फर्जी हितग्राहियों ने किए आवेदन
फर्जी हितग्राहियों ने किए आवेदन|Syed Dabeer-RE
मध्य प्रदेश

स्ट्रीट वेंडर योजना : फर्जी हितग्राहियों ने किए आवेदन, जांच में खुली पोल

भोपाल, मध्यप्रदेश: स्ट्रीट वेंडर योजना शुरू होने के पहले ही भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई है जहां करीब 54 हजार फर्जी हितग्राहियों ने लाभ उठाने के लिए आवेदन किए हैं।

Deepika Pal

Deepika Pal

जबलपुर, मध्यप्रदेश। महामारी कोरोना का प्रकोप जहां किए जा रहे रोकथाम के बाद भी थमने का नाम नहीं ले रहा है वहीं दूसरी तरफ प्रदेश को आत्मनिर्भर बनाने की तैयारी सरकार द्वारा की जा रही है जिसके तहत सरकार द्वारा शुरू की गई स्ट्रीट वेंडर योजना शुरू होने के पहले ही भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई है जहां करीब 54 हजार फर्जी हितग्राहियों ने लाभ उठाने के लिए आवेदन किए हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने हितग्राहियों से किया संवाद

इस संबंध में, आपको बताते चलें कि,प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज यानि बुधवार को मध्य प्रदेश के शहरी पथ विक्रेताओं से संवाद किया। जहां पीएम मोदी ने इंदौर में सांवेर के छगन लाल वर्मा से स्वनिधि योजना से मिले ऋण के बारे में जानकारी ली। पूछा कि इस योजना से किस तरह फायदा हो रहा है। इसके साथ ही आत्मनिर्भर भारत और प्रदेश के विषय में विचार विमर्श भी हुआ है।

नगर निगम ने फर्जी हितग्रहियों की खोली पोल

इस संबंध में, जबलपुर के नगर निगम आयुक्त अनूप सिंह का कहना है कि, इस योजना के करीब 87 हजार हितग्राहियों के आवेदन आए थे जिसमें 52 हजार लोगों के आवेदन अपात्र पाए गए हैं। बताया जा रहा है कि, ये आवेदन ऐसे लोगों के आए जो स्ट्रीट वेंडर नहीं है। नगर निगम ने अपने जोनल कार्यालयों पर आवेदनों की जांच कराई तो सच्चाई सामने आई है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co