संत कालीचरण की गिरफ्तारी पर कैलाश विजयवर्गीय ने उठाए सवाल, कही ये बात
भाजपा राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीयSyed Dabeer Hussain - RE

संत कालीचरण की गिरफ्तारी पर कैलाश विजयवर्गीय ने उठाए सवाल, कही ये बात

भोपाल, मध्यप्रदेश। संत की गिरफ्तारी को लेकर अब भाजपा के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का बयान सामने आया है। कैलाश ने कालीचरण की गिरफ्तारी की कड़ी निंदा करते हुए कही ये बात...

भोपाल, मध्यप्रदेश। गांधीजी पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले संत कालीचरण की गिरफ्तारी के बाद अब इस मामले पर राजनीति गरमा गई है। संत कालीचरण की गिरफ्तारी को लेकर अब भाजपा के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का बड़ा बयान सामने आया है। कैलाश विजयवर्गीय ने कालीचरण महाराज की गिरफ्तारी की कड़ी निंदा करते हुए कही ये बात।

कैलाश विजयवर्गीय ने की कालीचरण के गिरफ्तारी की निंदा :

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का एक बड़ा बयान सामने आया है, भाजपा के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने संत कालीचरण महाराज की गिरफ्तारी पर सवाल उठाए हैं। साथ ही भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि भारत विरोधी नारे लगाने वालों के खिलाफ इसी तरह की कार्रवाई क्यों नहीं की गई।

कैलाश विजयवर्गीय ने ‘टुकड़े, टुकड़े' स्लोगन पर उठाए सवाल :

‘टुकड़े, टुकड़े' स्लोगन पर सवाल उठाते हुए कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि भारत तेरे टुकड़े होंगे के नारे लगे और वहां पीठ थपथपाने के लिए राहुल गांधी ​गए। जब भारत के खिलाफ कोई टिप्पणी करे तो आप पीठ थपथपाओगे और कोई व्यक्ति अपने दिल के ​जज्बात कहे तो उनके लिए बोलने का अधिकार सुरक्षित नहीं है।

इस मामले को लेकर कल ही कैलाश विजयवर्गीय ने कहा था कि इस तरह कानून का उपयोग करना गलत है, कई चीजें समझाइश से भी हो सकती हैं, हमने देखा है कि इस देश में भारत तेरे टुकड़े होंगे का नारा बुलंद हुआ और खुद राहुल गांधी उनकी पीठ थपथपाने गए. भारत के टुकड़े होने वालों के साथ सभी विपक्ष वाले थे, लेकिन आज कोई व्यक्ति अपने दिल के जज्बात बोले तो उनके बोलने का अधिकार सुरक्षित नहीं हैं, इसलिए मैं समझता हूं कि संतों के प्रति लिबरल रहना चाहिए।

जानिए पूरी खबर

दरअसल, रायपुर के रावण भाटा मैदान में दो दिवसीय धर्म संसद आयोजित किया गया था। इस धर्म संसद में कई राज्यों के सधु-संत समेत कई राजनीतिक दलों के लोग भी पहुंचे थे। इस दौरान कालीचरण महाराज ने कहा था कि हमारा मुख्य कर्तव्य क्या है- धर्म की रक्षा करना। हमें सरकार में एक कट्टर हिंदू राजा (नेता) का चुनाव करना चाहिए, भले ही कोई भी हो।

भाजपा राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय
गांधीजी पर अभद्र टिप्पणी करने वाले संत को पुलिस ने खजुराहो से किया गिरफ्तार

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co