आयुक्त ने ली बैठक
आयुक्त ने ली बैठकRaj Express

Indore : 24 घंटे में शहर के बाहर होंगे आवारा पशु

इंदौर, मध्यप्रदेश : चेतावानी के बाद भी आवारा पशु व सुअर पाए जाने पर बाड़ा तोड़ने की होगी कार्यवाही। पशु मालिकों के अवैध निर्माण भी तोड़े जाएंगे।

इंदौर, मध्यप्रदेश। महापौर द्वारा पिछले दिनों ली गई बैठकों में एमआईसीयू सदस्यों के साथ ही पार्षदों ने भी अपने क्षेत्रों में आवारा पशु की शिकायत की थी। इस पर बुधवार को आयुक्त ने रिमूवल और कोंडवाड़ा विभाग की समीक्षा बैठक में निर्देश दिए हैं कि आवारा पशु और सुअर पाए जाने पर बाड़ा तोड़ने के साथ ही पशु मालिकों के अवैध निर्माण भी तोड़ दिए जाएंगे।

आयुक्त प्रतिभा पाल द्वारा बैठक में निर्देश दिये गये कि, विगत दिनों से यह देखने में आ रहा है कि शहर में कई स्थानों पर आवारा पुश व सुअर दिखाई दे रहे हैं, जबकि मेयर-इन-कौंसिल द्वारा आवारा पशुओं पर प्रतिबंध लगाया गया है। यह भी जानकारी मिली है कि, कई स्थान पर पशु पालकों द्वारा आवारा पशु एवं सुअर पालने के लिए अवैध रुप से बाड़े भी बनाए गए हैं।

24 घंटे के अंदर शहर के बाहर करें आवारा पशु :

बैठक में आयुक्त द्वारा समस्त कोंदवाडा सुपरवाईजर और रिमूव्हल विभाग के सुपरवाईजर को निर्देशित किया गया व उनके क्षेत्र अन्तर्गत भ्रमण करें और आवारा पशु व सुअर पालने के लिए बनाये गये वार्डो को चिन्हांकित करेंगे और उन्हे 24 घण्टे के अन्दर आवारा पशु व सुअर शहर से बाहर करने के लिए अवगत करायेंगे यदि संबंधित पशु पालक द्वारा शहर के अन्दर आवारा पशु या सुअर निर्धारित समय सीमा में नहीं हटाये जाते है तो, उनके विरुद्ध बाड़ा तोडऩे की कार्यवाही की जाएगी। उक्त कार्य के लिए सहायक सीएसआय को निर्देशित किया गया कि, वह रिमूव्हल एवं कोंदवाडा टीम को आवारा पशु व सुअर रखने वालो का पता लगाने में समन्वय कर सहयोग करेंगे। आयुक्त प्रतिभा पाल द्वारा कोंदवाडा, रिमूव्हल सूपरवाइजर और सीएसआय को यह निर्देशित भी किया गया कि जिस क्षेत्र में पशु पालकों द्वारा अवैध रुप से पशु पालन व सुअर पालन किया जा रहा है उनके बाड़े तोड़ने के साथ ही ऐसे पशु पालकों द्वारा किये गये अवैध निर्माण का भी चिन्हांकन करेंगे तथा संबंधित भवन अधिकारी व भवन निरीक्षण द्वारा अवैध निर्माण व अवैध बाड़ों को तोड़ने की कार्यवाही करेंगे।

लापरवाही पड़ेगी भारी :

आयुक्त द्वारा बैठक में कोंदवाडा एवं रिमूव्हल विभाग के कर्मचारियों को सचैत करते हुए कहा गया है कि, जहां भी अवैध आवारा पशुओं या सुअरों का विचरण होता है तथा अवैध रुप से बाड़ा बना है उन्हे चिन्हांकित करते हुए शहर से बाहर करने की कार्यवाही की जाए। यदि उक्त कार्य में किसी के भी द्वारा लापरवाही या उदासीनता बरती गई तो, उसके विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co