Raj Express
www.rajexpress.co
लोकायुक्त ने पटवारी को रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा
लोकायुक्त ने पटवारी को रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा|Pankaj Yadav
मध्य प्रदेश

खजुराहो: लोकायुक्त ने पटवारी को रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा

राजनगर, खजुराहो: उड़द अफलन की रिपोर्ट लगाने और कूप निर्माण की रिपोर्ट के बदले 5 हजार की रिश्वत मांगने वाला पटवारी रंगे हाथों पकड़ाया। रिश्वत मांगने की शिकायत मिलने पर लोकायुक्त ने छानबीन शुरूकर पकड़ा।

Pankaj Yadav

हाइलाइट्स :

  • 5 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ाया पटवारी
  • कपिल धारा कूप निर्माण कार्य के लिए मांगी थी रिश्वत
  • 10 दिन पहले की शिकायत थी
  • शिकायत मिलने पर लोकायुक्त ने छानबीन शुरूकर पकड़ा

राज एक्सप्रेस। राजनगर तहसील अंतर्गत गोमाकला के हल्का पटवारी को सागर लोकायुक्त की पुलिस ने पांच हजार रूपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया है। कपिल धारा कूप निर्माण में पटवारी प्रतिवेदन लगाने और उड़द की फसल के अफलन की रिपोर्ट लगवाने के बदले पटवारी ने किसान से पैसे मांगे थे। सागर लोकायुक्त में 10 दिन पहले रिश्वत मांगने की शिकायत की गई थी। लोकायुक्त ने जब मामले की छानबीन कर शिकायत को सही पाया तो, डीएसपी राजेश खेेड़े के नेतृत्व में पटवारी को रंगे हाथों गिरफ्तार करने के लिए भेजा गया और अंतत: पटवारी को जाल में फंसाने में लोकायुक्त कामयाब हो गई।

यह है मामला :

गोमाकला के रहने वाले पन्नालाल पटेल ने बताया कि, 8 माह पूर्व कपिलधारा कूप निर्माण के लिए पटवारी ने 10 हजार रूपए की रिश्वत मांगी थी। मोल-तोल कर मामला तीन हजार रूपए में तय हो गया था। अब उड़द की फसल के अफलन की स्थिति में पटवारी रिपोर्ट बनवानी थी, जिस पर हल्का पटवारी रतीराम अहिरवार ने दो हजार रूपए मांगे थे। दोनों रिपोर्टों के पांच हजार रूपए तय हुए थे।

10 दिन पहले की शिकायत:

पन्नालाल ने अपने साथी उमाशंकर पटेल के साथ मिलकर लोकायुक्त सागर जाकर 10 दिन पहले शिकायत दर्ज कराई थी। एसपी रामेश्वर सिंह यादव के निर्देश पर डीएसपी राजेश खेड़े के नेतृत्व में टीम बनाकर कार्यवाही के लिए भेजी गई। सोमवार दोपहर करीब डेढ़ बजे राजनगर के गढ़ी कार्यालय में पन्नालाल पटेल पैसे लेकर जैसे ही गोमा हल्का के पटवारी रतीराम अहिरवार को दिए वैसे ही पीछे से लोकायुक्त की टीम ने उसे दबोच लिया। पटवारी रतीराम का तबादला चन्द्रनगर हल्का के लिए हो गया था नए हल्का में जाने के पहले वह रिश्वत के जाल में फंस गया।