उन्होंने अस्पताल संचालकों से कहा कि कोई भी अस्पताल आयुष्मान योजना के कार्डधारियों से किसी भी तरह की राशि नहीं लें। कोरोना मरीज आते ही उन्हें तत्काल एडमिट करें। अस्पताल में भर्ती करने से उन्हें मना नहीं किया जाए। संदिग्ध मरीज जिनकी रिपोर्ट पॉजीटिव नहीं आयी है और उन्हें गंभीर रूप से लक्षण दिखाई दे रहे हैं तो भी आवश्यकतानुसार उनका इलाज भर्ती कर तुरंत शुरू किया जाए।

इंदौर जिले में आज कोरोना के 27 नए मामले सामने आए हैं। पिछले कुछ दिनों से इंदौर में कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है। यहां ओमिक्रोन के भी तीन सक्रिय मरीज हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co