Katni: गड्ढे में डूबने से दो बच्चों की हुई मौत, रेस्क्यू के बाद निकाले गए शव
Katni: गड्ढे में डूबने से दो बच्चों की हुई मौतSocial Media

Katni: गड्ढे में डूबने से दो बच्चों की हुई मौत, रेस्क्यू के बाद निकाले गए शव

कटनी, मध्यप्रदेश। इन दिनों डूब की चपटे में आने से घटनाएं तेजी से बढ़ गई हैं। अब कटनी के कुठला थाना अंतर्गत कुठला बस्ती में दो बच्चों की डूबने से मौत की खबर सामने आई है।

कटनी, मध्यप्रदेश। इन दिनों डूब की चपटे में आने की घटनाएं तेजी से बढ़ गई हैं। अब मध्यप्रदेश के कटनी में हुआ हादसा, मिली जानकारी के मुताबिक कटनी के कुठला थाना अंतर्गत कुठला बस्ती में दो बच्चों की डूबने से मौत की खबर सामने आई है।

गड्ढे में डूबने से दो बच्चों की मौत

कटनी जिले के कुठला थाना अंतर्गत कुठला बस्ती में सीवर लाइन प्लांट बनाने के लिए खोदे गए गड्ढे में दो बच्चों की डूबने से मौत हो गई है। बता दें कि करीब 4 घंटे चले रेस्क्यू में दोनों के शवों को गड्ढे से निकाल लिया गया है। पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

मिली जानकारी के मुताबिक

कुठला बस्ती निवासी रामदास बेन की बच्ची रिया अस्सो बेन और दिनेश बेन का बच्चा कृष्णा दोनों रविवार सुबह घर के पीछे खेल रहे थे, कुछ देर बाद जब दोनों बच्चे परिजनों को नहीं दिखे तो उन्होंने उनकी तलाश की तो घर के पीछे बने सीवर लाइन के प्लांट के गड्ढे के पास बच्चों की चप्पल दिखी, जिसके बाद लोहे के जाल को गड्ढे में डालकर बच्चों की खोजबीन शुरू की गई, रेस्क्यू में दोनों शव को गड्ढे से बाहर निकाला गया, बच्चों की मौत के बाद परिजन रोते-बिलखते रहे।

परिजनों और क्षेत्रवासियों ने आरोप लगाए

इस हादसे के बाद से परिजनों और क्षेत्र के लोगों में काफी आक्रोश है, परिजनों और क्षेत्रवासियों ने आरोप लगाए हैं कि रहवासी क्षेत्र में सीवर लाइन का प्लांट लगाए जाने का विरोध शुरू से किया जा रहा है, बावजूद इसके जिम्मेदार अधिकारियों ने विरोध को अनसुना कर दिया। क्षेत्रवासियों का कहना है कि प्लांट का गड्ढा रहवासी क्षेत्र में नहीं खोदा जाता, तो यह हादसा नहीं होता।

आपको बताते चलें कि मध्यप्रदेश में एक के बाद एक हादसे हो रहे हैं और लोगों को जिंदगी गंवानी पड़ रही हैं, इससे पहले भी ऐसे कई मामले आ चुके हैं, नीचे दी गई लिंक पर क्लिक कर पढ़ें खबर- मछली पकड़ने गए बच्चे तालाब में डूबे,हादसे की खबर से गांव में छाया मातम

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.