लावारिस कुत्तों को पालने का खामियाजा!
लावारिस कुत्तों को पालने का खामियाजा!|Neelesh Singh Thakur – RE
मध्य प्रदेश

इंदौर : लावारिस कुत्तों का सहारा युवती का दर्द सोशल मीडिया पर क्यों छलका

"युवती की मानें तो शिकायत करने पर पुलिस मदद करने के बजाए परेशान और प्रताड़ित कर रही है। वीडियो में आप खुद सुनिये युवती की आप-बीती उसकी जुबानी।"

Neelesh Singh Thakur

हाइलाइट्स –

  • लावारिस कुत्तों को पालने का खामियाजा

  • आवारा लोग करते हैं युवती को परेशान

  • घर के बाहर निकलना तक हो रहा दूभर

  • तिलक नगर पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप

राज एक्सप्रेस। सोशल मीडिया इंस्टाग्राम पर इंदौर की युवती से जुड़ा एक मार्मिक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में वो पुलिस के दुर्व्यवहार की आप-बीती सुना रही है कि आवारा कुत्तों को आश्रय देने के उसे क्या परिणाम भुगतने पड़ रहे हैं।

तिलक नगर का है मामला -

वीडियो में युवती का कहना है कि ये मेरा लास्ट लास्ट वीडियो है मैं पिपलिया हाना चौराहा तिलक नगर इंदौर में रहती हूं। बड़े नेता, पुलिस अधिकारी जानते हैं कि मैं ग्रेटर बृजेश्वरी में रहती हूं। और यहां 40-45 घायल स्ट्रीट डॉग्स को मैंने आसरा दिया है।

खुद की अर्निंग से इनको संभाल रही हूं। लेकिन घायल डॉग्स की मदद करने का मुझे खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। मैंने पहली बार पूरे इंदौर से मदद मांगी है।

क्या है मामला –

वीडियो में नजर आ रही युवती का आरोप है कि इलाके में लोगों ने कसाई खाना खोल रखे हैं। यहां अवैध कब्जा हो रहा है। सोसाइटी का गार्ड यहां भेड़-बकरी पालकर जानवरों को कसाई खाना में बेचता है।

युवती का आरोप है कि उसके घर के सामने आवारा किस्म के लोग प्रतिबंधित नशीले पदार्थों का सेवन करते हैं। शाम 5 बजे के बाद उसका घर से निकलना दूभर हो जाता है।

पुलिस पर आरोप -

युवती ने तिलक नगर थाना पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उसका दावा है कि कुछ दिन पहले जब उसका हाथ और मोबाइल तोड़ा गया था तब भी उसने वीडियो वायरल किया था।

युवती की मानें तो शिकायत करने पर पुलिस मदद करने के बजाए परेशान और प्रताड़ित कर रही है। वीडियो में आप खुद सुनिये युवती की आप-बीती उसकी जुबानी। - सौजन्य – इंस्टाग्राम

तो इनका क्या होगा –

युवती के मुताबिक वो आवारा घायल कुत्तों को अपने बच्चे जैसा समझ कर पालती है। उसे धमकाया जा रहा है कि वो यहां से चली जाए नहीं तो उसका भी वही हाल होगा जो उसके उस पालतू कुत्ते का हुआ था। जिसे पीट-पीट कर मार दिया गया था।

युवती का कहना है कि यदि वो घर छोड़कर कहीं और जाती है तो उसके पालतू बच्चे होमलेस हो जाएंगे। युवती के मुताबिक कई एनजीओ द्वारा भेजे गए कुत्तों को भी उसने अपने घर में आश्रय दिया है। लेकिन परेशानी जानने के बावजूद कोई मदद को आगे नहीं आ रहा। युवती ने इलाके के रतिराम नाम के चौकीदार की भूमिका मामले में संदिग्ध बताई है।

आखिरी वीडियो –

युवती वीडियो में कहती नजर आ रही है कि है यदि उसके साथ कोई बुरी घटना घटित होती तो उसकी जिम्मेदार पुलिस होगी। युवती ने तिलक नगर पुलिस पर इलाके में ड्रग्स सप्लाई और अन्य अनैतिक धंधों को प्रश्रय देने का भी आरोप लगाया है।

कुल 9 मिनट कुछ सेकंड के वीडियो में युवती का दावा है कि इंदौर में कानून व्यवस्था नाम की चीज नहीं रह गई है। अकेली लड़की यहां सुरक्षित नहीं है। तिलक नगर पुलिस उसको आत्महत्या के लिए विवश कर रही है।

शेयर करने वाले की राय –

टेड द स्टोनर (tedthestoner) नाम के यूजर ने इसे अपने अकाउंट से शेयर कर युवती की पीड़ा को ज्यादा से ज्यादा संख्या में लोगों तक पहुंचाने की अपील की है ताकि युवती को न्याय मिल सके।

जारी वीडियो के विवरण में बताया गया है कि साक्षी शर्मा नाम की युवती ने इसे पोस्ट किया था ताकि सक्षम अधिकारियों तक पीड़ित की बात पहुंच सके।

हालांकि इस वीडियो को शेयर करने वाले ने यह भी हवाला दिया है कि यह एक पक्षीय कहानी है। इसलिए बगैर प्रमाण और पुलिस का पक्ष जाने पुलिस से घृणा न करें। स्वतंत्र जांच में ही इसकी सच्चाई का पता चल सकता है।

यूजर ने पत्रकारों, राजनेताओँ और उच्च पुलिस अधिकारियों से मामले को संज्ञान में लेने और समस्या का निदान ढूंढ़ने में मदद की अपील की है।

डिस्क्लेमर – आर्टिकल सोशल मीडिया पर प्रचलित वीडियो पर आधारित है। इसमें शीर्षक-उप शीर्षक जोड़े गए हैं। इस आर्टिकल में प्रकाशित तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co