Raj Express
www.rajexpress.co
केबिन व कोचिंग के अवैध संचालन के खिलाफ सर्चिंग
केबिन व कोचिंग के अवैध संचालन के खिलाफ सर्चिंग|Pankaj Yadav
मध्य प्रदेश

छतरपुर: अवैध घटनाओं के बाद एक्शन में पुलिस, सर्चिंग अभियान जारी

छतरपुर: होटल में चल रहे प्राइवेट केबिन व कोचिंग के अवैध संचालन के खिलाफ सर्चिंग अभियान शुरू किया गया व सभी कोचिंग संचालकों को वैधानिक दस्तावेज और नियमों का पालन करने की चेतावनी दी।

Pankaj Yadav

राज एक्‍सप्रेस। एक कोचिंग संचालक द्वारा छात्रा का अश्लील वीडियो बनाने की घटना सामने आने के बाद शहर में फैले तनाव को खत्म करने के लिए पुलिस अब एक्शन मोड में आ गई है। गुरूवार को एएसपी जयराज कुबेर के नेतृत्व में शहर के होटलों पर सर्चिंग अभियान चलाया गया, तो वहीं शाम को सभी कोचिंग संचालकों की बैठक बुलाकर उन्हें 7 दिन के भीतर अपने वैधानिक दस्तावेज लाने और नियमों का पालन करने की चेतावनी दी गई है।

होटलों में सर्चिंग अभियान पर संयुक्त दल :

संयुक्त टीम ने एसपी तिलक सिंह के निर्देश पर दोपहर 2 बजे पहले पुलिस प्रशासन और नगर पालिका की एक बैठक की और तदोपरांत यह संयुक्त दल होटलों के सर्चिंग अभियान पर निकला। इस टीम ने जवाहर रोड पर संचालित होटल ला विलाए विद्युत मंडल कार्यालय के सामने स्थित शेफ विनय रेस्टोरेंट एवं बिजावर रोड पर स्थित रॉयल होटल पर अचानक छापामार कार्यवाही की।

होटलों में बने प्राइवेट केबिन :

छापेेमार कार्यवाही में इन होटलों में से शेफ विनय और होटल ला विला में लड़के-लड़कियों को अलग से बैठाने के लिए प्राइवेट केबिन बनाए गए थे। होटलों में कम से कम आधा दर्जन प्रेमी जोड़े बैठे हुए भी पाए गए, पुलिस ने इन प्रेमी जोड़ों के माता-पिता को फोन लगाकर उन्हें इसकी सूचना दी और होटल संचालकों को प्राइवेट केबिन बनाने को लेकर जमकर फटकार लगाई। पुलिस ने इन केबिनों के आसपास गुप्त रूप से लगाए गए CCTV कैमरों की भी जांच की, हालांकि यहां कैमरे नहीं पाए गए। पुलिस को सामने देख कई प्रेमी जोड़े घबरा गए और पुलिस के हाथ जोड़ने लगे।

होटलों में बने प्राइवेट केबिन
होटलों में बने प्राइवेट केबिन

कोचिंग में CCTV कैमरे लगाने के निर्देश :,

दोपहर में होटलों पर छापामार कार्यवाही करने के बाद एडीशनल एसपी जयराज कुबेर ने शाम को 5 बजे शहर के सभी कोचिंग संचालकों की एक बैठक आहूत की। इस बैठक में पुलिस ने कोचिंग संचालकों को हिदायत देते हुए कहा कि, शहर की कोई भी कोचिंग बगैर वैधानिक रजिस्ट्रेशन के संचालित नहीं की जाएगी। कोचिंग का संचालन सुबह 6 बजे से शाम 7 बजे तक ही किया जा सकेगा और कोचिंग में पढ़ाने वाले शिक्षकों एवं छात्रों का पूरा ब्यौरा संचालक के पास सदैव मौजूद होना चाहिए, पुलिस किसी भी समय इसकी जांच करेगी। पुलिस समय-समय पर कोचिंग में पहुंचकर छात्राओं से भी उनकी परेशानियों को पूछेगी। एएसपी ने कहा कि, कोचिंग के पूरे कैम्पस में CCTV कैमरे लगाए जाएं, ताकि अवैध गतिविधियों की गुंजाइश न हो, साथ ही कोचिंग संचालकों को ये निर्देश भी दिए है कि, वे 7 दिन के भीतर यदि सभी दस्तावेज संबंधित थानों में जमा कराए, अगर दस्तावेज जमा नहीं हुए तो कोचिंग संचालकों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी।

होटल-कोचिंग में सर्चिंग अभियान
होटल-कोचिंग में सर्चिंग अभियान

कुछ रेस्टोरेंट सिर्फ प्रेमी जोड़ों के दम पर ही संचालित :

शहर के कुछ रेस्टोरेंट सिर्फ प्रेमी जोड़ों के दम पर ही संचालित हो रहे हैं। इन रेस्टोरेंट में कई नाबालिग बच्चे भी प्राइवेट केबिन पाकर घंटों बैठे रहते हैं। रेस्टोरेंट संचालकों ने प्रेमी जोड़ों को प्राइवेसी देने के लिए प्राइवेट केबिन डिजाइन कर दिए हैं, जिनमें अक्सर अश्लीलता भी देखी जाती है। एएसपी ने कहा है कि, अब ऐसे रेस्टोरेंट संचालकों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी। इस कार्यवाही के दौरान एसडीएम केके पाठकए सीएसपी उमेश शुक्लाए टीआई अरविंद दांगीए नगर पालिका के सीएमओ अरूण पटैरिया सहित भारी पुलिस बल मौजूद रहा।