अनूपपुर : 3 वर्ष बाद भी अटकी फर्जी नौकरशाहों की जांच
3 वर्ष बाद भी अटकी फर्जी नौकरशाहो की जांचRaj Express

अनूपपुर : 3 वर्ष बाद भी अटकी फर्जी नौकरशाहों की जांच

अनूपपुर, मध्य प्रदेश : क्या जिला प्रशासन ही नही चाहता कि जांच हो पूरी? मामला फर्जी जाति प्रमाण पत्र से नौकरी कर रहे अधिकारी-कर्मचारियों का।

अनूपपुर, मध्य प्रदेश। फर्जी जाति प्रमाण-पत्र के आधार पर जिले में विभिन्न पदों पर शासकीय नौकरी करने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों की शिकायत 3 वर्ष पहले भोपाल में की गई थी, गोडवाना स्टूडेंट यूनियन के द्वारा पुन: 24 दिसंबर 2020 को शिकायत कर निष्पक्ष जांच करते हुए मूल आदिवासियों के हक को मारने वाले फर्जी नौकरशाहों को पद से हटाते हुए एफआईआर दर्ज की जाये की मांग की थी।

  • 24 दिसम्बर को ज्ञापन सौपते गोडवाना स्टूडेंट यूनियन

    24 दिसम्बर को ज्ञापन सौपते गोडवाना स्टूडेंट यूनियन

  • गोडवाना स्टूडेंट यूनियन

    गोडवाना स्टूडेंट यूनियन

मुख्यालय सहित जिलेभर में 88 शासकीय नौकरी में कार्यरत कर्मचारियों के ऊपर बीते तीन वर्षो से सवाल खड़े हो रहे हैं, गौरतलब हो कि अन्य जिले के निवासी अनूपपुर पहुंचकर फर्जी जाति प्रमाण का सहारा लेकर एक परिवार से 4-5 लोग शासकीय नौकरी में शामिल हो गये, गोडवाना स्टूडेंट यूनियन शहडोल के पदाधिकारियों ने 24 दिसंबर 2020 को शिकायत के माध्यम से इन पर कार्यवाही हेतु पत्र लिखा था, लेकिन कार्यवाही आज भी सिर्फ नौकरशाहों की दहलीज तक सिमट कर रह गई है। यूनियन के द्वारा लिखा गया कि अन्य जिले से आकर यहां की अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जनजातियों की जमीन को औने पौने दामों में क्रय कर यहां के निवासी बन गये, जबकि इनमें से पनिका जाति समुदाय मूल रूप से डिंडोरी, मंडला, बालाघाट के निवासी हैं, जिसका निवारण राजस्व रिकॉर्ड सन 1958-59 एवं 1960 एवं वर्तमान 2018-19 का राजस्व रिकॉर्ड एवं सरपंच द्वारा प्रमाणित जाति निवास प्रमाण पत्र सहित 27 जुलाई 2018 डाक के माध्यम से जनजातियां आयोग भोपाल सहित अन्य विभागों में शिकायत की गई थी, जिसके बाद आयोग ने पत्र जारी कर संबंधित जिलों में कलेक्टर को जांच हेतु भेजा गया था, किंतु तीन वर्षो बाद भी जिला कलेक्टर द्वारा जांच और कोई कार्यवाही नहीं की गई और ना ही छानबीन समिति/आयोग को कोई जांच प्रतिवेदन प्रेषित नहीं की गई। जिसके बाद पुन: 27 दिसंबर 2020 को इस विषय में ज्ञापन के माध्यम से अवगत कराया गया, जिसका नतीजा भी सिफर रहा।

जुगाड़ से छिपाया है मामला :

वर्षो बाद जब इसकी शिकायत हुई तो कुछेक लोगों के द्वारा मामले में हाईकोर्ट से स्टे ले लिया, कई अधिकारी एवं कर्मचारियों के द्वारा जुगाड़ के दम पर जांच प्रभावित कराया गया, जिसका नतीजा यह हुआ कि राजनीतिक दवाब और अधिकारियों की मिलीभगत के कारण पूरे मामले में पर्दा डालने का प्रयास किया गया, शिकायतें तीन वर्षो से शासकीय कार्यालयों के दरवाजे तक सिमट कर रह गई है, न तो जांच पूर्ण हो पा रही है और न ही इसका नतीजा निकल पा रहा है।

ऐसे बनाया दस्तावेजों का जुगाड़ :

मध्यप्रदेश में ऐसे अनेक जिले है जहां अन्य पिछडा वर्ग में आने वाली जाति अनूपपुर जिले में अनुसूचित जाति एवं जनजाति वर्ग के होते है, जिसका फायदा उठाते हुए अन्य जिले के लोग अनूपपुर जिले में प्रवेश किये और यहां की भूमि पर कब्जा जमाना शुरू किया, जुगाड़ लगाते हुए जमीन को अपने नाम कराया और फिर निवास और जाति प्रमाण पत्र का निर्माण भी करा लिया, आदिवासियो की भूमि में अपने नाम महल तनवा दिया, फिर आदिवासी बन कर नौकरी भी करने लगे।

विरक्त हुए मूल आदिवासी :

