इंदौर: जनजातीय गौरव दिवस की तैयारियां जोरों पर, डॉ. मिश्रा ने सर्किट हाउस में की बैठक
डॉ. मिश्रा ने सर्किट हाउस में की बैठकSocial Media

इंदौर: जनजातीय गौरव दिवस की तैयारियां जोरों पर, डॉ. मिश्रा ने सर्किट हाउस में की बैठक

इंदौर, मध्यप्रदेश। जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम को लेकर आज नरोत्तम मिश्रा ने स्थानीय जनप्रतिनिधियों और प्रशासनिक अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की।

इंदौर, मध्यप्रदेश। 15 नवंबर को भगवान बिरसा मुंडा की जयंती को जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाने की तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। इस बीच आज एमपी के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इंदौर के सर्किट हाउस में बैठक की है, इस बैठक में एमपी के गृहमंत्री और इंदौर जिले के प्रभारी डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने जनजातीय गौरव दिवस की तैयारियों के संबंध में चर्चा की है।

नरोत्तम मिश्रा ने किया ट्वीट

एमपी के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ट्वीट कर कहा- 15 नवंबर को जनजातीय गौरव दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री भोपाल पधार रहे हैं। इस अवसर पर होने वाले कार्यक्रम को लेकर आज इंदौर के सर्किट हाउस में स्थानीय जनप्रतिनिधियों और प्रशासनिक अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक कर रहा हूं।

15 नवंबर को जंबूरी मैदान में जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम होगा

बताते चलें कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) 15 नवंबर को भोपाल में जनजातीय गौरव दिवस के अवसर पर प्रदेश स्तरीय कार्यक्रम करने जा रही हैं। जनजातीय गौरव दिवस का कार्यक्रम मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के जंबूरी मैदान में हाेगा, इस कार्यक्रम में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) शिरकत करेंगे।

पीएम मोदी का 15 नंवबर को एमपी दौरा, इन कार्यक्रम में होंगे शामिल

15 नवंबर को जंबूरी मैदान में जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम में पीएम मोदी शामिल होंगे। इस आयोजन को भव्यता प्रदान करने के लिए पार्टी संगठन भी सरकारी तंत्र के साथ समन्वय से काम करे और यह प्रयास रहे कि इस आयोजन से समाज के बीच सामाजिक समरसता का संदेश जाए। यह बात मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा, संगठन महामंत्री सुहास भगत ने अनुसूचित जनजाति मोर्चा द्वारा आयोजन की तैयारियों के लिए आयोजित बैठक में समीक्षा करते हुए कही थी।

इससे पहले हुई बैठक में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि "हमें यह प्रयास करना है कि प्रदेश के हर क्षेत्र से जनजातीय बंधु इस आयोजन में अपनी पारंपरिक वेशभूषा में शामिल हों। हमारा प्रयास हो कि प्रधानमंत्री की उपस्थिति में होने वाले इस आयोजन से हमारी जनजातीय संस्कृति की छटा प्रदर्शित हो।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co