प्रदेश में बर्ड फ्लू की दस्तक, कई शहरों में पक्षियों की मौत का सिलसिला जारी
Bird Flu In Madhya PradeshSocial Media

प्रदेश में बर्ड फ्लू की दस्तक, कई शहरों में पक्षियों की मौत का सिलसिला जारी

मप्र में बर्ड फ्लू की दस्तक, प्रदेशभर के कई शहरों में पक्षियों की मौत का सिलसिला जारी अब तक 400 से अधिक मौत। जानें पूरी रिपोर्ट..

मध्यप्रदेश। देश में जहां एक तरफ कोरोना वैक्सीन को मंजूरी मिली है, वहीं दूसरी तरफ बर्ड फ्लू ने कई राज्यों सहित मध्यप्रदेश में भी अपनी दस्तक दे दी है। प्रदेश के तीन जिलों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी है। साथ ही 400 से ज्यादा पक्षियों की मौत हो चुकी है। कई शहरों में पक्षियों की मौत का सिलसिला जारी है। आज यानि बुधवार को अशोकनगर जिले में 5 कौवे मृत मिले हैं।

प्रदेशभर के शहरों में चल रही बर्ड फ्लू के खतरे की दहशत अब अशोकनगर जिले में भी पहुंच गई है। आज सुबह अशोकनगर के मुक्तिधाम क्षेत्र में 5 कौवे मृत मिले हैं। जिससे लोगों में हड़कंप मच गया। मृत कौवों को पशु चिकित्सा विभाग को सौप दिया गया है। जहां से उन्हें जांच के लिए हाई सिक्योरिटी लैब भोपाल भेजा दिया गया है। बता दें कि इससे पहले मंगलवार को प्रदेश के तीन जिले इंदौर, मंदसौर, आगर मालवा में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है।

अशोकनगर में मृत मिले कौवों को लेकर अधिकारियों ने कहा कि जांच के बाद तय हो पाएगा, कौवों की मौत किस वहज से हुई है। अगर बर्ड फ्लू की वजह से कौवों की मौत होना पाया जाता है तो स्ट्रेन लेवल देखा जाएगा कि वह किस स्तर का है। उसी प्रोटोकॉल के तहत आगे की रूपरेखा तय की जाएगी।

आपको बता दें कि, प्रदेश भर में अब तक 400 से अधिक पक्षियों की मौत हो चुकी है। जानकारी के अनुसार इंदौर में 155, मंदसौर में 100, आगर मालवा में 112, खरगोन में 13, सीहोर में 9, अशोकनगर में 5 कौवों की मौत हो चुकी है। प्रदेश के इंदौर, मंदसौर और आगर मालवा जिलों में कौवों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। इन तीन जिलों के अलावा, उज्जैन, सीहोर, देवास, गुना, शाजापुर, खरगोन और नीमच जिलों में भी कौवों की मृत्यु होने पर नमूने एकत्र करके रोकथाम की कार्यवाही की गई है। इन जिलों से नमूने भारतीय उच्च सुरक्षा रोग अनुसंधान प्रयोगशाला, भोपाल भेजे गए हैं और परिणाम का इंतजार है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co