कमलनाथ ने काटा हनुमानजी का फोटो लगा केक- मचा बवाल
कमलनाथ ने काटा हनुमानजी का फोटो लगा केक- मचा बवालSocial Media

कमलनाथ ने काटा हनुमानजी का फोटो लगा केक- मचा बवाल, बीजेपी ने लगाया ये आरोप

एमपी के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वो हनुमानजी का फोटो लगा हुआ केक काटते हुए नजर आ रहें हैं। जिसको लेकर बवाल मच गया है।

छिंदवाड़ा, मध्य प्रदेश। एमपी के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वो हनुमानजी का फोटो लगा हुआ केक काटते हुए नजर आ रहें हैं। केक का स्ट्रक्चर मंदिर की तरह है। वीडियो सामने आने के बाद कमलनाथ पर हिन्दू देवता भगवान हनुमान और श्री राम जी का अपमान करने का आरोप लगाया जा रहा है। बीजेपी ने इसे भगवान श्रीराम और हनुमानजी का अपमान बताया है।

बता दें कि, कमलनाथ छिंदवाड़ा गए थे, इसी दौरान उन्होंने अपने जन्मदिन से दो दिन पहले केक काटा, केक में हनुमान जी की तस्वीर थी। बता दें, कमलनाथ का जन्मदिन 18 नवंबर को है, लेकिन उनके प्रशंसक और पार्टी कार्यकर्ताओं ने पहले ही उनका बर्थडे सेलिब्रेशन कर लिया। इस दौरान का वीडियो सामने आया है, जिसको देखने के बाद बीजेपी ने इसे गलत बताया है और कहा है कि, ये हिंदू आस्था के साथ खिलवाड़ है। वहीं, इस मामले को लेकर बीजेपी के कई नेताओं ने अपनी प्रतिक्रिया दी है।

बीजेपी ने कही यह बात:

बीजेपी ने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है, "आज कमलनाथ की कथित हनुमान भक्ति का पाखण्ड फिर उजागर हुआ है।हिंदू विरोधी कमलनाथ ने पूज्य हनुमान जी का चित्र लगा और मंदिरनुमा केक काटकर करोड़ों हिंदुओं की भावनाओं से खिलवाड़ किया है।"

शिवराज सिंह ने कही यह बात:

इस वीडियो पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि, "कांग्रेसियों का भगवान की भक्ति से कोई लेना-देना नहीं है, यह बगुला भगत हैं। इनकी पार्टी कभी श्रीराम मंदिर का विरोध करती थी। आप केक पर बने हनुमान जी का केक काट भी रहे हैं। यह सनातन परंपरा और हिंदू धर्म का अपमान है, जिसको यह समाज स्वीकार नहीं करेगा।"

भाजपा जिलाध्यक्ष ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा:

वहीं, छिंदवाड़ा में भाजपा जिलाध्यक्ष बंटी साहू ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि, "पूर्व CM कमलनाथ ने भले ही हनुमान जी का मंदिर बनाया है, लेकिन उनकी मंदिर में जरा भी आस्था नहीं है। अक्सर उनका पूरा परिवार और वे खुद हिंदू धर्म की आस्था से खिलवाड़ करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं।"

कमलनाथ के श्री राम हनुमान केक काटने के विवाद पर मध्यप्रदेश सरकार के मंत्री कमल पटेल का बड़ा हमला:

पूर्व मुख्यमंत्री और मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ के छिंदवाड़ा निवास पर कमलनाथ और उनकी मंडली द्वारा श्री राम हनुमान केक काटने के विवाद के बीच छिंदवाड़ा के प्रभारी एवं कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि, कमलनाथ और कांग्रेस के सभी बड़े नेता मौकापरस्त हिंदूवादी है। सारे के सारे नास्तिक हैं। जिस पार्टी के नेताओं ने भगवान श्री राम के अस्तित्व को ही ठुकरा दिया हो तो उनसे क्या आशा की जा सकती है। इतना जरूर कहा जा सकता है कि वोट बैंक की खातिर यह सब धार्मिक बन रहे हैं। लेकिन इनके धार्मिक बनने से हमारी पार्टी की जीत है। कमलनाथ को चाहिए था कि वे भारतीय संस्कृति के अनुसार भगवान की पूजा करते न कि पाश्चात्य संस्कृति में भगवान श्री राम और हनुमान का केक काटते । धार्मिक आस्थाओं से खिलवाड़ यह लोग करते ही रहते हैं। इनकी आदत है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co