जबलपुर : न मास्क जरूरी समझ रहे लोग और न ही प्रोटोकॉल का कर रहे पालन

जबलपुर, मध्य प्रदेश : बाजारों में त्यौहार के चलते बढ़ी भीड़भाड़, नागरिकों में कोरोना का भय बिल्कुल भी नहीं दिख रहा है और वह कोरोना प्रोटोकॉल को भूलकर त्यौहार की तैयारियों में जुटे हुए हैं।
जबलपुर : न मास्क जरूरी समझ रहे लोग और न ही प्रोटोकॉल का कर रहे पालन
न मास्क जरूरी समझ रहे लोग और न ही प्रोटोकॉल का भी कर रहे पालनप्रतीकात्मक तस्वीर

जबलपुर, मध्य प्रदेश। इन दिन त्यौहारों का सीजन चल रहा है, अब ऐसे में नागरिक घरों से बाहर भी निकल रहे हैं, जो बिना सुरक्षा के बाजारों व सड़कों में दिखाई दे रहे हैं, जिनको देखकर यह लगता है कि शायद उनके भीतर कोरोना वायरस के संक्रमण का भय नहीं है और वह अब यह समझने लगे हैं कि देश व शहर से कोरोना चला गया है, इसलिए कई वर्ग बिना मास्क के भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में घूमते हुए दिखाई दे रहे हैं।

गौरतलब है कि दीपावली के त्यौहार को मनाने के लिए सभी वर्ग बड़ी ही धूमधाम के साथ तैयारियों में जुटे हुए हैं और इसके लिए सभी आवश्यक सामग्रियों को खरीदने के लिए बाजारों में पहुंच रहे हैं, जिनकी सड़कों व बाजारों में बढ़ती संख्या बताती है कि ऐसे नागरिकों में कोरोना का भय बिल्कुल भी नहीं दिख रहा है और वह कोरोना प्रोटोकॉल को भूलकर त्यौहार की तैयारियों में जुटे हुए हैं।

दुकानदारों को दिए गए हैं निर्देश :

वहीं त्यौहार मनाने को लेकर शासन के द्वारा बीतें दिनों में व्यापारियों के साथ एक आवश्यक बैठक आयोजित कर दुकानदारों को यह स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि दुकानों में आने वाले प्रत्येक ग्राहकों से कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करवाया जाए और जो कोरोना प्रोटोकॉल का पालन न करे यानि की बिना मास्क के दुकानों के भीतर आए तो उनका प्रवेश टोटल प्रतिबंध करें, वहीं प्रत्येक दुकानदार सेनेटाईजर की व्यवस्था सहित मास्क दुकानों में रखे और जिनके पास मास्क नहीं है उनको मास्क देकर प्रोत्साहित करने का काम करें।

अस्पतालों में की जाए व्यवस्थाएं दुरूस्त :

वहीं प्रशासन को विशेषज्ञों चिकित्सकों ने बताया है कि ठण्ड के दौरान कोरोना का संक्रमण बहुत तेजी के साथ बढ़ सकता है, इसके लिए प्रशासन व स्वास्थ्य महकमें के द्वारा पहले से ही आवश्यक तैयारियां की जा रही हैं, ताकि ठण्ड के दौरान कोरोना का संक्रमण बढ़ने से पीड़ितों को अस्पतालों में तत्काल में स्वास्थ्य लाभ प्रदान करवाया जा सके और उन्हें परेशानियों का सामना न करना पड़े। इसके लिए तमाम चिकित्सकीय सेवाओं को बढ़ाने के आवश्यक निर्देश जिला प्रशासन के द्वारा सरकारी अस्पतालों से लेकर निजी अस्पतालों को दिए जा चुके हैं।

ध्यान में नहीं रखी जा रहीं महत्वपूर्ण बातें :

शहर में तेजी से हर जगह दिख रही भीड़भाड़ को लेकर प्रशासनिक अमले के साथ-साथ स्वास्थ्य विभाग भी हैरान व परेशान हैं कि नागरिक इस बात को आखिर क्यों नहीं समझ रहे हैं कि कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है, जब तक वैक्सीन नहीं, तब मास्क ही वैक्सीन है, इस बात का ध्यान रखते हुए अगर नागरिक घरों से बाहर निकलते हैं तो मिलकर कोरोना को हराया जा सकेगा, लेकिन अधिकांश वर्ग भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन नहीं करते हुए दिखाई दे रहे हैं, ऐसी लापरवाही आगे चलकर भारी पड़ सकती है।

सभी के द्वारा बरती जा रही लापरवाहियां :

विभिन्न सामग्रियों को बचने का काम करने वाले दुकानदार स्वयं दुकानों में मास्क पहने हुए नहीं दिखाई दे रहे हैं, तो वहीं दुकानों में आने वाले ग्राहक भी बिना मास्क के दुकानों में सामग्री खरीदते हुए दिखाई दे रहे हैं। जिससे दुकानदार व ग्राहक दोनों की लापरवाही भी देखने को मिल रही है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co