अनूपपुर : सभा में खाद्य मंत्री और कलेक्टर से कांग्रेस विधायक की कहा-सुनी
सभा में खाद्य मंत्री और कलेक्टर से कांग्रेस विधायक की कहां-सुनीShrisitaram Patel

अनूपपुर : सभा में खाद्य मंत्री और कलेक्टर से कांग्रेस विधायक की कहा-सुनी

अनूपपुर, मध्य प्रदेश : कोतमा के आयोजन में स्टेज पर बैठे विधायक को रास नहीं आया डबल विकास। जिस सड़क का भूमिपूजन करने गये थे मंत्री, वह कांग्रेस के समय में हुआ था पास।

अनूपपुर, मध्य प्रदेश। कोतमा में आयोजित कार्यक्रम में विकास कार्यो की भूमिपूजन और शुभारंभ करने के बाद मंच के माध्यम से जब खाद्य मंत्री अपना उद्बोधन शुरू ही करने वाले थे कि स्थानीय कांग्रेस विधायक नाराज हो गये, जहां भूमिपूजन को लेकर कलेक्टर और खाद्य मंत्री को खरी-खोटी सुना दी। हांलाकि जिस तरह का कृत्य एक कार्यक्रम के सम्मानित स्टेज में देखा गया वह न तो जनता के लिए सही था और न ही कांग्रेस और भाजपा के लिए। अब लोग इसे किसी का अपमान कहें या फिर नौटंकी, लेकिन संदेश बेहतर नहीं था।

नगरपालिका कोतमा अंतर्गत विभिन्न कार्यो को लेकर भूमिपूजन और शुभारंभ का कार्यक्रम 20 दिसंबर किया गया, जहां खाद्य मंत्री बिसाहूलाल सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष बृजेश गौतम, नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती मोहिनी वर्मा, कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर के साथ कोतमा के कांग्रेस विधायक सुनील सराफ ने भी अपनी दस्तक दी थी, इस विशाल कार्यक्रम में पूजन-अर्चन के बाद स्टेज तक सभी ने बखूबी अपना सहयोग अता किया था, नेताओं का लच्छेदार भाषण शुरू होने के बाद अंत में जब खाद्य मंत्री के उद्बोधन की बारी आते देख कांग्रेस विधायक सुनील सराफ ने आपत्ति दर्ज करा दी, ने सीधे पर तौर स्टेज में ही खड़े हो गये और कहा कि एक विधायक को बुलाकर अपमान किया जा रहा है, उन्हें बोलने का भी मौका नहीं दिया जा रहा है, जबकि स्थानीय विधायक अपना योगदान विकास कार्यो में बखूबी रखता है, उन्होंने कहा कि जिस कार्य का भूमिपूजन किया जा रहा है वह कांग्रेस के समय ही सेंक्शन हो चुका था, उसके बाद भाजपा की सरकार उसे दोबारा अपना नाम दे रही है।

यह कहा कांग्रेस विधायक ने :

स्थानीय कांग्रेस विधायक सुनील सराफ ने स्टेज से उठने के बाद अपनी तेज जर्रार आवाज के साथ कहा कि 2019 में कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने सेंक्शन किया और वहा विधायक और वर्तमान खाद्य मंत्री भी मौजूद थे और उन्होंने ही मेरे इस कार्य को स्वीकृत कराया था, अगर आपको सील ही लगानी है तो जो कार्य बाकी रह गये है वहां पर लगाईये, यह मेरा अपमान नहीं है, कोतमा क्षेत्र की डेढ़ लाख जनता का अपमान है, जिस सड़क का इन्होंने ठीकरा पीटा है वह कांग्रेस समय में पास हुआ था। इसके साथ ही कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर को भी खरी-खोटी सुना दी, उन्होंने कहा कि 'कलेक्टर साहब आप तो कलेक्टरी करिए, अगर इसी तरह होता रहा तो ऐसे में क्या होगा' जिसके बाद स्टेज से नीचे उतर गये।

मंत्री ने सुना दी विधायक की कहानी

खाद्य मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने कांग्रेस विधायक सुनील सराफ को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि यहां पर कुछ नेता विकास की बदौतल कबाड, शराब और सट्टेबाजों की मदद करते हैं, लोग एक दूसरे की बुराई करते-करते खुद बुरे हो जाते हैं, सट्टा खेलने वालों की मदद करेंगे और जब पकड़ जाते हैं तो फोन करके एसपी और कलेक्टर से बोल कर छुडंवायेंगे, ऐसा विकास नहीं होता है, हम लोग भी जनप्रतिधि हैं, हमारी भी एक समय सीमा है और राज्य शासन द्वारा सभी विधायकों और मंत्रियों को सुरक्षा गार्ड मिला है, लेकिन कभी-कभी सुनने में आता है 2 बजे रात कोई हमारे विधायक को मार दिया, समझ में नहीं आता है, ऐसे कर्म लोग क्यों करते हैं और फिर बिना सुरक्षा गार्ड के इतनी रात को आखिर करते क्या हैं, उन्होंने कहा कि हमें पता है कि मार खाने का कारण क्या है, लेकिन स्टेज से बताने लायक नहीं है।

सच में कहीं अपमान तो नहीं :

इस पूरे कार्यक्रम को लेकर आमंत्रण पत्र के साथ शुभारंभ बोर्ड पर विशिष्ट अतिथि के रूप में कोतमा विधायक सुनील सराफ को बनाया गया था, बाकायदा उन्हे स्टेज में बुलाया भी गया था, फिर भी भाजपा के इस कार्यक्रम में उन्हे उद्बोधन से दूर रखा गया, यह एक तरह से मंच संचालन करने वाले की गलती भी है और जब कांग्रेस विधायक ने स्वयं अपने उद्बोधन की इच्छा जाहिर की तो भाजपा के पदाधिकारियों के द्वारा उन्हे माइक नहीं दिया गया, इससे एक तरह से अंदाजा लगाया जा सकता है कि कहीं न कहीं विधायक को बुलाकर अपमान करने की मंशा बनाई गई थी। मामला चाहे जो भी हो, लेकिन सम्मानित स्टेज में इस तरह की कार्यप्रणाली एक मंत्री, विधायक और जनप्रतिनिधियों को शोभनीय नहीं है।

50 बिस्तर का अस्पताल और नए कोषालय का आश्वासन :

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति तथा उपभोक्ता संरक्षण मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने कोतमा समेत अनूपपुर जिले के चहुंमुखी विकास का भरोसा दिलाते हुए कहा है कि विकास के कार्य आत्मा और गहरी सोच से होते हैं। वह उस दिशा में लगातार प्रयास कर रहे हैं। श्री सिंह ने यह बात आज कोतमा में लाखों रुपये की लागत के निर्माण कार्यों का भूमिपूजन और शुभारंभ करते हुए कही। इस मौके पर 115 लाख रुपये लागत के शिवसागर तालाब के सौंदर्यीकरण समेत पथरौड़ी से गढ़ी पहुंच मार्ग का उन्नयन कार्य, अनूपपुर कोतमा बायपास बसखली चौराहा तक सीमेंट कंक्रीट मार्ग और सोल्डर डिवाईडर, डामरीकरण तथा वार्ड नं. 1, 2, 8, 10, 11 तथा 13 में सड़क डामरीकरण के कार्य शामिल हैं। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति तथा उपभोक्ता संरक्षण मंत्री श्री सिंह ने कोतमा में 50 बिस्तर का अस्पताल मंजूर कराने और नवीन कोषालय खुलवाने का आश्वासन दिया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co