शिवराज सरकार कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को तिरंगा भेंट करने से रोक रही है, कमलनाथ का बयान

भोपाल, मध्यप्रदेश : संगीता शर्मा को पीसीसी में रोकने के मामले पर कांग्रेस ने सरकार पर तंज कसा है, कमलनाथ ने कहा- मैं CM से पूछना चाहता हूं कि क्या भाजपा की सरकार में राष्ट्रध्वज भेंट करना अपराध है?
कमलनाथ का बयान
कमलनाथ का बयानSocial Media

भोपाल, मध्यप्रदेश। बीते दिनों से मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) प्रमुख मोहन भागवत है। ऐसे में कांग्रेस मीडिया विभाग की उपाध्यक्ष संगीता शर्मा ने संघ प्रमुख मोहन भागवत को तिरंगा और किताब भेंट करने का ऐलान किया। संघ प्रमुख को तिरंगा और किताबें भेंट करने के लिए वे पीसीसी से रवाना हुई, लेकिन व्यापमं चौराहे पर ही पुलिस ने उन्हें रोक लिया।

कमलनाथ ने ट्वीट कर सरकार पर साधा निशाना :

संगीता शर्मा को पीसीसी में रोकने के मामले पर कांग्रेस ने सरकार पर जमकर तंज कसा है। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा- जब पूरा देश आजादी की जयंती मना रहा है, तब मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह चौहान सरकार कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को तिरंगा भेंट करने से रोक रही है। संगीता शर्मा और अन्य कांग्रेस कार्यकर्ता आज संघ प्रमुख को तिरंगा भेंट कर रहे थे, ताकि उनके अंदर भी राष्ट्रवाद की भावना जागृत हो सके।

कमलनाथ ने पूछा क्या तिरंगा भेंट करना अपराध है?

कमलनाथ ने कहा कि, इस कदम का स्वागत करने के बजाए सुबह से ही मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यालय को पुलिस ने घेर लिया। पुलिस ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं का रास्ता रोक लिया और तिरंगा भेंट नहीं करने दिया। मैं मुख्यमंत्री से पूछना चाहता हूं कि आजाद भारत में क्या भाजपा की सरकार में राष्ट्रध्वज भेंट करना अपराध है?

दिग्विजय सिंह ने पुलिस और प्रशासन पर सवाल उठाए

वहीं इस मामले को लेकर पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह का भी बयान सामने आया है। पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने संगीता शर्मा को पीसीसी में रोकने के मामले पर पुलिस और प्रशासन पर सवाल उठाए हैं। दिग्गी ने ट्वीट कर लिखा- मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मुख्यालय में बिना किसी सूचना के घुसी पुलिस। कांग्रेसी मीडिया उपाध्यक्ष संगीता शर्मा आज आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को राष्ट्रध्वज तिरंगा भेंट करने जा रही हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co