फीस वसूली को लेकर गर्माई सियासत, विरोध के बहाने कांग्रेसियों का प्रदर्शन
फीस वसूली को लेकर गर्माई सियासतDeepika Pal-RE

फीस वसूली को लेकर गर्माई सियासत, विरोध के बहाने कांग्रेसियों का प्रदर्शन

इंदौर, मध्यप्रदेश: फिर सियासत गरमा गई है जहां निजी स्कूलों द्वारा फीस वसूली के विरोध में कांग्रेस ने भी सुबह-सुबह ही विधानसभा -2 में खोला मोर्चा खोल दिया।

इंदौर, मध्य प्रदेश। वैश्विक महामारी कोरोना का प्रकोप जहां बढ़ते संक्रमण के साथ थमने का नाम नहीं ले रहा है वहीं दूसरी तरफ कोरोना काल के बीच प्रदेश के शहर इंदौर में आज सोमवार को फिर सियासत गरमा गई है जहां निजी स्कूलों द्वारा फीस वसूली के विरोध में कांग्रेस ने भी सुबह-सुबह ही विधानसभा -2 में खोला मोर्चा खोल दिया। जहां मांग करने के साथ ही हस्ताक्षर अभियान भी चलाया गया जिसके बाद पुलिस हरकत में आई और कांग्रेसियों को गिरफ्तार कर अस्थाई जेल ले गई।

सिंधिया को काले झंडे दिखाने का प्रयास

इस संबंध में, कांग्रेसियों द्वारा विस क्षेत्र के सभी 18 वार्डाें में सरकार के खिलाफ हस्ताक्षर अभियान चलाया था जो बिना अनुमति के चल रहा था। बताया जा रहा था कि आज सिंधिया के शहर दौरे से पहले कांग्रेसियों द्वारा काले झंडे दिखाने का प्रयास किया जा रहा था। इसे लेकर कांग्रेस नेता चिंटू चौकसे ने कहा कि शहर पांच महीने लॉकडाउन रहा। सरकार को निजी स्कूलों से फीस माफ करवाए। इसके अलावा वह निजी स्कूल संचालकों का भी ध्यान रखें।

कुंभकर्णी सरकार ने नहीं दी अब तक रियायत

इस संबंध में, आगे नेता चौकसे ने कहा कि, कुंभकरण सरकार और रावण रूपी मुख्यमंत्री द्वारा बच्चों की फीस में अभी तक कोई रियायत नहीं दी गई है। लंबे समय से कई दिक्कतें सामने आ रही है सरकार से मांग है कि,सरकार जल्द से जल्द से फीस माफ करवाए। इंदौर में हजारों बसें बंद पड़ी हैं। इनके 10 हजार कर्मचारी बेरोजगार हैं। सरकार इनके बारे में भी कुछ नहीं सोच रही है। सरकार उनका दर्द नहीं बांट नहीं रखी है। साथ ही कहा बस दो महीने की सरकार है बीजेपी सरकार।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co