जिले के मूल निवासी अनुसूचित जाति और जनजातियों को अब शासकीय नौकरी व अन्य लाभ से विरक्त होना पड़ रहा है, चूंकि फर्जी जाति प्रमाण पर धारियों की संख्या काफी है और जुगाड़ के भरोसे एक परिवार के कई सदस्य नौकरी में है, कई पदो पर आसीन ये नौकरशाह बड़े पदो पर भी कब्जा जमाये हुए हैं, छोटे व बड़े पदों पर होने की वजह से इनका दबदबा भी बना हुआ है, जिससे न तो कोई कार्यवाही हो रही है और नहीं जांच, यही कारण है कि यहां के मूल निवासियों को नौकरी व योजना से वंचित होना पड़ रहा है।

एक ही परिवार के कई नाम :

वर्तमान में शहडोल के जेडी कार्यलय में उप संचालक एवं पूर्व में जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय अनूपपुर का कमान संभाल चुके उदित कुमार बघेल पिता रबनू उर्फ रौनूदास उनके पुत्र अधीक्षक भू-अभिलेख संदीप कुमार बघेल और डी.एस.पी. बैच 2013 मनमोहन सिंह के साथ बाल विकास परियोजना अधिकारी सुनीता सोनवानी पिता अदलीदास लारिया, एसडीओ पीडब्लूडी प्रभात लारिया पिता अदलीदास लारिया, शासकीय कर्मचारी शिवकान्त लारिया पिता अदलीदास लारिया, शासकीस सेवक विनीता लारिया पिता टंकारदास लारिया, उच्च श्रेणी शिक्षक शाउमावि अमरकंटक अंबादास कमलेश पिता रघुवीर दास, शासकीय सेवक संदीप कुमार सोनवानी पिता नारायणदास सोनवानी, सहायक प्राध्यापक विनय कुमार सोनवानी पिता नारायण सोनवानी, सचिव ग्राम पंचायत ज.पं. पुष्पराजगढ़ नारेश्वर पनिका पिता हीरालाल, सहायक अध्यापक प्रा.शाला पड़मनिया मधुबाला सिंह बघेल पिता नारेश्वर पनिका, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा बाल विकास परियोजना अधिकारी मीना पनिका पिता नारेश्वर पनिका, उच्च श्रेणी शिक्षक शाउमावि अमरकंटक अम्बादास मानिकपुरी पिता बुद्धेदास, शासकीय सेवक जयप्रकाश मानिकपुरी पिता रेवादास मानिकपुरी, प्रधानाध्यापक शाउमावि करपा उत्तमादास मानिकपुरी पिता रेवादास मानिकपुरी, सहायक अध्यापक शा.प्रा. शाला पिपरिया, पारसमणि पिता उत्तमदास, प्राचार्य प्रहलाद कुमार दाहिया पिता बुकसेलरदास, शासकीय सेवक 'योति दाहिया प्रहलाद लारिया, पोसर्स सर्वेयर तहसील पुष्पराजगढ़ कृष्णलाल धार्या पिता भरतलाल उर्फ भारतदास, वरिष्ठ अध्यापक बेनीबारी पुनवादास टांडिया पिता गिरानीदास, सहायक शिक्षक प्रा. शाला डुबसरा कमलवती टांडिया पिता पुनवाराम, सहायक शिक्षक इटौर पुष्पराजगढ़ मीन मानिकपुरी पिता शशिदास मानिकपुरी, शिवस्तर दास पिता रवनुदास, कन्या परिसर पुष्पराजगढ़ शशि पारस पिता शिवस्तरदास, अंजुलता पडवार पिता अतुलचन्द्र पड़वार, सहायक शिक्षक प्रा. शाला लालपुर अतुलचन्द्र पडवार पिता नन्हेदास, सहायक शिक्षक धुम्माकापा शिव कुमार संत पिता शानुलाला उर्फ साबुदास, पटवारी योगेश्वर संत पिता शिव कुमार संत, सहायक अध्यापक पुष्पा संत पिता शिव कुमार संत, रूंगटा कालरी में कार्यरत अमरदास पिता सम्पत सिंह पनिका, सहायक शिक्षक बालकदास पनिका पिता मंगीलाल पनिका, सहायक शिक्षक चंदनिया आशाराम पड़वार पिता लामू पड़वार, माखनदास पिता सोनू उर्फ सवनू, सहायक शिक्षक चन्द्र प्रकाश बघेल पिता मायादास, एसडीओ सिंचाई विभाग जीवनलाल नन्दा के साथ अनेक नाम शामिल है।

इनका कहना है :

नोटिस जारी की गई है या नहीं मुझे याद नहीं है, मैं देखकर इसकी जानकारी देती हूं।

सुश्री कीर्ति बघेल, एसडीओ अनूपपुर

मामला मेरे संज्ञान में है, जांच के लिए एसडीओ को सौंपा गया है, शायद नोटिस भी इस मामले में जारी कर दी गई है।

अभिषेक राजन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनूपपुर

आज ही बैठक में इस विषय पर चर्चा की गई है, जल्द ही टीम गठित कर विधिवत जांच कराई जायेगी।

सरोधन सिंह, अपर कलेक्टर अनूपपुर

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co