भोपाल : उच्च शिक्षा विभाग के यू-ट्यूब पर लेक्चर्स को मिल रहे लाखों लाइक्स

उच्च शिक्षा विभाग द्वारा तैयार कराए गए लेक्चर्स को ना सिर्फ लाखों लोगों द्वारा सुना जा रहा है बल्कि लाइक भी किया जा रहा है। देश-विदेश में हो रही सराहना, विद्यार्थियों ने कहा हो रहे हैं कंसेप्ट क्लीयर।
भोपाल : उच्च शिक्षा विभाग के यू-ट्यूब पर लेक्चर्स को मिल रहे लाखों लाइक्स
उच्च शिक्षा विभाग के यू-ट्यूब पर लेक्चर्स को मिल रहे लाखों लाइक्सSocial Media

भोपाल, मध्य प्रदेश। उच्च शिक्षा विभाग द्वारा तैयार कराए गए लेक्चर्स को ना सिर्फ लाखों लोगों द्वारा सुना जा रहा है बल्कि लाइक भी किया जा रहा है। विद्याार्थियों का कहना है कि लेक्चर्स में इतने अच्छे तरीके से टॉपिक्स को समझाया गया है कि कंसेप्ट बिल्कुल स्पष्ट हो रहे हैं। अपनी सहूलियत अनुसार हम इन्हें सुन या देख लेते हैं तो बोरिंग नहीं लगते और रूचि बनी रहती है। विदित है कि कोराना के कारण रेगुलर क्लासेस संचालित नहीं हो रही हैं, इसलिए विभाग ने यूजी-पीजी की सभी संकायों के लेक्चर के ऑडिओ-वीडियो तैयार कर वेबसाइट पर अपलोड कर दिए हैं। दोनों तरह के लेक्चरर में विभाग को यू-ट्यूब चैनल पर करीब ढाई लाख विद्यार्थियों ने पसंद किया है। इतना ही नहीं ये आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है। खास बात यह भी है कि इन लेक्चर्स के लिए राजधानी ही नहीं देश-विदेश से भी रुझान मिल रहा है। जिसके लिए विभाग की सराहना की जा रही है।

700 वीडियो और 105 ऑडियोविभाग ने सभी संकाय विषयों के वीडियो और ऑडियो तैयार किए हैं। इसमें यूजी में 500 और पीजी में 200 वीडियो प्रोफेसरों से तैयार कराए गए हैं। इसके अलावा पीजी में 75 और यूजी में 30 ऑडियो को प्रोफेसरों द्वारा रिकार्ड कराया गया है। यूजी में एक लाख 60 हजार और पीजी के वीडियो को चालीस हजार विद्यार्थियों ने इस प्लेटफार्म के जरिए पढ़ाई शुरू कर दी है। इसके अलावा 35 हजार विद्यार्थियों ने यूजी के और करीब 15 हजार विद्यार्थियों ने पीजी लेक्चर सुने हैं।

दरअसल, कोरोना के कारण ऑफलाइन क्लासेस नहीं लग पा रही हैं, तो विभाग द्वारा बच्चों की पढ़ाई पूरी कराने के लिए यह विकल्प निकाला गया है, जिसे काफी पसंद किया जा रहा है। विभाग ने यूजी-पीजी की सभी संकायों के ऑडियो और वीडियो तैयार कर यू-ट्यूब चैनल पर अपलोड कर दिए हैं। सितंबर और अक्टूबर में करीब ढाई लाख विद्यार्थियों ने सभी लेक्चर को देखा और सुना है। ना सिर्फ उन्होंने उसे सब्सक्राइब कर लिया है, बलिक लाइक भी कर रहे हैं। इस समय दूसरे देशों में बैठे मप्र के विद्यार्थी भी ऑडियो-वीडियो पर कमेंट्स दे रहे हैं। विद्यार्थी घर बैठे ही अपने सब्जेक्ट के ऑडियो और वीडियो देख व सुन सकते हैं। इससे उन्हें अपनी पढ़ाई के लिए स्टडी मटेरियल और क्लासेस पर निर्भर नहीं होना पड़ रहा है।

यूजीसी की गाइडलाइन अनुसार खुलेंगे कॉलेज उच्च शिक्षा मंत्री डॉ मोहन यादव ने यूजीसी की गाइडलाइन मिलने पर दिसंबर से कॉलेज खोलने की घोषणा की है। कोरोना संक्रमण की मौजूदा स्थिति देखकर एआईसीटीई ने एक जनवरी से कॉलेज खोलने की एडवाइजरी जारी की है। इसी तर्ज पर यूजीसी भी कॉलेज खोलने के एडवाइजरी जारी करेगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co