लोकायुक्त ने रायसेन के लेखा शाखा में पदस्थ कर्मचारी को रिश्वत लेते हुए पकड़ा

रिश्वतखोरी का बढ़ता ग्राफ : लोकायुक्त पुलिस ने रायसेन के लेखा शाखा में पदस्थ कर्मचारी को 8 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है।
लोकायुक्त ने रायसेन के लेखा शाखा में पदस्थ कर्मचारी को रिश्वत लेते हुए पकड़ा
पदस्थ कर्मचारी को रिश्वत लेते हुए पकड़ाRaj Express

रायसेन, मध्यप्रदेश। प्रदेश में जहां कोरोना के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं वहीं आपराधिक गतिविधियों का दौर भी जारी है जिसके चलते कई खबरें सामने आती जा रही हैं। इस बीच ही मध्यप्रदेश में लगातार बढ़ता ही जा रहा है रिश्वतखोरी का दुष्चक्र! रायसेन से रिश्वतखोरी के मामले में लोकायुक्त ने पदस्थ कर्मचारी द्वारका को रंगे हाथों पकड़ा है।

पदस्थ कर्मचारी को लोकायुक्त ने रिश्वत हुए किया गिरफ्तार

रिश्वतखोरी का ताजा मामला रायसेन से सामने आया है। बता दें कि लोकायुक्त पुलिस ने जल संसाधन विभाग बाड़ी रायसेन के लेखा शाखा में पदस्थ कर्मचारी द्वारका प्रसाद चौकसे को 8 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है। मिली जानकारी मुताबिक उस पर आरोप है कि विभाग से ही रिटायर्ड कर्मचारी से वह रिश्वत की मांग कर रहा था।

लोकायुक्त एसपी मनु व्यास ने बताया

बताया जा रहा है कि रमेश मीणा जल संसाधन विभाग बाड़ी रायसेन से रिटायर्ड हुए हैं। उन्होंने 25 सितंबर को लोकायुक्त कार्यालय को शिकायत की थी। उन्होंने बताया था कि सेवा निवृति पर प्राप्त होने वाले स्वत्वों का भुगतान अभी तक नहीं हो पाया है । इस कार्य के एवज में लेखा शाखा के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी द्वारका प्रसाद चौकसे रिश्वत मांग रहा है। सोमवार सुबह लोकायुक्त टीम ने जाल बिछाकर चौकसे को 8000 रुपए की रिश्वत लेते हुए दबोच लिया। आरोपी ने साढ़े ग्यारह हजार रुपए की रिश्वत की मांग की थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co