Indore : आदर्श अस्पताल के रूप में स्थापित किया जाएगा एमटीएच अस्पताल
मंत्री सिलावट ने ली जिले के शासकीय अस्पतालों के अधीक्षकों की बैठकSocial Media

Indore : आदर्श अस्पताल के रूप में स्थापित किया जाएगा एमटीएच अस्पताल

इंदौर, मध्यप्रदेश : मंत्री सिलावट ने जिले के एमटीएच अस्पताल को आदर्श अस्पताल के रूप में स्थापित किया जाने हेतु दिए गए निर्देशों के अनुपालन में किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की।

इंदौर, मध्यप्रदेश। जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने एमजीएम मेडिकल कॉलेज के अधीनस्थ सभी शासकीय अस्पतालों के अधीक्षकों के साथ जिले में प्रदान की जा रही स्वास्थ्य सुविधाओं के उन्नयन के संबंध में रेसीडेंसी कोठी में बैठक आयोजित कर चर्चा की। इस अवसर पर संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा, एमजीएम मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ संजय दीक्षित सहित संबंधित शासकीय अस्पतालों के अधीक्षकगण तथा पीआईयू विभाग के अधिकारीगण भी उपस्थित रहे।

बैठक में मंत्री सिलावट ने जिले के एमटीएच अस्पताल को आदर्श अस्पताल के रूप में स्थापित किया जाने हेतु दिए गए निर्देशों के अनुपालन में किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की। मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. संजय दीक्षित ने बताया कि एमटीएच अस्पताल को आदर्श अस्पताल बनाने हेतु शासन से 102 करोड रुपए की राशि स्वीकृत की गई थी जिसके लिए डीपीआर बनवा लिया गया है। अस्पताल के अपग्रेडेशन हेतु 200 बेड का ट्रामा सेंटर तैयार कर लिया गया है तथा छ: मॉड्यूलर ओपीडी निर्मित कर लिए गए हैं। अस्पताल में मरीजों के डाटा मैनेजमेंट हेतु हेल्थ मैनेजमेंट इनफार्मेशन सिस्टम भी शुरू किया जा रहा है। इसी तरह अस्पताल को आधुनिक अस्पताल के साथ-साथ सर्व सुविधा युक्त बनाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि एमआरटीबी का उन्नयन कार्य भी प्रचलन में है।

संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा द्वारा बताया गया कि जल्द ही एमटीएच अस्पताल को पूरी तरह से मेटरनिटी एंड चाइल्ड हॉस्पिटल के रूप में शुरू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के कारण एमटीएच में कोरोना के मरीजों का इलाज शुरू करना पड़ा था लेकिन अब जब स्थिति सामान्य हो चुकी है तो एमटीएच का मूल स्वरूप जो गर्भवती एवं बच्चों के अस्पताल के रूप में कार्य करना था उसी मूल उद्देश्य की पूर्ति हेतु इसे शुरू किया जायेगा। इसी तरह सुपर स्पेशलिटी भी सुपर स्पेशलिटी के रूप में अपना पहला ऑपरेशन जल्द ही करेगा। उन्होंने बताया कि जिले की मोर्चरी का अपग्रेडेशन कार्य भी लगभग संपन्न हो चुका है। इसी तरह सीरो सर्वे 2.0 की रिपोर्ट भी आगामी दो से तीन दिवस में तैयार कर ली जाएगी।

मंत्री सिलावट ने कहा कि इंदौर जिले में कोरोना काल में ब्लैक फंगस के इलाज में जो कार्य किया गया है, वह संपूर्ण देश में उदाहरण बना है। यहां के शासकीय अस्पताल गरीबों के अस्पताल हैं, हमें इन्हें सर्व सुविधा युक्त बनाने में कोई कसर नहीं छोडऩी है तथा स्वास्थ्य सुविधाओं का उन्नयन करने हेतु एक नए संकल्प के साथ नई दिशा में आगे बढऩा है। कोरोना काल में शासकीय अस्पतालों पर लोगों का जो विश्वास बढ़ा है उस विश्वास को हमें आगे भी बनाए रखना है। मंत्री श्री सिलावट ने एमवाय अस्पताल के आसपास अतिक्रमण हटाने तथा ड्रेनेज और रोड के संधारण कार्य को जल्द से जल्द पूर्ण करवाने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि एमटीएच अस्पताल के शुभारंभ तथा स्वास्थ्य क्षेत्र में किये गये अन्य उन्नयन कार्यों के लोकार्पण हेतु वे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के समक्ष उनके 19 नवंबर को इंदौर के प्रस्तावित दौरा कार्यक्रम के दौरान शुभारंभ एवं लोकार्पण करने का अनुरोध करेंगे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co