इस 81 साल की महिला ने लिया संकल्प
इस 81 साल की महिला ने लिया संकल्प|Deepika Pal-RE
मध्य प्रदेश

इस 81 साल की महिला ने लिया संकल्प, मंदिर की नींव के बाद करेगी अन्न ग्रहण

जबलपुर, मध्यप्रदेश: 81 साल की महिला उर्मिला चतुर्वेदी राम मंदिर निर्माण को लेकर बीते 28 साल से अन्न त्याग कर तपस्या कर रही है।

Deepika Pal

Deepika Pal

जबलपुर, मध्यप्रदेश। प्रदेश में एक तरफ महामारी का कोहराम मचा हुआ है वहीं दूसरी तरफ 5 अगस्त को राम मंदिर के आधारशिला रखने को लेकर तैयारियों का दौर जारी है, इस बीच ही एक खबर सामने आईं है जहां 81 साल की महिला उर्मिला चतुर्वेदी राम मंदिर निर्माण को लेकर बीते 28 साल से अन्न त्याग कर तपस्या कर रही हैं जहां उनका संकल्प है कि, राम मंदिर की नीव रखने के बाद ही वे अन्न ग्रहण करेंगी।

अयोध्या में विवादित ढांचा ढहाने के बाद से लिया संकल्प

इस संबंध में, बताया जा रहा है कि जबलपुर के विजय नगर की रहने वाली 81 वर्षीय बुजुर्ग महिला उर्मिला ने 6 दिसंबर 1992 को अयोध्या में विवादित ढांचा ढहाए जाने के बाद दंगे हुए थे उसके बाद से ही संकल्प लिया है तब से ही वे फलाहार के साथ राम नाम जपते हुए उपवास पर हैं। बताया जा रहा है कि, उर्मिला देवी ने उपवास शुरू किया था, तब उनकी उम्र 53 साल थी। लोगों के समझाने के बाद भी वह अपने फैसले पर अडिग रही थी। राम मन्दिर पर फैसला आने के बाद उन्होंने खुश होकर फैसला सुनाने वाले सुप्रीम कोर्ट के जजों और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र भेजकर बधाई दी थी।

अयोध्या में रहकर बिताना चाहती हैं बाकी जीवन

इस संबंध में, उर्मिला का कहना है कि अयोध्या में राम मंदिर का बनना उनके लिए पुनर्जन्म जैसा है। जिसमें संकल्प तो पूरा हो ही गया अब उनकी बस इतनी इच्छा है कि अयोध्या में थोड़ी सी जगह मिल जाए, ताकि बाकी जीवन वे वहां बिता सकें। इसके साथ ही बताया जा रहा है कि, 5 अगस्त को वे दिनभर घर में राम नाम का जाप करेंगी। उनकी इच्छा थी कि वे अयोध्या जाकर राम लला के दर्शन कर ही अन्न ग्रहण करें लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते नहीं जा सकेगी। घर में रहकर भी अन्न ग्रहण करने पर सहमति नहीं जताई है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co