इंदौर के पास भूकंप के झटके, तीव्रता 2.9 मापी गई

इंदौर, मध्यप्रदेश : राऊ क्षेत्र से महू-पीथमपुर तक महसूस हुआ कंपन। कई कालोनियों के घरों में बर्तन गिरे तो जागे लोग।
इंदौर के पास भूकंप के झटके
इंदौर के पास भूकंप के झटकेSocial Media

इंदौर, मध्यप्रदेश। इंदौर जिले के राऊ क्षेत्र से लगी कालोनियों व ग्रामीण क्षेत्रों में शनिवार सुबह लगभग 6:30 के करीब 2.9 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए। जानकारी के अनुसार भूकंप के यह झटके इंदौर के राऊ बायपास के पास स्थित कालोनियों व माचला गांव के रहवासियों के द्वारा करीब 11 सेकंड तक महसूस किए गए थे। जानकारी लगने के बाद प्रशासन के द्वारा घटना स्थल का औपचारिक परीक्षण किया गया इसके साथ ही भू- गर्भ सर्वेक्षण और अनुसंधान केंद्र को इस विषय में जानकारी दी गई।

भोपाल स्थित मौसम विभाग के अनुसार शनिवार सुबह 6:30 बजे के लगभग इंदौर के आस-पास के इलाकों में 2.9 तीव्रता के हल्के झटके महसूस किए गए। जब अधिकांश लोग सो रहे थे तब घरों में बर्तन गिरने लगे, दरवाजे खिड़कियां हिलने लगी तो लोग घरों के बाहर निकल आए। राऊ क्षेत्र की सिल्वर स्टार सिटी के लोगों ने बताया कि सुबह घर में कुछ जागे हुए थे। एकाएक कंपन हुआ और घर के दरवाजे, खिड़कियां हिलने लगीं, घर में रखे बर्तन भी गिरे। वहीं कुछ लोग तो सोए हुए थे उन्हें भूकंप का पता भी नहीं चला। जब बर्तन गिरे तो भी वे समझ नहीं पाए कि ये कैसे गिरे। बाद में जब कालोनी के वाट्सएप ग्रुप पर भूकंप आने और धरती में कंपन होने की बात चली तो लोगों को पता चला।

अच्छी बात यह है कि इन भूकंप के झटकों से किसी प्रकार के जान-माल के नुकसान की कोई सूचना प्रशासन और मौसम विभाग को प्राप्त नहीं हुई है।

भूकंप की 10 किमी थी गहराई :

इंदौर के राऊ बायपास के पास स्थित माचला गांव में आए भूकंप के झटकों की 2.9 तीव्रता भू-गर्भ सर्वेक्षण और अनुसंधान केंद्र के द्वारा दर्ज की गई। इस भूकंप का अवकेंद्र 10 किमी गहराई पर दर्ज किया गया है। इसके साथ ही भूस्थानिक केंद्र 22.59 डिग्री उत्तर अक्षांश, 75.79 डिग्री पूर्व देशांतर नापा गया है।

इंदौर है सेफ जोन, चट्टानों की वेव खिसकने से होता है कंपन :

जानकारी के मुताबिक इंदौर में भूकंप की संभावना न के बराबर है, यह सेफ जोन में गिना जाता है। जबिक पास के जिले खंडवा-खरगोन के नर्मदा बेल्ट के कारण भूकंप के संभावित क्षेत्रों में शामिल है। वहां पर आने से इंदौर में भी असर देखा जा सकता है। शनिवार को जो कंपन हुआ है, वह किसी चट्टान के खिसकने के कारण हुआ है। जमीन के नीचे चट्टानों की वेव चलती है, जिससे कभी कोई चट्टान खिसकती है तो भूकंप के झटके महसूस होते है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co