ठगी करने वाले को क्राइम ब्रांच  ने पकड़ा
ठगी करने वाले को क्राइम ब्रांच ने पकड़ा|Social Media
मध्य प्रदेश

स्पेशल 26 की तर्ज पर ठगी करने वाले को क्राइम ब्रांच ने पकड़ा

मध्यप्रदेश में ठगी के मामलों में लगातर बढ़ोत्तरी हो रही है, ऐसा ही एक और मामला इंदौर से सामने आया है, SP बताकर विधायक से 10 लाख की ठगी करने वाला आरोपी गिरफ्तार।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश में ठगी के मामलों में लगातर बढ़ोत्तरी हो रही है, ऐसा ही एक और मामला इंदौर से सामने आया है। मिली जानकारी के अनुसार इंदौर में बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे और बीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय के पास एक शख्स ने एसपी बनकर फ़ोन लगाया, और 10 लाख रुपए मांगे। इस मामले की सूचना मिलने के बाद आरोपी गिरफ्त में।

जानिए क्या है पूरा मामला

मामला मध्यप्रदेश के इंदौर का है, मिली जानकरी के अनुसार बीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय के पास 9 जनवरी को एक शख्स का फर्जी फोन आया था और कहा था कि वह इंदौर SP यूसुफ कुरैशी बोल रहे हैं। उनके रिश्तेदार को तत्काल 10 लाख रुपए की जरूरत हैं। इसके बाद फ़ोन कट कर दिया। जब विधायक आकाश को इस बात पर शंका हुई तो उन्होंने एसपी यूसुफ कुरैशी को फ़ोन करके इसकी जानकारी ली। लेकिन एसपी यूसुफ कुरैशी ने इस बात से मना कर दिया।

आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज

विधायक आकाश विजयवर्गीय ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ 10 लाख रुपए की ठगी करने का मामला दर्ज करवाया था। मोबाइल फोन की लोकेशन के आधार पर आरोपी के ठिकाने के बारे में पता चलने के बाद क्राइम ब्रांच पुलिस ने दबोच लिया। आरोपी राजस्थान में मिस्टर नटवरलाल के नाम से चर्चित हैं।

फिलहाल पुलिस आरोपी के खिलाफ कार्रवाई कर रही हैं। गौरतलब है कि हाल में ही भोपाल में कुलपति की नियुक्ति के लिए राज्यपाल को गृहमंत्री अमित शाह के नाम से फर्जी फोन और ग्वालियर में कमिश्नर एमबी ओझा को हाईकोर्ट जज के नाम से फोन करने के मामले सामने आ चुके हैं।

आपको बताते चले कि हाल में ही भोपाल में कुलपति की नियुक्ति के लिए राज्यपाल को गृहमंत्री अमित शाह के नाम से फर्जी फोन का मामले सामने आ चूका है।

फोन फ्रॉड से चाहते थे दोस्त को कुलपति बनाना

जानकारी के अनुसार गृहमंत्री अमित शाह बनकर राज्यपाल लालजी टंडन को फोन लगाने पर एसटीएफ की कार्रवाई। विंग कमांडर कुलदीप बाघेला ने अमित शाह बनकर राज्यपाल लालजी टंडन से की डॉक्टर चंद्रेश कुमार शुक्ला को आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय के कुलपति बनाने की सिफारिश। भोपाल राज्यपाल को गृहमंत्री अमितशाह बनकर फर्जी कॉल करने वाला दो आरोपी विंग कमांडर कुलदीप बाघेला और डॉक्टर चंद्रेश कुमार शुक्ला को एसटीएफ की टीम ने दिल्ली व भोपाल से गिरफ्तार किया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co