पथ विक्रेता हितग्राही सम्मेलन में CM ने कहा
पथ विक्रेता हितग्राही सम्मेलन में CM ने कहाSocial Media

पथ विक्रेता हितग्राही सम्मेलन में CM ने कहा- मकान बनाने के लिए दिया जायेगा आवास योजना का लाभ

इंदौर, मध्यप्रदेश। सीएम शिवराज ने 'पथ विक्रेता हितग्राही सम्मेलन' का शुभारंभ किया, वहीं इस सम्मेलन में पधारे स्ट्रीट वेंडर भाई-बहनों पर पुष्पों की पंखुड़ियों की वर्षा कर आत्मीय स्वागत किया।

इंदौर, मध्यप्रदेश। आज इंदौर में आयोजित प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत पथ विक्रेताओं के सम्मेलन में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शामिल हुए है। यहां सीएम शिवराज ने 'पथ विक्रेता हितग्राही सम्मेलन' का कन्यापूजन एवं दीप प्रज्ज्वलित कर शुभारंभ किया। वहीं मुख्यमंत्री ने इस सम्मेलन में पधारे स्ट्रीट वेंडर भाई-बहनों पर पुष्पों की पंखुड़ियों की वर्षा कर आत्मीय स्वागत किया।

पथ विक्रेता हितग्राही सम्मेलन :

इंदौर के पथ विक्रेताओं पर फूलों की पंखुड़ियों को बरसाकर स्वागत किया :

इंदौर के पथ विक्रेताओं पर फूलों की पंखुड़ियों की बरसा कर उनका स्वागत किया गया। इस दौरान सीएम चौहान ने कहा आज आप सभी मेहमान हैं और हम सब मेजबान हैं, वहीं फूल का व्यवसाय करने वाले सदाशिव बाथम ने सीएम को बताया कि, कोविड काल में परिवार विषम परिस्थितियों का सामना कर रहा था। ऐसे में 'मुख्यमंत्री पथ विक्रेता योजना' का ऋण मिलने से जीवन आसान हुआ। अब इसी दुकान की कमाई से मैं बच्चों को पढ़ा रहा हूं।

सीएम शिवराज ने हितग्राहियों से किया संवाद

मिली जानकारी के मुताबिक, आज सीएम शिवराज से पीएम स्वनिधि योजना एवं मुख्यमंत्री पथ विक्रेता योजना के लाभाविंत हितग्राहियों रिंकू कौशल, तारा सूर्यवंशी, अनीता, पथ विक्रेता कमलनाथ ने अपने अनुभव साझा करते हुए बताया कि, कैसे इन योजनाओं से उन्हें आर्थिक संबल मिला। वही, मुख्यमंत्री के साथ पीएम स्वनिधि योजना के लाभांवित पान दुकान चलाने वाले भैया लाल ने अपने अनुभव शेयर किए।

सीएम शिवराज ने कहा कि, 1 नवंबर मध्यप्रदेश स्थापना दिवस के आस-पास इंदौर में पथ विक्रेताओं के बच्चे और अन्य गरीब बच्चों के सांकृतिक कार्यक्रम की प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी, जिसमें सभी बच्चों को अपनी प्रस्तुति देने का मौका दिया जाएगा, प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में केंद्र सरकार ने शहरी पथ विक्रेताओं के लिए योजना बनाई। इसे आगे बढ़ाते हुए हमने मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता योजना भी शुरू की। अभी तक इंदौर जिले में गांव और शहर मिलाकर लगभग 94 हजार लोगों को इस योजना का लाभ दिया गया है।

जो गरीब वर्षों से किसी स्थान पर रह रहा है, उसको उस जमीन का पट्टा देकर भूखण्ड का मालिक बनायेंगे। मकान बनाने के लिए भी आवास योजना का लाभ दिया जायेगा।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

आगे सीएम शिवराज ने कहा कि, आज मैं ऐलान कर रहा हूं कि सरकार की प्राथमिकता में सबसे पहले हमारे गरीब भाई-बहन हैं। इनमें पथ विक्रेता ऐसे भी हैं जो अपने खून-पसीने की कमाई से परिवार को पाल रहे हैं। हम सबके जीवन में भी पथ विक्रेताओं का बड़ा योगदान हैं। हमने संबल योजना में गरीब गर्भवती बहनों को प्रसव से पूर्व 4 हजार और प्रसव के पश्चात 12 हजार रुपये देने की व्यवस्था की। ताकि हमारी गरीब बहन भी प्रसव के पश्चात आराम कर सके। गरीब का कल्याण ही हमारी प्राथमिकता है। जिन पात्र भाई-बहनों को शासकीय योजनाओं का लाभ नहीं मिला है, 17 सितंबर से शिविर लगाकर लाभान्वित किया जायेगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co