वेब सीरीज में बढ़ती अश्लीलता पर रोक के लिए दायर याचिका
वेब सीरीज में बढ़ती अश्लीलता पर रोक के लिए दायर याचिका|Social Media
मध्य प्रदेश

इंदौर: वेब सीरीज में बढ़ती अश्लीलता पर रोक के लिए दायर याचिका

इंदौर,मध्यप्रदेश: वेब सीरीज पर अंकुश लगाने के लिए पार्षद दीपक जैन टीनू ने अधिवक्ता रमाकांत शर्मा के माध्यम से उच्च न्यायालय में याचिका दायर की है।

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस

इंदौर, मध्यप्रदेश। वेब सीरीज के नाम पर हत्या, अपशब्द, अश्लीलता, अधर्म की बातें प्रदर्शित की जा रही हैं। जो मोबाइल और अन्य इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स पर आसानी से उपलब्ध है और इन्ही सभी माध्यमों से प्रदर्शित भी की जा रही है। ऐसी सभी वेब सीरीज पर अंकुश लगाने के लिए पार्षद दीपक जैन टीनू ने अधिवक्ता रमाकांत शर्मा के माध्यम से उच्च न्यायालय में याचिका दायर की है।

पार्षद दीपक जैन टीनू ने कहा कि इस प्रकार की वेब सीरीज से नाबालिगों पर बुरा प्रभाव पड़ रहा है। सरकार ऐसे सामग्रियों पर सेंसरशिप लागू करने को लेकर फौरन कानून बनाए या बोर्ड का गठन करें। बच्चे सबसे ज्यादा स्मार्टफोन एडिक्शन के शिकार हो रहे हैं। वेब सीरीज की फिल्में देखने वालों में भी बच्चों की तादाद ज्यादा है, ऐसे में उन पर इसका बुरा प्रभाव पड़ता है। सरकार वेब सीरीज के लिए कड़े कानून बनाये वरना हमें पता भी नहीं चलेगा बंद कमरे में घर के बच्चे क्या देख रहे हैं और क्या सीख रहे हैं। बच्चों पर पड़ते गलत प्रभाव को दूर करने के लिए कानून बनाने की सख्त आवश्यकता है। दीपक जैन टीनू ने सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय को पत्र भी लिखा है।

किसी भी फिल्म को थिएटर में रिलीज़ करने से पहले सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ फिल्म सर्टिफिकेशन से प्रमाण-पत्र हासिल करना अनिवार्य है और सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ फिल्म सर्टिफि़केशन को कुछ लोग बोलचाल की भाषा में सेंसर बोर्ड भी कहते हैं। लेकिन डिजिटल स्ट्रीमिंग प्लेटफ़ॉर्म अर्थात वेब सीरीज के लिए ऐसी कोई संस्था अभी तक नहीं है।

पार्षद दीपक जैन टीनू का कहना है कि वर्तमान समय मे वेब सीरीज के माध्यम से हज़ारो लोगों को रोजगार भी प्राप्त हुआ, और अच्छी पारिवारिक और स्तरीय वेब सीरीज देने वाले क्रिएटर्स और निर्माता भी मौजूद है जो काफी अच्छी कहानी के साथ मनोरंजन प्रस्तुत कर रहे है। इसलिए वेब सीरीज पर प्रतिबंध लगाने के स्थान पर अंकुश लगाने के लिए किसी शासकीय बोर्ड, संस्थान या कमेटी का बन जाना आवश्यक है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co