कांग्रेस नेता समेत 2 पर मामला दर्ज
कांग्रेस नेता समेत 2 पर मामला दर्ज|Gaurav Kapoor
मध्य प्रदेश

तहसीलदार मधु नायक की कार्रवाई, कांग्रेस नेता समेत 2 पर मामला दर्ज

मध्यप्रदेश के खाचरौद नगर में निरीक्षण के दौरान तहसीलदार मधु नायक की बड़ी कार्रवाई,कांग्रेस नेता समेत 2 पर मामला दर्ज।

Gaurav Kapoor

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के खाचरौद नगर में कोरोना संक्रमण की रोकथाम हेतु स्थानीय प्रशासन ने सुबह 6 से 9:30 बजे तक दूध की होम डिलीवरी के निर्देश प्रदान किये हुए हैं। लॉक डाउन पालन करवाने के लिये नगर निरीक्षण पर मय दल निकली तहसीलदार मधु नायक को अनुविभागीय अधिकारी खाचरौद के आदेशों की अवहेलना की सूचना मिली थी।

इस दौरान अधिकारी मय दल के निरीक्षण करते हुए बुधवार की रात्रि लगभग 8:30 बजे रावला क्षेत्र में पहुँची जहाँ केशव दूध डेयरी संचालक द्वारा प्रतिबंधित समय पर दूध बेचा जाना पाया। तहसीलदार नायक ने केशव दूध डेयरी संचालक की दुकान को खुला पाये जाने पर दूध बेचते हुए अविनाश पिता भरतलाल जाट को प्रतिबंधित समय मे दूध डेयरी संचालन करते पाये जाने पर पंचनामा बनाकर दूध डेयरी को सील करने की कार्रवाई की गई थी।

तहसीलदार नायक ने पुलिस को लेखनीय आवेदन में बताया कि इस दौरान गोविंद भरावा अनिल भरावा नमित वनवट ने अभद्रता कर भीड़ एकत्रित कर शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाई पुलिस खाचरौद ने तहसीलदार की शिकायत पर गोविंद भरावा अनिल भरावा एवं नमित वनवट के विरूद्ध धारा 353, 188,186, 34 आईपीसी की धाराओं में प्रकरण पंजीबद्ध किया हैं।

इसी तरह नपा कर्मचारी कालू नायक की शिकायत पर गुड्डू वकील के विरुद्ध धारा 353, 186 आईपीसी के तहत शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाने का प्रकरण पुलिस द्वारा दर्ज किया है।

ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद भरावा द्वारा जानकारी देकर बताया गया कि तहसीलदार मेडम से किसी भी प्रकार का कोई विवाद नहीं हुआ था। मेरी आँखों के सामने तहसीलदार मेडम अपने पद का दुरुपयोग कर गलत कार्रवाई कर रही थी मैने अपना पक्ष अधिकारी के सामने रखा मेरी सुनवाई नहीं की जिस दूध डेयरी को सील किया गया वहाँ न तो दूध था न नहीं बेचा जा रहा था दुकान संचालक आधी शटर लगाकर दुकान की साफ सफाई कर रहा था।

साथ ही कहा कि, दूध डेयरी मेरे घर के सामने स्थित है दूध डेयरी संचालक को मैंने खुद दुकान बंद करने को कहा था हम नहीं चाहते कि, कोरोना की बीमारी हमारे नगर में घरों के आसपास फैले हमारे घर में भी बाल बच्चे हैं, लेकिन दुकान की सफाई के दौरान प्रशासन ने जो सील की कार्रवाई की वो बिल्कुल गलत थी, इसी बात को लेकर मेडम से चर्चा की, लेकिन मेडम ने हमारी एक भी बात नही सुनी और दुकान को सील किया। मेरे द्वारा कभी भी प्रशासन के कार्य में हस्तक्षेप नहीं किया राजनीति दबाव में प्रकरण दर्ज करवाया गया हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co